पुलिस प्रशासन की बात ना मानी तो अब चलेंगी लाठियाँ, पुलिस को दोष नही दिया जाना चाहिये, क्यो लाठियाँ

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567

नागदा जं. . औद्योगिक शहर नागदा मे नोवल-19 काेराेना वायरस से अामजनाें काे बचाव हेतू अलर्ट करने के बाद भी लाेग बेवजह बाजाराें की सडको पर घूमते दिख रहे है। जबकी पुलिस प्रशासन लगातार मोबाइल वेन के द्वारा लोगो को सतर्क रहने की अपील कर रही है, उसके बावजूद भी आम जनता मे जागरुकता का अभाव नजर आ रहा है।

इतनी समझाइश के बाद अब पुलिस प्रशासन एक्शन मोड मे आने कि तैयारि में है। पुलिस प्रशासन ने मंगलवार की सुबह अाम जन मानस काे समझाइश देते हुवे दाेपहर में फ्लैग मार्च निकालकर चेतावनी भरा संदेश भी दीया है। उसके बाद भी जब लाेग बाजार में बे-वजह घूमते नजर आए ताे पुलिस एक्शन मोड में आ ही गई अाैर रात लगभग 7 बजे लाठी भाजना प्रारम्भ कर दीया। पुलिस द्वारा अब काेई ढिल नहीं बरती जाएगी।

मेडिकल स्टोर,सब्जी, दूध, किराना सामाग्री खरीदी के लिए जाे समय निर्धारित किया गया है, उसी समय में परिवार का काेई भी एक सदस्य बाजार पहुंच कर खरीददारी करें। वही निर्धारित समय के बाद अगर कोई दुकान खुलती है अाैर अामजन बेवजह घूमते हुए नजर अाते है ताे उन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

खरीददारी करने जारी किया शेड्यूल

एडीएम डाॅ.अारपी तिवारी ने नगर वाशियो काे राहत देते हुवे खरीददारी के लिए एक निर्धारित समय सीमा जारी कि है। जिसके अनुशार सुबह 6 बजे से 9 बजे तक अाैर दाेपहर 3 बजे से 5 बजे तक दूध वितरण का समय। सुबह 8 बजे से दाेपहर 1 बजे तक फल व सब्जी का समय और शाम 4 बजे तक किराना दुकान खुली रखने का समय निर्धारित किया है। इसके बाद भी अगर काेई दुकान खुलती रहती है अाैर आम जनता बाहर घूमते दिखाई देते है ताे पुलिस द्वारा कार्यवाही की जायेगी।

इनका क्या कहना है जाने – श्री आर पी वर्मा SDM नागदा, श्री मनोज रत्नाकर CSP नागदा

नगर मे प्रमुख मार्गों पर लगभग 02 किमी. का फ्लैग मार्च किया गया, एसडीएम अारपी वर्मा, सीएसपी मनाेज रत्नाकर, मंडी थाना प्रभारी श्यामचंद्र शर्मा, तहसीलदार विनाेद शर्मा, नायब तहसीलदार सलाेनी पटवा ने पुलिस बल के साथ चंबल सागर मार्ग, किल्कीपूरा चाैराहा, मिर्ची बाजार, एमजी राेड, जवाहर मार्ग, बस स्टैंड तक 2 किमी का फ्लेग मार्च किया। खुली दुकानाें काे बंद करवाया गया। घर के बाहर बैठे लाेगो काे घर में बैठने की समझाइश दी गई। कही ना कही यह एक चेतावनी ही माने क्यो की जो प्रशासन आज प्यार की भाषा का प्रयोग करता नजर आया वही कल नगर ओर जनता के स्वास्थ के लिये सख्ती करते हुवे उग्र भी हो जायेगा इसमे कोई संदेह नही।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *