मां की पिटाई के खौफ से 6 वर्षीय मासूम ने छोड़ा घर आमला स्टेशन पर मांग रही थी भीख

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

बैतूल संवाददाता // अशोक झरबड़े  : 9424554933

ग्राम पंचायत कामथ की स्थिति बदहाल गैरकानूनी गतिविधियों का बना अड्डा

मुलताई – माँ शब्द सुनते ही जहां ममता और प्यार का स्वतः ही आभास होने लगता है वही एक घटना पवित्र नगरी से लगे कामथ पंचायत में ऐसी हुई एक माँ के खौफ से 6 वर्षीय नन्ही सी बेटी को घर छोड़ कर भीख मांगने को मजबूर होना पड़ा। घटना अनुसार ग्राम पंचायत कामत जो मुलताई शहर से जुड़ा है.

वहां के निवासी रामेश्वर उईके एवं उनकी पत्नी सुमत उईके की 6 वर्षीय पुत्री रानी अपनी मां की पिटाई के खौफ से 2 मई 2019 को घर छोड़कर भाग गई। रानी ट्रेन मैं चढ़कर आमला स्टेशन पर उतर गई और वहां भूख लगने पर भीख मांगने लगी। लगभग 12 दिनों तक वह स्टेशन पर भीख मांग कर अपना पेट भरने लगी फिर अचानक सीआरपीएफ के एक जवान की नजर उस पर पड़ी जवान उसे थाने लेकर आया और उससे पूछताछ की।

जब रानी ने कुछ भी नहीं बताया तब जीआरपीएफ ने उसे बैतूल बाल कल्याण समिति को सौंप दिया। जहां चार दिन बाद रानी ने अपने बारे में बताया कि वह मुलताई की रहने वाली है और उसकी मां उसे बड़े बेरहमी से पीटती है यहां तक की एक बार माँ ने लकड़ी से मारकर उसका पैर तोड़ दिया था। रानी का पता मिलने पर बाल कल्याण समिति बैतूल के अध्यक्ष प्रशांत मांडवीकर एवं सेवा भारती के अतुल व्यास शनिवार को उसे लेकर मुलताई पहुंचे, जहां उन्होंने रानी को उसके पिता के हवाले किया।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *