ग्रेसिम उद्योग के पावर हाउस गेट पर 11 साथियों सहित मालपानी उपवास पर बैठे

Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567

नागदा- ग्रेसिम प्रबंधक से अपनी उचित मांगो को मनवाने के लिये एवं अपने अधिकारों के लिये लड़ने हेतु आप सभी मजदूर साथियो को जागरूक होकर एकजूट होना होगा। आज हम हमारे 11 साथियों सहित उद्योग गेट के बाहर 8 घंटे के सामूहिक उपवास पर बैठे है और कल 15 जून को आप सभी श्रमिक साथी एक दिवसीय केन्टीन का बहिष्कार करे।

उक्त संबोधन म.प्र. कांग्रेश कमेटी सदस्य बसंत मालपानी ने ग्रेसिम समझौता 2019 में हो रही देरी एवं श्रम संगठनों के मांगपत्र सार्वजनिक करने को लेकर श्रमिकों में जागरूकता एवं एकजुटता लाने के उद्देश्य से 11 साथियों के साथ दिनांक 14 जून शुक्रवार को सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक ग्रेसिम पावर हाउस गेट के सामने 8 घंटे का उपवास के दौरान दिया।

उपवास समाप्त होने के पूर्व नायब तहसीलदार सलोनी पटवा को अनुविभागीय अधिकारी नागदा के नाम एक ज्ञापन पत्र भी सौपा गया जिसकी प्रतिलिपि श्रमायुक्त इन्दौर को भेजी गई जिसमें यह मांग करी कि  ठेका श्रमिको की मासिक पगार 18 से 20 हजार रूपये हो।, ठेका श्रमिकों को 20 प्रतिशत बोनस मिले। 20 प्रतिशत ठेका श्रमिको को स्थायी किया जावे। मान्यताप्राप्त ट्रेड युनियनों के पदाधिकारियों के प्रत्यक्ष चुनाव हो। जिन मजदूरों को 10 साल हो गये है उन्हें स्थायी किया जावे। बाहरी मजदूरों के कारण स्थानीय मजदूरों को ब्रेक दिया जाता है वहीं रिटर्न भी की जाती है। स्थानीय श्रमिको का ब्रेक व रिटर्न बंद करे। बाहरी ठेकेदार बाहर से मजदूर लाना बंद करें।

स्थानीय लोगों को रोजगार दे। समान कार्य, समान वेतन, समान सुविधा की बात हो। जनसेवा अस्पताल को बीमा अस्पताल से लिंक किया जावे। हेलमेट, जूते, कपड़े, स्वेटर, सभी को एक जैसी अच्छी क्वालिटी के मिले। बोनस पर से सीलिंग हटाई जावे। ठेका श्रमिकों को उद्योग से लोन की सुविधा मिले। सीएस 2 ठेका श्रमिकों को गैस अलाउंस मिले। ट्रेड यूनियन के पदाधिकारी जो समझौते में बैठते है वे उद्योग में कार्यरत श्रमिक ही हो। ठेका श्रमिकों के बच्चों को भी ग्रेसिम के स्कूलों में फीस में छूट मिले। यूनियन के चंदे की रसीद एक हो।

बाईट- बसंत मालपानी सदस्य प्रदेश काग्रेस

ताकि श्रमिको से भेदभाव ना हो सके। समझौता जब संयुक्त ट्रेड युनियन के नाम से कहा जाता है तो रसीद भी एक होना चाहिये। 10 हजार के मासिक वेतन में व 15 हजार एलाउंस में टोटल 25 हजार की बढोतरी हो। ग्रेज्यूटी को 15 लाख रू किया जावे। बिडला मंदिर व जनसेवा गार्डन में काम करने वाले श्रमिको का ब्रेक व रिटर्न बंद हो। कार्ड पंच करवाया जाये और सबसे महत्वपूर्ण कि समझौता मजदूर हित में जल्द से जल्द किया जावे। नहीं तो उग्र आंदोलन किया जावेगा।

इन्होने किया उपवास- प्रदेश कांग्रेस सदस्य बसंत मालपानी, युवा कांग्रेस विधानसभा उपाध्यक्ष कमल आर्य, जिला युवक कांग्रेस महासचिव रामकिशोर भाटी, जिला कांग्रेस संगठन मंत्री चेतन नामदेव, कांग्रेस पिछड़ा वर्ग नागदा ग्रामीण अध्यक्ष अनिल भाट, श्रवण सोलंकी, नितेश गोयल, लक्ष्मण चैधरी, राजेश सिया, जितेन्द्र चैधरी, धीरज बोरासी, श्रवण परमार ने उपवास किया। इस मौके पर अशोक परांजपे, जसवन्त राठौर, सचिन सरोज, आसिफ शेख, राजेश चन्द्रवंशी सहित अनेक कार्यकर्ता उपस्थित थे।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *