50 की उम्र के बाद पुलिसकर्मी तनाव में करते है ड्यूटी ,राहत दे सरकार

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567

नागदा। पुलिस महकमे में काम करते हुवे जवान 50 की उम्र तक आते-आते तनावग्रस्त हो जाता है ऐसे हालात में वह ना तो अपने फर्ज के साथ न्याय कर पाता है और ना ही अपने स्वास्थ्य को ठीक रख पाता है ऐसे हालातों में सरकार उन्हें रिलैक्स देकर राहत के इंतजाम करें तो पुलिस महकमे में चुस्त-दुरुस्त युवाओं के आने से अपराधों की रोकथाम में कमी आएगी।

पुलिस विभाग के दबेे हुए सुर में यह कहते हुए सुना जा सकता है और दर्द देखा जा सकता है पुलिस विभाग के कई पुलिसकर्मी कर्मचारी यह कहते हुए अपना दर्द बताते हैं कि हमको पुलिस की ड्यूटी करते हुए सेवा निर्वत पहले 58 वर्ष में किया जाता था फिर 60 वर्ष की अवधि हुई  औऱ फिर 62 वर्ष हुई और अब सरकार 65 वर्ष पर विचार कर रही है पुलिस कर्मियों को सेवा निव्रत  पुलिसकर्मियों का कहना है कि हमको 58 वर्ष 60 वर्ष में ही सेवा निव्रत कर देना चाहिए क्योंकि 50 वर्ष की उम्र के बाद शरीर में कई प्रकार की बीमारियां आ जाती हैं और फिर फील्ड में तेजी से पुलिसकर्मियों को काम करने में बड़ी समस्या कई प्रकार की आती है

साथ ही जो अपेक्षाएं और उम्मीद सरकार की रहती हैं वह उस उम्मीद के अनुसार 50 – 55 वर्ष की उम्र के बाद पुलिसकर्मी नहीं कर पाते हैं समस्याएं होती हैं साथ ही अगर 60 वर्ष 62 वर्ष में पुलिस कर्मियों को सेवा निर्मित कर दिया जाएगा तो युवा होनहार लोगों को मौका मिलेगा बेरोजगारी कम होगी और सरकार के पैसे की भी बचत होगी क्योंकि जिन होनहार युवक की भर्ती होगी उनको तनखा सैलरी कम देना पड़ेगी सरकार को जिससे सरकार की बचत होगी पैसे में साथ ही लोगों को रोजगार भी मिलेगा और अब अगर सरकार फैसला करती है

और निर्णय लेती है कि पुलिसकर्मियों को 65 वर्ष की आयु में सेवा निर्मित किया जाए तो सरकार का नुकसान होगा क्योंकि पुलिसकर्मियों की जो मूल वेतन तनख्वाह है वहीं देना पड़ेगी जिससे सरकार पर भार पड़ेगा और नुकसान होगा सरकार और जनप्रतिनिधियों को चाहिए कि सेवानिवृत्त अवधि ना बढ़ाते हुए युवाओं को रोजगार के अवसर दिए जाएं।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *