रायगढ़ एटीएम कैश वैन लूट कांड सरगना वरूण सिंह समेत 4 गिरफ्तार, अंचल साप्ताहिक का पत्रकार एवं एक न्यूज पोटर्ल का रिपोर्टर निकला मुख्य सरगना

Spread the love

 ANI  NEWS INDIA  @ http://aninewsindia.com

जिला ब्यूरो चीफ रायगढ़  // उत्सव वैश्य : 9827482822 

  • रायगढ़ एटीएम कैश वैन लूट कांड सरगना वरूण सिंह समेत 4 गिरफ्तार
  • रायगढ़ अंचल साप्ताहिक का पत्रकार एवं एक न्यूज पोटर्ल का रिपोर्टर के साथ नेटवर्किंग का कर्मचारी है मुख्य सरगना
  • घटना को अंजाम देने बिहार से बुलाया गया 03 शूटर
  • बाद में गिरफ्तार रजनीश पाण्डे को भी शूटर के रूप में इस्तेमाल किया जाना था
  • वरूण ही पिछले साल यूनाईटेड बैंक लूटपाट का था मास्टर माईंड, उसी बैंक से लिया ऋण व कर्ज में डूब चुका था वरूण…

दिनांक 07.06.2020 को थाना कोतरारोड़ के अप.क्र. 125/2020 धारा 302, 307, 397, 201, 34 IPC 25, 27 Ams Act. में 02 आरोपी वरूण सिंह एवं रजनीश पाण्डे को गिरफ्तार किया गया जिससे इस लूटपाट कांड में नये तथ्य सामने आये है ।

घटनाक्रम में जब दिनांक 04.07.2020 को आरोपी सुधीर सिंह एवं पिन्टु वर्मा की गिरफ्तारी की सूचना सुधीर सिंह के बड़े भाई वरूण सिंह को कोतरारोड़ पुलिस द्वारा उसके मोबाईल पर दिया गया । तब सूचना पाने के बाद वरूण अपना मोबाईल बंद कर दिया जिससे उस पर संदेह हुआ । पुलिस की एक टीम CCTV फुटेज तथा आरोपियों के मोबाईल कॉल डिटेल को एनालिसिस कर रही थी । घटना के कुछ समय पहले घटनास्थल के पास लगे CCTV के फुटेज में वरूण सिंह एक लड़के के साथ दिखा तथा घटना के कुछ मिनट पहले वरूण सिंह, आरोपी पिन्टु वर्मा के मोबाईल पर बात किया था और मैसेज भी भेजा था ।

इसे भी पढ़ें :- कैश वैन लूटपाट और वैन चालक की हत्या करने वाले अंतर्राज्यीय गैंग के दो गैंगस्टर गिरफ्तार, दहला देने वाली लाइव हत्या CCTV में कैद

JOB
मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ के सभी जिले एवं तहसील स्तर पर ब्यूरो चीफ एवं रिपोर्टरों की नियुक्ति करना है

पुलिस इस बड़े साजिश को भांप चुकी थी और घटना के मास्टर माईंड और उसके पूरे गिरोह तक पहुंचने के लिए योजनाबद्ध तरीके से वरूण को पहले गिरफ्तार नहीं किया गया । वहीं प्रारंभिक पूछताछ में भी आरोपी सुधीर और पिन्टु ने वरूण और उसके साथी/नौकर रजनीश पाण्डे का नाम छिपाये । कोतरारोड़ पुलिस लगातार 2 दिनों तक वरूण सिंह और रजनीश पाण्डे को थाना लाकर पूछताछ कर छोड़ रही थी । अलग-अलग तरीकों से पूछताछ पर आखिरकार वरूण सिंह अपने साथी/नौकर रजनीश पांडे के साथ इस अपराध में शामिल होना एवं पूर्व में यूनाईटेड बैंक लूटपाट में शामिल होना कबूल किया है ।

RAIGAD ANI NEWS ATM LOOT
रायगढ़ अंचल साप्ताहिक का पत्रकार एवं एक न्यूज पोटर्ल का रिपोर्टर के साथ नेटवर्किंग का कर्मचारी है मुख्य सरगना

पूछताछ में जानकारी मिली कि वरूण सिंह पिछले 14 साल से रायगढ़ में रहता है, उसका लगातार गांव घर सिवान (बिहार) आना जाना था तथा सुधीर भी रायगढ़ आकर उसके यहां रूकता था । वरूण सिंह ग्लेज ट्रेडिंग इंडिया प्रा0लिमि0 का फ्रेंचाईजी मेसर्स भवानी ट्रेडर्स के नाम से आजाद चैंक किरोडीमलनगर में संचालित करता है । इस कम्पनी में युवक, युवतियों को दिगर प्रांत/जिलों से लाकर कम्पनी का खाद, फर्टिलाइजर, कास्मेटिक प्रोडक्ट बिक्री करता था। वरूण का यूनाईटेड बैंक रायगढ़ में एकाउंट था, बैंक में कम्पनी होल्डर एवं रायगढ़ अंचल साप्ताहिक प्रेस का पत्रकार होने की जानकारी दिया था और बैंक से 17 लाख रूपये का लोन लिया हुआ था ।

इसे भी पढ़ें :- CCTV में कैद लाइव : एटीएम मशीन में कैश भरने के लिए आई एक वैन के चालक को गोली मार की हत्या, 13 लाख रुपए नकद लेकर फरार

मार्केट में वरूण का करीब 34 लाख रूपये उधारी था । वरूण बिहार में बैंक लूटपाट के लिए शूटर एवं अपने भाई समेत गैंग बनाया था । जून 2019 में सुधीर सिंह उसका दोस्त पिन्टू वर्मा और यू0पी0 बलिया का रहने वाला संजय भारद्वाज तीनो किरोडीमलनगर आये थे, जिनके लिए किराये कमरे की व्यवस्था वरूण ने किया । उसी किराये कमरे में वरूण और सुधीर ने यूनाईटेड बैंक में लूट करने का प्लान बताये, जिसमें चारों राजी हुये फिर बैंक लूट के लिए वरूण सिंह के रूपयों से संजय भारद्वाज के माध्यम से यू0पी0, बिहार बार्डर से 02 नग पिस्टल, लगभग 20 नग कारतूस, 02 नग कट्टा कारतूस खरीदा गया ।

वरूण सिंह अपने पास रायगढ़ अंचल साप्ताहिक रजिस्टर्ड प्रेस का अलग-अलग आई. कार्ड रखा था तथा गाडी में प्रेस भी लिखवाया था । वरूण गले में आई कार्ड लटकाकर पत्रकार बनकर बे-रोक टोक के आसानी से बैंक मे घुसकर रेकी करता था । जून में लगातार 03-04 दिन यूनाईटेड बैंक की रेकी के बाद घटना के दिन शाम करीब 05:00 बजे संजय भारद्वाज के मोबाईल पर मैसेज कर बताया कि बैंक अभी खाली है, पर उस शाम लूट का प्लान सक्सेस नहीं हुआ ।

वरूण उसके किरोडीमल आफिस के सामने SBI ATM में कैश भरने आये CMS कम्पनी के कैशवेन को देखकर अपने भाई के साथ प्लान बनाया था । जनवरी माह 2020 में सुधीर, वरूण खम्होरी गांव जाकर फिर संजय भारद्वाज और पिन्टू के साथ रायगढ़ एटीएम कैश वैन लूटने की बात बताये, जिस पर संजय भारद्वाज बोला कि आधा हिस्सा लेगा और आधा हिस्सा तीनों लोगों का, इस पर सुधीर नही माना और संजय भारद्वाज को प्लानिंग से हटा दिये ।

18 मार्च 2020 की साउथ बिहार ट्रेन से 19 मार्च को वरूण सिंह, सुधीर सिह, उसका पिता झूलन राय, पिन्टू वर्मा और वरूण अपने गांव के पास रहने वाले रजनीश कुमार पाण्डे को कम्पनी में काम दिलाने और अपने ATM कैशवैन लूटपाट में शूटर के रूप में उपयोग करने रायगढ़ लाया । पुलिस रेल्वे से इनके टिकट रिकार्ड निकलवा रही है । मार्च 2020 को लॉकडाउन होने से इनका कैशवेन लूटने का प्लान कुछ समय के लिए आगे बढ़ गया। जून महिने में एटीएम कैश वैन लगातार आने से उनके लूट के प्लान में गति आयी ।

घटना के करीब दो सप्ताह पहले वरूण, पिन्टू और सुधीर मो0सा0 से ट्रेक शूट खरीदने रायगढ एस0पी0 आफीस के पास स्पोटर्स दुकान में नेवी ब्लू रंग का 02 नग ट्रेक शूट खरीदे और वरूण अपने लोकल एवं प्रेस का होने का फायदा उठाकर उसी दिन ग्राम डोंगाढकेल (केराझर) जाकर एक कमरा सुधीर और पिन्टु के लिये उपलब्ध कराया । वरूण सिंह और रजनीश प्रेस मोटर सायकल में लगातार कैशवैन की रैकी कर रहे थे, प्लान के मुताबिक दिनांक 03.07.2020 को लगभग 01:35 बजे कैशवैन सीएमओ तिराहा से गुजरी तब तुरंत वरूण सिंह, पिन्टू के मोबा0 में C टाईप करके भेजा, उसके आधा घण्टे बाद वरूण और रजनीष एक्टीवा से आजाद चैक किरोडीमलनगर पहुंचे काफी भीड लगी थी तो समझ गये काम हो गया ।

उसके बाद वरूण डोंगाढकेल गांव सुधीर और पिन्टू के पास पहुंचा । वहां उनसे 25,000 रूपये और CMS कम्पनी का बैग फेंकने के लिए मांगा । 25 हजार से 5 हजार रूपये उसने रजनीश को दिये और एक कट्टा वरूण अपने पास रखा था । कट्टा को अपने किराये मकान के नीचे निर्माणधीन कमरे के पास रेत मे छुपाकर रखा था और सफेद एक्टिवा क्र0 सीजी 13 यूए 9413 को घर के नीचे खड़ा था तथा अपाचे मो0सा0 क्र0 जेएच 03 एम 3091 अपने परिचित के घर गणेशचौक किरोड़ीमल नगर में खड़ा किया था जिसे पुलिस इनके मेमोरेंडम पर बरामद की है ।

आरोपियों का घटना के बाद ओडिसा के बरगढ़ जाने का प्लान था तथा घटना शांत होने पर वापस बिहार जाते । कई जगहों के CCTV फुटेज एवं टावर डम्प डाटा में पुलिस को आरोपी वरूण सिंह और रजनीश पांड के घटना में शामिल होने के पुख्ता सबूत मिलने के बाद दोनों को कल गिरफ्तार कर पुलिस रिमांड लिया गया । शातिर आरोपियों द्वारा नया सिम का प्रयोग किया गया उसकी तथा साऊथ बिहार ट्रेन का रिकार्ड एवं बिहार पुलिस से आरोपियों के पूर्व अपराध की जानकारी प्राप्त किया जा रहा है । साथ ही चारों आरोपियों के हुलिया, वारदात के तरीकों की जानकारी राज्य एवं राज्य के बाहर ईश्तहार तैयार कर प्रसारित किया गया है ।

आरोपी वरूण सिंह से जप्ती – (i) 01 नग देशी कट्टा मय कारतूस, (ii) 20 हजार रूपये नगदी (iii) प्रेसकार्ड -रायगढ़ अंचल, रायगढ़ रिपोर्टर व अन्य 02 (iv) 1 नग विवो कम्पनी का मोबाईल (v) अपाचे मो0सा0 क्र0 जेएच 03 एम 3091 (vi) एक्टिवा क्र0 सीजी 13 यूए 9413 ।
आरोपी रजनीश कुमार पांडे से जप्ती – (i) 5 हजार रूपये नगद (ii) एक MI कम्पनी का मोबाईल ।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!