मिलावटखोरी से मुक्त कराने तक जारी रहेगा “शुद्ध के लिये युद्ध” अभियान

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036

राज्य-स्तरीय सम्मान एवं पुरस्कार वितरण समारोह में शामिल हुए मंत्रिमण्डल के सदस्य

भोपाल : लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री तुलसी सिलावट ने कहा है कि प्रदेश को मिलावटखोरी से पूरी तरह मुक्त कराने तक ‘शुद्ध के लिये युद्ध’ अभियान जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि मिलावटखोरों को कतई बख्शा नहीं जायेगा। श्री सिलावट अभियान के अंतर्गत आयोजित राज्य-स्तरीय सम्मान एवं पुरस्कार वितरण समारोह को संबोधित कर रहे थे।

जनसम्पर्क मंत्री श्री पी.सी. शर्मा, महिला-बाल विकास मंत्री श्रीमती इमरती देवी, खनिज साधन मंत्री श्री प्रदीप जायसवाल और स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी समारोह में शामिल हुए। समारोह के प्रारम्भ में आयुक्त खाद्य एवं औषधि कार्यालय में प्रदेश की पहली माइक्रो बायोलॉजी लैब का लोकार्पण किया गया।

मिलावटखोरी मानवता के लिये घातक

जनसम्पर्क मंत्री श्री शर्मा ने कहा कि मिलावटखोरी मानवता के लिये घातक है। इसे हर स्तर पर रोकना होगा। उन्होने प्रदेशवासियों का आव्हान किया कि ‘शुद्ध के लिये युद्ध’ अभियान को सफल बनाने में राज्य सरकार को सहयोग प्रदान करें।

इसे भी पढ़ें :- विंध्य महोत्सव भोपाल में मध्य प्रदेश से अलग होकर विंध्य प्रदेश बनाने की मैहर विधायक नारायण त्रिपाठी ने उठाई मांग, क्या कहा सुने पूरा वीडियो

परम्परागत तरीके अपनाकर मिलावटी चीजो से बचें

महिला-बाल विकास मंत्री श्रीमती इमरती देवी ने कहा कि भोजन सहित अन्य खाद्य सामग्री के मामले में परम्परागत तरीके अपनाकर मिलावटी चीजों के दुष्‍प्रभावों से आसानी बचा जा सकता है। उन्होंने कहा कि भोजन-सामग्री की आवश्यक वस्तुएँ घर में तैयार करने की आदत को प्रोत्साहित कर मिलावटखोरी से निजात पायी जा सकती है। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि खाद्य पदार्थो में शुद्धता के मामले में समझौता न करें।

अभियान को सफल बनाने सभी वर्गों की भागीदारी जरूरी

खनिज साधन मंत्री श्री प्रदीप जायसवाल ने कहा कि ‘शुद्ध के लिये युद्ध’ अभियान तभी पूरी तरह सफल हो सकेगा, जब समाज के सभी वर्ग इसमें अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि आने वाली पीढ़ियों को स्वस्थ जीवन प्रदान करने के लिये शुद्धता को अपनाना होगा।

इसे भी पढ़ें :- अनिल अंबानी अमीर नहीं, कंगाल हो चुके, कोर्ट ने कहा- 6 हफ्ते में दीजिए 7 अरब रुपए, अनिल अंबानी बोले- मैं दिवालिया

बच्चों में जागरूकता से सफल होगा अभियान

स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने कहा कि स्कूली बच्चों में शुद्धता के प्रति जागरूकता पैदा कर अभियान की सफलता सुनिश्चित की जा सकती है। बच्चों में यह जागरूकता निबंध, भाषण, नाटक जैसी प्रतियोगिताएँ आयोजित कर पैदा की जा सकती हैं। उन्होंने कहा कि बच्चे सही मायने में अभियान की सफलता के लिये ब्राँड एम्बेसेडर साबित होंगे।

इसे भी पढ़ें :- भोपाल में पत्रकारों के धरने के बाद सरकार काला आदेश वापस करने को मजबूर, आखिर पत्रकार एकता की जीत हुई

समारोह में ‘शुद्ध के लिये युद्ध’ अभियान के अंतर्गत आयोजित भाषण प्रतियो‍गिता में कु. माही शर्मा इंदौर को प्रथम पुरस्कार 51 हजार रुपये, हर्ष ताम्रकार छतरपुर को द्वितीय पुरस्कार 21 हजार और संकल्प जैन टीकमगढ़ को तृतीय पुरस्कार 11 हजार रूपये प्रदान किया गया। नाटक प्रतियोगिता में जबलपुर को प्रथम, रीवा को द्वितीय और होशंगाबाद को तृतीय पुरस्कार दिया गया। निबंध प्रतियोगिता में साँची सतना को प्रथम पुरस्कार, सुनील नरसिंहपुर को द्वितीय और नरेन्द्र पटेल छतरपुर को तृतीय पुरस्कार दिया गया। सभी श्रेणियों में 51 हजार, 21 और 11 हजार रूपये के पुरस्कार प्रदान किये गये। अभियान में विशेष कार्य करने वाले अधिकारियों को भी सम्मानित किया गया।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *