सहायक कलेक्टर मयंक चतुर्वेदी को जान से मारने का प्रयास करने वाला खनिज माफिया अमृत पटेल ओडिशा से दबोचा गया, जिसकी जानकारी पुलिस अधीक्षक ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके दी…

Spread the love

रायगढ़। पिछले दिनों सहायक कलेक्टर व उनकी टीम के ऊपर जानलेवा हमला करवाया जिससे सहायक कलेक्टर मयंक चतुर्वेदी और उनकी टीम को वहा से जान बचा कर भागना पड़ा , कई दिनों से पुलिस उसके पीछे पड़ी थी पर उसका कोई सुराग नई मिल पा रहा था जिससे परेसान होकर, पुलिस अधीक्षक ने उसके ऊपर पांच हजार रुपए का इनाम रखा, ओडिशा के बॉर्डर रेंगलपाली में अमृत पटेल के छुपे होने की जानकारी पुलिस के खबरी ने दी जिससे रायगढ़ की पुलिस की टीम ने तत्काल वहा जा कर छापा मार कर कार्यवाही की और अमृत पटेल को धर दबोचा

विदित है कि आरोपी के विरूद्ध सहायक कलेक्टर श्री चतुर्वेदी पर जानलेवा हमला करने सहित अन्य कई मामले थाना सारंगढ़ में पूर्व से पंजीबद्ध है । जिनमें – वर्ष 2002 में 179/02 धारा 147,148,149 ता.हि., 182/02 धारा 509,294 ता.हि. वर्ष 2013 में 42/13 धारा 186,188 ता.हि. वर्ष 2014 में 159/14 धारा 294,506, 323,341, 427 ता.हि. वर्ष 2018 में 477/18 धारा 379 ता.हि. 4(21) खनिज अधिनियम के मामले में आरोपी को पूर्व में गिरफ्तार कर प्रकरण का चालान माननीय न्यायालय प्रस्तुत किया जा चुका है। ये तथा माननीय न्यायालय में विचाराधीन है ।

इस वर्ष 2019 आरोपी के विरुद्ध दिनांक 11-12.04.19 के दरमियानी रात सहायक कलेक्टर व उनकी टीम पर हमला करने के मामले में 195/19 धारा 186,332,353,307, 294,506,34 ता.हि. विद्युत चोरी का अपराध 198/19 धारा 135 विद्युत अधिनियत तथा अवैध विस्फोटक पदार्थ उपयोग करने के संबंध में 206/19 धारा 5 विस्फोटक अधिनियम के तहत कार्यवाही किया गया है, जिसमें आरोपी की गिरफ्तारी की जानी थी ।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *