लोकसभा निर्वाचन-2019 : राज्य निर्वाचन आयोग से आए पदाधिकारियों की उपस्थिति में दिया गया प्रशिक्षण

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

जिला ब्यूरो चीफ रायगढ़  // उत्सव वैश्य : 9827482822 

रायगढ़, लोकसभा निर्वाचन 2019 के लिए 23 मई को होने वाले मतगणना के संबंध में आज कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में मतगणना प्रशिक्षण का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री समीर विश्रोई, कलेक्टर जशपुर श्री निलेश कुमार महादेव क्षीरसागर, प्रभारी कलेक्टर रायगढ़ श्री सुखनाथ अहिरवार, उप मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री आशीष कुमार टिकरिहा, श्री मनीष मिश्रा सहायक मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, नेशनल लेवल मास्टर टे्रनर श्री पुलक भट्टाचार्य, जिला पंचायत सीईओ रायगढ़ श्रीमती चंदन संजय त्रिपाठी, जिला पंचायत सीईओ जशपुर श्री राजेन्द्र कुमार कटारा, उप जिला निर्वाचन अधिकारी रायगढ़ श्री आर.एस.कुरूवंशी, उप जिला निर्वाचन अधिकारी जशपुर श्री आई.एल.ठाकुर एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

श्री मनीष मिश्रा ने कहा मतगणना के दौरान पोस्टल बैलेट, ईटीपीबीएस (इलेक्ट्रानिक ट्रांसमिटेड पोस्टल बैलेट सिस्टम), सीयू एवं व्हीव्हीपीटी के मतपत्रों की गणना होगी। ईटीपीबीएस के क्यूआर कोड का स्केनिंग होने के बाद स्केन का क्रमांक लिखा जाएगा। स्केनिंग का कार्य समाप्त होने पर सामान्य पोस्टल बैलेट के समान मतगणना की जाएगी। उन्होंने कहा कि ईटीपीबीएस के क्यूआर कोड की स्केनिंग करने का कार्य टेक्निकल है। क्यूआर कोड स्केन करने के लिए अच्छी टीम बनाएं। उन्होंने कहा कि मतगणना के दृष्टिकोण से यह प्रशिक्षण महत्वपूर्ण है और सभी अधिकारियों की अलग-अलग महत्वपूर्ण भूमिका है।

मतगणना में सभी अधिकारियों का आपसी समन्वयक एवं सहयोग अच्छा होना चाहिए। उन्होंने मतगणना व्यवस्था, वैधानिक प्रावधान, आधारभूत संरचना, सुरक्षा व्यवस्था, गणनाकर्मी एवं गणना अभिकर्ता, डाकमत पत्रों की गणना ईव्हीएम में दर्ज मतपत्रों की गणना आदि के संबंध में चर्चा की। टेबुलेशन अच्छी तरह होना चाहिए। ईव्हीएम एवं अन्य प्रपत्रों की सीलिंग के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा नामित सीलिंग स्टाफ होगा। ईव्हीएम एवं -सीयू को टेबल में ले जाते वक्त परिवहन के लिए भी अधिकारी नियुक्त करें एवं चार्ट बनाकर रखें। किस टेबल में कौन से राउंड में कौन सी मशीन आएगी यह सुनियोजित होना चाहिए।

रनर का कार्य होगा कि प्रत्येक राउंड के गणना की फोटोकापी सभी अभिकर्ता को देगा। उन्होंने कहा कि डाक विभाग के प्रतिनिधि पहले से चिन्हित कर लें। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए मजिस्टे्रट की ड्यूटी लगाए। बीएसएनएल एवं टेक्नीशियन की व्यवस्था सुनिश्चित कर ले। सीएसईबी के टेक्नीशियन विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करेंगे। विद्युत निर्बाध रूप से चालू रखने की व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि मतगणना स्थल में रोशनी की पर्याप्त व्यवस्था होनी चाहिए। पेयजल एवं शौचालय सहित अन्य जरूरी व्यवस्था की जानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि गणना के कार्य में गणना प्रेक्षक, गणना सहायक, ईव्हीएम एवं ईटीपीबीएस ग्रुप डी कर्मी डीआईओ, डाटा एन्ट्री आफिसर, सीलिंग स्टाफ एवं अन्य सभी संबंधित अधिकारी रहेंगे। उन्होंने साउंड विडियोग्राफी, मीडिया सेंटर, अग्निशमन दल, टेन्ट कर्मी, पीडब्ल्यूडी के कार्यों के संबंध में भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि इंटरनेट कनेक्टिविटी अच्छी होनी चाहिए एवं सभी आवश्यक सामग्री उपलब्ध होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 के तहत धारा 128 महत्वपूर्ण है। इसके तहत मतदान की गोपनीयता बनाए रखना जरूरी है। इसका उल्लंघन होने पर तीन माह का कारावास या जुर्माना या दोनों से दण्डनीय होगा।

नेशनल लेवल मास्टर टे्रनर श्री पुलक भट्टाचार्य ने कहा कि स्ट्रांग रूम में एक मजिस्ट्रेट एवं पुलिस के अधिकारी की ड्यूटी लगेगी। मतगणना केन्द्रों में आधारभूत संरचना होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि मतगणना केन्द्रों में सुरक्षा व्यवस्था के लिए जरूरी मापदण्डों का पालन करना जरूरी है। उन्होंने कहा कि सभी महत्वपूर्ण गतिविधियों की विडियोग्राफी होगी। गणना हाल में प्रवेश की अनुमति प्राप्त व्यक्ति ही शामिल होंगे। उन्होंने उपस्थित सभी अधिकारियों के जिज्ञासाओं का समाधान किया। इस अवसर पर सहायक रिटर्निंग अधिकारी, पोस्टल बैलेट के लिए सहायक रिटर्निंग अधिकारी, मास्टर टे्रनर श्री राजेश डेनियल एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *