मासूम बच्ची की रेप के बाद हत्या, किस दरिंदगी से बच्ची को मारा गया आपका खून खौल उठेगा

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036

यूपी के अलीगढ़ में ढाई साल की मासूम टिंकल की मौत की खबर सात दिन से देश भर की सुर्खियों में है. इस जघन्य हत्याकांड ने लोगों के रौंगटे खड़े कर दिए हैं और सोशल मीडिया पर मासूम टिंकल को न्याय दिलाने के लिए मुहिम शुरू की गई है.

नामी फिल्मी सितारे और अनगिनत बड़ी हस्तियों ने अपने ट्विटर एकाउंट से टिंकल को न्याय दिलाने की आवाज उठाई है. शुक्रवार तड़के तक ऐसे करीब 70 हजार ट्वीट पर अलीगढ़ पुलिस ने रीट्वीट किया है और अब तक हुई पुलिस कार्रवाई से लोगों को अवगत कराया है.

इसे भी पढ़ें :- मासूम बच्ची का अपहरण के बाद रेप और हत्या, 5 पुलिसकर्मी निलंबित

आपको बता दें कि इस मामलेकी जाँच के लिए यूपी पुलिस ने एसआईटी गठित कर दी है. इससे मामले की जांच में तेजी आने के आसार है. वहीं एसएसपी आकाश कुलहरि ने एसआईटी का गठन, एसपी देहात मणिलाल पाटीदार के नेतृत्व में सीओ खैर पंकज श्रीवास्तव के पर्यवेक्षन में 4 विवेचक जांच करेंगे। इन्हें 15 से 20 दिन में मामले को लेकर रिपोर्ट देनी होगी। विवेचकों में इन्स्पेक्टर टप्पल, इंस्पेक्टर महिला थाना सहित 4 इंस्पेक्टर शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें :- यूपी से अहमदाबाद जेल जाते समय अतीक की जेब में दिखी ऐसी चीज़, प्रशासन में मचा हड़कंप

वहीं इसे लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट करते हुए भारी दुःख जताया है. राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा ‘यूपी के अलीगढ़ में एक छोटी बच्ची की भयानक हत्या ने मुझे झकझोर कर रख दिया है. कोई भी इंसान इतनी बर्बरता के साथ ऐसा कैसे कर सकता है? इस मामले को लेकर यूपी पुलिस को तेजी से कार्रवाई करनी चाहिए.’

इसे भी पढ़ें :- युवती ने किया सीएम योगी की प्रेमिका होने का दावा, पहुंची CM आवास

वहीं प्रियंका गांधी ने लिखा ‘अलीगढ़ की मासूम बच्ची के साथ हुई अमानवीय और जघन्य घटना ने हिलाकर रख दिया है. हम ये कैसा समाज बना रहे हैं? बच्ची के माता-पिता पर क्या गुजर रही है ये सोचकर दिल दहल जाता है. अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए. गौरतलब हो बच्ची 30 मई को लापता हो गई थी, जिसके बाद उसके परिजनों ने उसे बहुत खोजा लेकिन वह कहीं नहीं मिली. इसके बाद परिजन थाने गए तो पुलिस ने 31 मई को गुमशुदगी दर्ज की.

इसे भी पढ़ें :- मालेगांव हमले की मुख्य आरोपी साध्वी प्रज्ञा एनआईए अदालत पहुंची, जज ने पूछे सवाल तो बोलीं ‘मुझे कुछ नहीं पता’

आपको बता दें इस मामले को लेकर गुमशुदगी देरी से लिखने के अलावा, बच्ची की खोज में और हत्या होने पर आरोपियों की गिरफ्तारी में लापरवाही सामने आई है. इस मामले में अभी तक टप्पल के निवर्तमान इंस्पेक्टर समेत पांच पुलिसकर्मी निलंबित किए जा चुके हैं.

अब तक की कार्रवाई
31 मई को मुकदमा दर्ज किया, 2 जून को बच्ची की लाश मिली
4 जून को दो आरोपी गिरफ्तार, इंस्पेक्टर लाइन हाजिर
6 जून को इंस्पेक्टर सहित 5 पुलिसकर्मी सस्पेंड किये गए
3 पुलिस की टीमें अभी कस्बे में घटना के अन्य सबूत तलाशने में जुटी हैं

इसे भी पढ़ें :- दो पक्षों में खूनी संघर्ष , गांव बना पुलिस छावनी, विवाद में तलवारे और पत्थरो से हुआ हमला

सोशल मीडिया पर इन दिनों टप्पल की मासूम बच्ची टिंकल की मौत के बाद उसकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर लोग सवाल कर रहे हैं. उसमें जिस तरह चोटों का उल्लेख है और शव गलने जैसी बातें लिखी गई हैं. उनके आधार पर सोशल मीडिया पर लोग लिख रहे हैं कि किस दरिंदगी से बच्ची को क्यों मारा गया. उसका किसी ने क्या बिगाड़ा था.


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *