घटिया निर्माण के कारण उखडऩे लगी एक माह पहले बनी सड़क, ग्रामीणों में रोष, कहा वर्षो बाद मिली सुविधा भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ी

Spread the love

 ANI  NEWS INDIA  @ http://aninewsindia.com

ब्यूरो चीफ मुलताई, जिला बैतूल // राकेश अग्रवाल 7509020406 

मुलताई। ग्राम खरसाली नगर के समीप होने के बावजूद वहां के ग्रामीणों को अभी तक पक्की सड़क की सुविधा नही मिली थी जिससे बारिश के दौरान ग्रामीणों का गांव पहुंचना मुश्किल होता था। वर्षों बाद मुलताई फोरलेन से खरसाली तक लगभग पौने दो किलोमीटर की डामरीकृत सड़क का निर्माण मुख्यमंत्री ग्रामीण सड़क योजनातंर्गत किया गया।

विगत एक माह पूर्व ही सड़क निर्माण का कार्य पूर्ण हुआ है लेकिन सड़क अभी से उखडऩे लगी है जिससे खरसाली के ग्रामीणों में रोष व्याप्त है। ग्रामीणों के अनुसार सड़क निर्माण के समय ठेकेदार द्वारा गुणवत्ता का ध्यान नही रखा गया। निर्माण चरण में कभी कोई संबन्धित विभाग का अधिकारी मौके पर नही पहुंचा जिससे सड़क का निर्माण स्तरीय नही हुआ। ग्रामीण गोविन्द देशमुख, संजय यादव आदि ने बताया कि सड़क निर्माण आनन-फानन में किया गया जिससे सड़क में गुणवत्ता का ध्यान नही रखने से एक माह में ही सड़क उखडऩे लगी है।

ग्रामीणों के अनुसार लगभग पौने दो किलोमीटर सड़क के निर्माण में सड़क के नाम पर डामर की एक पतली लेयर ही नजर आ रही है। उन्होने बताया कि उक्त मार्ग पर वाहनों की आवाजाही भी कम होने के बावजूद अभी से जगह-जगह से सड़क उखडऩे लगी है जिससे सड़क की गुणवत्ता का सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है। ग्रामीणों द्वारा मार्ग निर्माण की जांच की मांग करते हुए ठेकेदार का भुगतान रोकने की मांग पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अधिकारियों से की गई है।

बारिश में होगा सड़क का बुरा हाल

ग्रामीणों ने बताया कि मात्र एक माह में ही सड़क का उखडऩा यह बता रहा है कि मार्ग निर्माण में गुणवत्ता का ध्यान नही रखते हुए भ्रष्टाचार किया गया है। ग्रामीणों के अनुसार अभी तो बारिश प्रारंभ ही नही हुई है यदि इस वर्ष अच्छी बारिश होती है तो पूरी सड़क का हाल बुरा हो जाएगा तथा वर्षों बाद मिली सुविधा से ग्रामीणों को फिर जूझना होगा। उन्होने बताया कि मार्ग अजय यादव के मकान के पास उसके आगे पुलिया के पास सहित अन्य स्थानों पर से उखड़ रहा है जबकि मार्ग की साईड पटरी मुरूम से भरने का कार्य अभी चालू ही है। निर्माण के बाद ही मार्ग के उखडऩे से ग्रामीणों में रोष व्याप्त है।

46 लाख की लागत से बना घटिया मार्ग

सड़क निर्माण में आश्चर्यजनक तथ्य यह है कि मार्ग की लागत लगभग 46 लाख रूपए है जिसमें मात्र पौने दो किलोमीटर से भी कम का मार्ग निर्माण हुआ है। लेकिन खरसाली के ग्रामीणों के लिए यह एक मात्र पक्की सड़क है जिससे प्रतिदिन ग्रामीण आवागमन करते हैं। लगभग आधा करोड़ की लागत वाली उक्त सड़क के निर्माण में हुई लापरवाही सड़क की वर्तमान स्थिति बयां कर रही है जिसमें जगह-जगह गिट्टियां नजर आने लगी है। फिलहाल सड़क के दोनों ओर साईड पटरी भरने का कार्य चल रहा है लेकिन इसी बीच सड़क उखडऩे भी लगी है।

अधिकारियों की नही दिखी कभी मौजूदगी

फोरलेन से खरसाली मार्ग गुणवत्ता को ताक पर रखकर आनन-फानन में पूर्ण कर दिया गया जिसमें ग्रामीणों को कभी कोई अधिकारी नजर नही आया। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा बनाए उक्त मार्ग में अधिकारियों ने सुपरविजन करने की जहमत नही उठाई एवं मार्ग निर्माण पूर्ण भी कर लिया गया। वर्तमान में हालत यह है कि बारिश में मार्ग की स्थिति चिंताजनक हो सकती है तथा वर्षों बाद मार्ग की सुविधा मिलने के बावजूद ग्रामीणों के लिए आवागमन की समस्या फिर खड़ी हो सकती है इसलिए मार्ग के गुणवत्ता की जांच आवश्यक है।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!