अलवर गैंगरेप की घटना पर क्यों शांत बैठे हैं अवॉर्ड वापसी करने वाले लोग : नरेंद्र मोदी

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036

राजस्थान में दो चरणों में 29 अप्रैल और 6 मई को चुनाव थे। ये घटना 25 अप्रैल की है। पुलिस करीब 12 दिनों बाद इस मामले में पहले आरोपी को पकड़ पाई थी। 

पीएम ने आरोपियों को पकड़ने में हुई देरी का जिक्र करते हुए कहा, “इनके रागदरबारी भी इतने भयंकर कांड को दबाते रहे और मोमबत्तियां लेकर निकलने वाले लोगों की मोमबत्तियों से धुआं निकल रहा है। ये जो अवॉर्ड वापसी गैंग थी, मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि अलवर की बेटी के साथ बलात्कार होने पर भी आपकी गैंग चुप क्यों बैठी है। हमारी सरकार ने बलात्कार जैसे जघन्य अपराध के लिए फांसी तक की सजा का प्रावधान किया है। महिला हितों और महिलाओं की सुरक्षा के प्रति हम पूरी तरह संवेदनशील हैं।”

गाजीपुर की रैली के दौरान अपने भाषण में विपक्ष पर निशाना साधते हुए पीएम ने कहा पांच साल के कार्यकाल में हमारी सरकार ने महिलाओं को इज्जत दिए हैं और हमारी सरकार ने रेप जैसे जघन्य अपराध के लिए फांसी का प्रावधान किया है। लेकिन महिला सुरक्षा के लिए कांग्रेस कैसे काम कर रही है, वह देश देख रहा है?

यही कांग्रेस के न्याय की सच्चाई है: PM

पीएम ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, ‘बीते तीन दिनों से अलवर की एक खबर बाहर आने लगी है। वहां दो हफ्ते पहले एक दलित लड़की के साथ कुछ दरिंदों ने बलात्कार किया। लेकिन इन दरिंदों को पकड़ने के बजाय वहां कि पुलिस और कांग्रेस सरकार केस दबाने में जुट गई। कांग्रेस नहीं चाहती थी कि चुनाव से पहले यह खबर बाहर आए और इसीलिए यह खबर दबाना चाहते थे। जिस बेटी को न्याय मिलना चाहिए था, उसे न्याय दिलाने के बजाय कांग्रेस चुनाव में साख बचाती रही। यही कांग्रेस के न्याय की सच्चाई है।’

अवॉर्ड वापसी गैंग पर पीएम मोदी का कटाक्ष

भाषण में मोदी ने आगे कहा, ‘इनके रागदरबारी भी इतने भयंकर कांड को दबाते रहे और मोमबत्तियां लेकर निकलने वाले लोगों की मोमबत्तियों से धुआं निकल रहा है। ये जो अवार्ड वापसी गैंग थी, मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि अलवर की बेटी के साथ बलात्कार होने पर भी आपकी गैंग चुप क्यों बैठी है?’


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *