कॉलेज संचालन कर विघार्थियों को लाखों का चूना लगाने वाले फरार व 20,000 रू के इनामी आरोपी, डॉ. रमेश बदलानी को क्राईम ब्रांच इंदौर ने किया दिल्ली से गिरफ्तार

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ www.aninewsindia.com

इन्दौर। ( टीओसी न्यूज़ ) दिनांक 24 मई 2018  शहर में कॉलेज संचालन कर विद्यार्थियों व कॉलेज संचालन में पार्टनर को लाखों का चूना लगाकर फरार आरोपी की गिरफ्तारी हेतु पुलिस उप महानिरीक्षक हरिनारायणाचारी मिश्र द्वारा पुलिस अधीक्षक (मुखयालय) मो.युसुफ कुरैशी को निर्देशित किया गया था। इस पर पुलिस अधीक्षक मुखयालय इंदौर द्वारा उक्त फरार कॉलेज संचालक पर ईनाम घोषित कर, आरोपी की गिरफ्तारी हेतु अति. पुलिस अधीक्षक अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (क्राइम) अमरेन्द्र सिंह के मार्गदर्शन में क्राइम ब्रांच की एक टीम को इस बिन्दु पर कार्य करने हेतु लगाया गया।

इस संबंध में फरार आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु पिछले कई दिनों से लगातार क्राईम ब्रांच द्वारा प्रयास किये जा रहे थे। आरोपी भोपाल, मुंबई, पूना, दिल्ली आदि स्थानों पर काट रहा था फरारी। क्राइम ब्रांच को सूचना प्राप्त हुई थी कि मामले का वांछित आरोपी डॉ. रमेश पिता स्व. प्रभुदास बदलानी निवासी 43 आनंद कॉलोनी मालवीय नगर पेट्रोल पंप के पीछे इंदौर, प्रकरण में फरार होकर भोपाल, मुंबई ,पुणे, नागपुर,दिल्ली, आदि जगहों में फरारी काट रहा था, जो अभी दिल्ली में रूका हुआ है। उक्त सूचना पर क्राईम ब्रांच द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए क्राईम ब्रांच की एक टीम को तत्काल दिल्ली रवाना किया गया।

टीम द्वारा आरोपी के संबंध में प्राप्त सूचना अनुसार बताया गये स्थान पर तलाश किया जहां दिल्ली के एक आलीशान होटल ली सीज़न्स महिपालपुर दिल्ली में आरोपी के छिपे होने की सूचना प्राप्त हुई। जिसको घेराबंदी कर पकड़ा गया एवं तस्दीक हेतु आरोपी को इंदौर लाया गया। आरोपी ने पूछताछ में बताया कि वह अब तक मुंबई, पुणे, भोपाल आदि जगहों पर फरारी काट रहा था एवं आरोपी ने यह भी बताया कि उसका नाम रमेश बदलानी है और वह कॉलेज मार्डन इंस्टिट्‌यूट ऑफ मेडिकल साइंस का संचालक है। उक्त कॉलेज में मेडिकल व नर्सिंग के कई विद्यार्थी पढ़ते हैं।

आरोपी रमेश बदलानी ने सभी विद्यार्थियों से कालेज में प्रवेश के समय 5-5 लाख रू. जमा कराये थे तथा प्रवेश के बाद से ही विद्यार्थियों की कक्षा नहीं लगाई जा रही थी साथ ही कालेज के स्टॉफ को भी वेतन नहीं दिया जा रहा था जिसके चलते सभी विद्यार्थियों व कालेज स्टॉफ ने मिलकर आरोपी डॉ.रमेद्गा बदलानी की शिकायत थाना कनाडिया पर की थी, जिस पर से थाना कनाडिया पर आरोपी के विरूद्ध अपराध पंजीबद्ध किया जाकर विवेचना में लिया गया था। आरोपी पर अपराध पंजीबद्ध होने के समय से ही आरोपी रमेश बदलानी इंदौर शहर से फरार हो गया था एवं काफी दिनों तक जगह बदल बदल कर फरारी काट रहा था।

आरोपी डॉ. रमेश बदलानी ने पूछताछ में बताया की उसने सन्‌ 1969 में शासकीय डेंटल कालेज इंदौर से बीडीएस की डिग्री प्राप्त की इसके बाद बर्तन बाजार इंदौर में उसने एक डेंटल क्लीनिक खोला था। आरोपी सन्‌ 1977 में अमेरिका गया जहां परीक्षा देकर वहां के प्रायवेट अस्पताल में डेंटिस्ट का काम किया उसके बाद पुनः इंडिया आकर अपना क्लीनिक शुरू किया तथा बाद में पुनः वह अमेरिका गया और सन्‌ 1999 में अमेरिका से इंडिया आकर मार्डन डेंटल कालेज खोला उसके बाद सन्‌ 2014 में डेंटल कॉलेज की मान्यता मिली एवं 2016 में मान्यता खत्म हो गई एवं पुनः नहीं मिली।

आरोपी ने पूछताछ में बताया कि उसका गांधी नगर इंदौर स्थित एक डेंटल कॉलेज भी है जिसका संचालन आरोपी डॉ. रमेश बदलानी द्वारा किया जा रहा है। आरोपी डॉ रमेश बदलानी द्वारा विद्यार्थियों व कॉलेज स्टॉफ के साथ लाखों की धोखाधड़ी कर फरार होने पर आरोपी पर थाना कनाडिया इंदौर में अपराध क्रमांक 155/18 धारा 420,406 भादवि का अपराध पंजीबद्ध किया गया था। फरारी के दौरान आरोपी की गिरफ्तारी हेतु डीआईजी इंदौर द्वारा आरोपी पर 20,000 रू का ईनाम भी घोषित किया गया था।

इसके अतिरिक्त जानकारी प्राप्त हुई कि जिला सिरोही राजस्थान के थाना स्वरूपगंज में अपराध क्रमांक 11/18 धारा 420, 120 बी भादवि का अपराध भी आरोपी पर पंजीबद्ध है। जिसमें करीब 80 लाख रू. की धोखाधड़ी आरोपी डॉ. रमेश बदलानी द्वारा की गई है जिसके बारे में आरोपी से विस्तृत पूछताछ की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *