अजहर मसूद के भाई समेत जैश के 25 कमांडरों को किया गया ढेर

Spread the love

भारतीय वायुसेना द्वारा मंगलवार को नष्ट किया गया बालाकोट स्थित जैश-ए-मोहम्मद का आतंकवादी शिविर पाकिस्तान के खतरनाक आतंकी शिविरों में शामिल था।  उच्च पदस्थ सूत्रों ने जानकारी देते हुए कहा कि वायुसेना की कार्रवाई में कई शीर्ष आतंकी कमांडर ढेर हुए हैं।

वायुसेना की कार्रवाई के वक्त वहां मौजूद 25 शीर्ष कमांडर, ट्रेनर सहित करीब 300 से ज्यादा आतंकियों के मारे जाने की संभावना जताई गई है।

मसूद का भाई और नजदीकी रिश्तेदार मारे गए

बालाकोट में की गई कार्रवाई में जैश के सेकेंड इन कमांड यूसुफ अजहर के अलावा आतंकी मसूद अजहर का भाई भी मारा गया। जैश के पांच शीर्ष कमांडर सहित 25 मोस्ट वांटेड आतंकियों के ढेर होने का दावा एजेंसियों द्वारा किया जा रह है। मसूद अजहर का बड़ा भाई इब्राहिम अजहर, मौलाना तलहा सैफ, मौलाना मुफ्ती अजहर खान, यूसुफ अजहर, मौलाना अम्मार भारतीय वायु सेना की कार्रवाई में ढेर हुए हैं।

तैयार हो रहे थे सुसाइड बॉम्बर

सूत्रों का कहना है कि आतंकी शिविर में 42 सुसाइड बॉम्बर तैयार किए जा रहे थे। भारत ने पहले जो डोजियर पाकिस्तान को सौंपे थे उनमें भी मसूद के साले और उसके भाई का नाम शामिल था। सूत्रों ने कहा कि पाकिस्तान कितना भी नकारने का प्रयास करे सेटेलाइट मैपिंग और कार्रवाई के बाद हलचल से साफ है कि भारतीय वायुसेना ने उनकी रीढ़ तोड़ने वाली कार्रवाई की है।

हर तरह की सुविधाओं से लैस

बालाकोट नगर से 20 किलोमीटर दूर स्थित इस शिविर का इस्तेमाल युद्ध प्रशिक्षिण के लिए किया जाता था। पाकिस्तानी सेना के पूर्व अधिकारी यहां ट्रेनर के तौर पर आते थे। कई मौकों पर जैश का संस्थापक आतंकी आका मसूद अजहर और अन्य आतंकवादी नेताओं द्वारा यहीं से भड़काऊ भाषण दिये गए थे। हिज्बुल ने भी इसका इस्तेमाल अपने लिए किया। यहां प्रशिक्षण लेने वाले आतंकवादियों के रहने और उनके प्रशिक्षिण के लिए सुविधाएं थीं। यहां जल मार्ग से घुसपैठ की ट्रेनिंग देने के  इंतजाम के अलावा सहित पांच सौ लोगों के रहने की व्यवस्था थी।

पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर हुए आत्मघाती हमले के 13वें दिन भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में घुसकर जैश ए मोहम्मद के आतंकी शिविरों को नष्ट कर दिया। भारतीय वायुसेना के 12 मिराज विमानों ने मंगलवार की सुबह तड़के 3.30 बजे पाकिस्तान के बालाकोट, पाक अधिकृत कश्मीर के चकोटी और मुजफ्फराबाद में घुसकर जैश के शिविरों पर बम गिराकर उन्हें ध्वस्त कर दिया। वायुसेना के विमानों ने आतंकी शिविरों पर 21 मिनट तक एक हजार पौंड बम गिराये। इस कार्रवाई में मौलाना युसुफ अजहर के मारे जाने की खबर है जो जैश का बड़ा ट्रेनर था और इसके सरगना मसूद अजहर का रिश्तेदार था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *