कोरोना से बचाव में 72 वर्षीय भेरुलाल पांचाल दिखा रहे सेवा का जज्बा, ऑनलाइन बता रहे आयुर्वेदिक एवं योग प्राणायाम चिकित्सा उपचार

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567

आमजन को ऑनलाइन बता रहे आयुर्वेदिक एवं योग प्राणायाम चिकित्सा उपचार

नागदा. औद्योगिक शहर नागदा के 72 वर्षीय समाज सेवी डॉ. भेरुलाल पांचाल पिछले कई वर्षों से आयुर्वेदिक चिकित्सक के रूप में अपनी सेवाएं दे रहे है। 12 वर्षों से निशुल्क योग शिक्षा भी देकर, आमजन को गिलोय नीम का निशुल्क पेय वितरित कर रहे है। योग अभ्यास करना और सीखाना उनका शौख है।

जिसके माध्यम से समाज सेवा कर कई लोगो को पूर्ण स्वास्थ लाभ से जीवन दान मिला। योग प्राणायाम व आयुर्वेदिक उपचार द्वारा कई लोगो को गंभीर बीमारी व शारीरिक समस्या में भी लाभ मिला। पूर्व मे डॉ. भेरूलाल पांचाल पतंजलि के बाबा रामदेव द्वारा योग शिविर में सम्मिलत हुए तथा अपनी सेवाओं के लिए सम्मानित भी हुए। वर्तमान में कोरोना महामारी के चलते आमजन स्वास्थ के प्रति चिंतिंत हैं.

 ऑनलाइन बता रहे आयुर्वेदिक एवं योग प्राणायाम चिकित्सा उपचार देखें वीडियों 

जिसके लिए उन्होंने बताया कि अगर रात्रि में अमृता गिलोय, नींम, काली मिर्च, हल्दी, अदरक को 1 लीटर पानी में उबालें तथा आधा रह जाने पर जो काढ़ा बने उसे सेवन करे तथा रात भर रखकर अगर प्रातः में भी उस काढ़े को पिये तो निश्चित ही आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ेगी जिससे ऐसी कोई भी बीमारी आपको प्रभावित नहीं करेगी । घर मे रहकर प्रातः काल योग प्राणायाम का अभ्यास करना चाहिए। आपकी श्वास प्रश्वास से फेफड़े मजबूत होंगे, व किसी प्रकार के इंफेक्शन नहीं होंगे ।

छाती में श्वास भर कर उसे रोकने का प्रयास करे ,न्यूनतम 30 – 40 सेकंड रूककर फिर छोड़ने के द्वारा व्यक्ति स्वयं अपने कोरोना टेस्ट कर सकता है, अगर आप 10 सेकंड से अधिक श्वास नहीं रोक पा रहे तो, आपको अस्पताल में अपना कोरोना टेस्ट कराना चाहिए। इस महामारी के दौरान भी डॉक्टर पांचाल द्वारा रोजाना अमृता गिलोय औषधि का काढ़ा कोरोना योद्धाओ के लिए तैयार किया जाता है ।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!