जब पत्रकार ही सुरक्षित नहीं तो आम जनता का क्या होगा साहब ?

Spread the love

जबलपुर : कहते है की जब रक्षक ही भक्षक बन जाये तो जनता किसका दरवाजा न्याय के लिए खटखटाएगी लेकिन यहाँ पर आम जनता की आवाज को प्रसासन तक पहुँचाने वाले एक पत्रकार के पूरे परिवार पर एक नगर सैनिक द्वारा हमला किया गया इतना ही नहीँ इस मामले की जानकारी व लिखित शिकायत थाना सिहोरा ,एसडीओपी से लेकर पुलिस कप्तान अमित सिंह को पत्रकारों द्वारा दी गई लेकिन अभी एक हफ्ते होने जा रहे है पत्रकार को न्याय नहीं मिला बल्कि अंदर से ये खबर आ रही है की पत्रकार पर ही सिहोरा पुलिस ने एकतरफा मामला दर्ज कर लिया है साथ ही पहले से ही दहसत में पत्रकार के परिवार पर पुलिस की एकतरफा कार्यवाही कहां का न्याय है ? ऐसे में कानून से एक आमआदमी का भरोसा उठ जाएगा क्या कमलनाथ सरकार में ऐसी मनमर्जी चलेगी ?क्या न्याय अब आम लोगों की पहुँच से दूर हो गया है ये तमाम तरह के सवाल आज पत्रकारो ही नहीँ आमजनता के दिलोदिमाक में उठ रहे है

ये है मामला :

मामला सिहोरा थाना क्षेत्र का है जहां पर शुक्रवार जन्माष्टमी की रात आठ बजे के लगभग सिहोरा थाना में पदस्थ नगर सैनिक कृष्ण कुमार भट्ट व उसके साथियों नरेंद्र सिंह ठाकुर ,भोलू भट्ट अतुल पटेल व उसकी पत्नी द्वारा पहले तो पत्रकार के घर के सामने गेती से गढ्ढा किया गया ताकि पानी उसके घर पर चला जाये और घर गिर जाए मना करने पर न केवल पत्रकार पवन यादव पर अश्लील गालीगलौच करते हुए हमला किया गया बल्कि उनकी पत्नी और पूरे परिवार पर हमला किया गया इतना ही नहीँ जान बचाकर पत्रकार जब घर के अंदर चले गए तो उनके घर के दरवाजे को तोड़ने गैती मारी गई और पेट्रोल डालकर आग लगाने की धमकी दी गई यदि मोहल्ले वाले गेती न छुड़ाते तो बड़ी अनहोनी हो सकती थी इस घटना की जानकारी एस पी अमित सिंह को पत्रकारों ने लिखित शिकायत दी थी ताकि निष्पक्ष और उचित कार्यवाही हो सके जिसपर एसपी ने ए एसपी ग्रामीण राय सिंह नरवरिया को जांच के लिए निर्देशित किया था लेकिन घटना के एक हफ्ते होने जा रहे है अभी तक जांच की बातें ही अधिकारियों के मुंह से सुनने को मिल रही है न तो निष्पक्ष जांच हो रही न ही उसको न्याय मिल पा रहा है

सिहोरा में अंगद के पैर की तरह जमा है नगर सैनिक

वहीँ इतनी बड़ी घटना को अंजाम देने वाले नगर सैनिक की हिम्मत इसलिए बढ़ गई क्योंकि वह सिहोरा अनुभाग में 10 -12 सालों से जमा हुआ है और वर्तमान में सिहोरा थाना में पदस्थ है जिसके चलते स्थानीय पुलिस सरंक्षण के चलते नगर सैनिक कृष्ण कुमार भट्ट ने पुलिस के सामने सभी पत्रकारों को यह कहते हुए अश्लील गाली गलौच की गई वह पुलिस वाला है और उसे नेताओ का सरंक्षण प्राप्त है

इनका कहना है ,में अभी शांति समिति की बैठक में व्यस्त थी जांच करने जाऊँगी

एसडीओपी सिहोरा, भावना मरावी


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *