जावद मे आरटीओ बरखा गौड द्वारा पत्रकारों से अभद्रता पर आक्रोशित हुए जावद प्रेस क्लब, दिया ज्ञापन

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

जावद : जिले में मीडिया को हाशिए पर रखने वाले अधिकारी बहुत हैं। उन्हें पता है कि उनके राजनैतिक लोग उनका बचाव कर लेंगे। ऐसे ही विवादास्पद आरटीओ अधिकारी सुश्री बरखा गौड़ ने पत्रकारों के सवालों से बौखलाई में आकर उनका अपमान कर दिया।

हमेशा की तरह अपने कारनामों की वजह से सुर्खियां बटोरने वाली आरटीओ अधिकारी सुश्री बरखा गौड़ जिले के पत्रकारों से न सिर्फ अभद्रता कर दी, बल्कि उन्हें अपने कार्यालय से बहार निकालने तक कह डाला। इस घटना से आक्रोशित पत्रकारो ने एक तरह का रोष देखा जा रहा है।  बुधवार को जिला परिवहन अधिकारी बरखा गौड द्धारा अभद्रता करने पर पुरे नीमच जिला मे चौथा स्तंभ से जुडे पत्रकारो मे रोष व्याप्त है इसके लिए शुक्रवार दोपहर में जावद प्रेस क्लब के सदस्यो ने जावद प्रेस क्लब के अध्यक्ष जगदीश चंद्र न्याति की उपस्थिति मे नीमच रोड स्थित तहसील कार्यालय पर जाकर मुख्यमंत्री के नाम जावद एसडीएम के. के. मालवीय को ज्ञापन सौफा गया।

ज्ञापन मे बताया गया है की 6 फरवरी 2019 वार बुधवार को पत्रकार साथियों द्धारा बाईट लेने व टेक्स चोरी व ओवरलोड द्वारा टेक्स चोरी करने के विषय पर अवगत कराने पर अभद्रता कर अभद्र व्यवहार कर कार्यालय के बाहर जाने व गोपनीय शब्द का प्रयोग करते हुए पत्रकार साथियो के गलत बर्ताव किया है। जावद प्रेस क्लब ने आरटीओ द्वारा जिले के पत्रकारों के प्रति असंयत व्यवहार की तीव्र निंदा करते हुए कहा है कि आरटीओ अधिकारी के पद पर बैठे अधिकारी को पत्रकारों सहित सभी से संवेदनशील व्यवहार की अपेक्षा की जाती है लेकिन यह अत्यंत खेद का विषय है कि जिले की आरटीओ अधिकारी ने अपने पद की गरिमा के विपरीत आचरण करते हुए पत्रकारों के प्रति असंवेदनशील व्यवहार का प्रदर्शन किया है।

ज्ञापन द्वारा आरटीओ अधिकारी सुश्री बरखा गौड़ के खिलाफ कार्रवाई व उनके स्थानान्तरण की मांग की गई है। प्रवक्ता नारायण सोमानी ने कहा की देश सरकार में मीडिया को हाशिए पर रख कर अधिकारी काम कर रहे हैं। लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ को किसी भी घटना अथवा योजना के क्रियाकलापों के सत्यापन या फिर किसी भी समाचार की पुष्टि के समय अधिकारी दरकिनार कर मनमर्जी से कार्य कर रहे हैं। प्रदेश सरकार पत्रकारों के अधिकारों व उनके हितों के बारे में बड़े-बड़े दावे करती है, मगर उसके अधिकारी ही सरकार की मंशा को पलीता लगाने के साथ साथ भष्ट्राचार को बढ़ावा देने में लगे हुए है।

जावद प्रेस क्लब ने इस घटना की निंदा करते हुए आग्रह किया है कि भविष्य में यदि पत्रकारों के प्रति किसी भी स्तर पर दुव्यर्वहार सामने आया तो हर स्तर पर तीव्र विरोध किया जायेगा। इस मामले को प्रदेश मुख्यमंत्री कमलनाथ के संज्ञान में लाकर यह सुनिश्चित करने का आग्रह किया जायेगा कि जल्द से जल्द पत्रकार सुरक्षा कानून अस्तित्व में लाया जाये और हर स्तर पर पत्रकारों की प्रतिष्ठा पर आघात करने वालों, उनका अपमान करने वालों पर समानता के सिद्वांत के तहत कार्रवाई की जाय।

इस अवसर पर वरिष्ठ सदस्य विजय जोशी, नीमच जिला प्रेस क्लब के पुर्व सहसचिव दिलीप सखलेचा, पुर्व कार्यकारणी सदस्य दिपेश जोशी पिन्टु एवं जावद प्रेस क्लब अध्यक्ष जगदीश चंद्र न्याति, सचिव अशोक पाटनी, उपाध्यक्ष सत्यनारायण शर्मा, प्रवक्ता नारायण सोमानी, सुनील धाकड, नोशाद अली, शिवचन्द्र डोरिया आदि उपस्थित थे। ज्ञापन का वाचन जावद प्रेस क्लब के सचिव अशोक पाटनी ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *