मुरैना लोकसभा कांग्रेस के प्रत्याशी रामनिवास रावत के भाई के प्रभाव वाले वैरियर पर लाखो की अवैध वसूली

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

  • खरई चैक पोस्ट पर हथियारो के साये में होती है ट्रक चालको से उगाही, जिले से लेकर प्रदेश तक बंट रहा बटोना
  • मुरैना लोकसभा कांग्रेस के प्रत्याशी रामनिवास रावत के भाई के प्रभाव वाले वैरियर पर लाखो की अवैध वसूली
  • कहीं अवैध वसूली के पैसे को लोकसभा चूनाव में खपाने की साजिश तो नही…???

कोलारस // मोनू प्रधान : 9770093700

कोलारस – प्रदेश में कांग्रेस सरकार बनने से पहले कांग्रेसी नेताओ से सुना था की कांग्रेस आने के बाद भ्रष्टाचार पर पुर्णता रोक लगाई जाएगी। लेकिन सत्ता आने के बाद नोटो की चमक ने पुराने वादो को फीका कर दिया है। प्रदेश में कांग्रेस सरकार बने अभी ज्यादा समय भी नही हुआ है की प्रदेश के दिग्गज नेताओ ने अपना रंग दिखाने शुरू कर दिये है। स्थानांतरण के जाल में फंसी प्रदेश कांग्रेस विपक्ष द्वारा उठाए जा रहे स्थानांतरण के सवालो पर बेकफुट पर नजर आ रही है।

वहीं विपद्वा लगातार अवाज उठाता रहा है की कांग्रेसी नेता मलाई वाले स्थानो पर अपने चहेतो और परिवार वालो को स्थानांतरण कराकर उनके द्वारा करोड़ो की वसूली कराई जा रही है। जी हां हम बात कर रहे है ऐसे ही एक मामले की जहां कोलारस विधानसभा अंर्तगत आने वाले खरई चैक पोस्ट पर सामने आया है जहां जिले के कुछ अधिकारी स्थानीय गुंडो की मदद से खरई चैक पोस्ट पर दिन रात उगाही कर लाखो के बारे न्यारे कर रहे है।

विशवसनीय सुत्रो से मिली जानकारी के अनुसार खरई चैक पोस्ट पर परिवहन विभाग के कुछ आला अधिकारीयो की सरपस्ति में खरई चैक पोस्ट प्रभारी आरपी रावत के संरक्षण में उनके रिश्तेदारो और प्रईवेट गुडो के द्वारा लगातार वाहन चालको से कागज चैकिंग के नाम पर उगाही की जा रही है। बताना होगा की खरई चैक पोस्ट प्रभारी आरपी रावत सिंधिया खेमे के कद्दावर नेता और मुरैना लोकसभा प्रत्याशी के भाई भी है।

ऐसे में यह कयास लगाए जा रहे है की खरई चैक पोस्ट पर होने वाली लाखो की अवैध वसूली की काली कमाई को मुरैना चुनाव में खपाई जा सकती है। कुछ लोग अब इस मामले को लेकर चुनाव आयोग में शिकायत करने के मुड में है। अगर इस पूरे मामले की जांच की जाए तो स्थानीय परिवहन विभाग कि सबसे ज्यादा संलिप्ता सामने आएगी। और आने वाला चुनाव निष्पक्ष रूप् से सम्पन्न हो सकेगा।

कार्यवाही का डर दिखाकर कि जाती है अवैध वसूली, उपर तक बंटता है बंटोना

ठीक बिहार की तर्ज पर यहाँ समानान्तर व्यवस्था स्थापित कर ली जाती थी गुण्डा तत्व अपने गुर्गों कटरो के मार्फत नाके के केन्द्रीय मार्ग कब्जा लेते थे फिर होता था वसूली का दौर शुरू। यह पूरा नेटवर्क जिले के परिवहन विभाग कि एक कार में बैठकर संचालित हो रहा है। जिसका डर दिखाकर वाहन चालको से अवैध उगाही की जाती है पहले तो वाहन चालक अपनी मर्जी से ईंट्री देता है तो ठीक है नही तो नाके पर मौजूद कटर परिवहन विभाग के वाहन का डर दिखाकर चालको पर दबाब बनाया जाता है और दबाब बनाकर अवैध रूप से वसूली की जाती है। इसका बटोना जिले के कुछ भृष्ट प्रशासनिक अफसरों के साथ संभाग एवम प्रदेश तक बटोना बांटा जा रहा है।

हमेशा विवादो में रहा है चैक पोस्ट, अवैध कारोबर

खरई वैरियर पर होने वाली अवैध वसूली का काला खेल हमेशा से विवादित रहा है। अवैध वसूली के कारण  एक युवक ने कुंए में गिरकर अपनी जान गवांई थी जिसमें खरई बैरियर के पूर्व प्रभारी शशि भारद्वाज पर आत्महत्या उत्प्रेरण का मामला भी दर्ज हो चुका है। इसके बाद खरई बैरियर पर सिंधिया निष्ठ और कांग्रेस के कद्वावर नेता लोकसभा से मुरैना सांसद प्रत्याशी रामनिवास रावत के भाई चैक पोस्ट पर प्रभारी है। जिनके द्वारा दिन रात लाखो के बारे न्यारे किये जा रहे है। बताया जाता है की रोज लाखो रूपए की अवैध वसूली चैक पोस्ट से की जा रही है। यह सब कुछ प्रशासन कि नाक के नीचे खेला जा रहा है और करोड़ो कि अवैध वसूली कि जा चुकी है।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *