शिक्षकों की इच्छाशक्ति ने संवार दिया सरकारी स्कूल

Spread the love

व्यक्ति यदि दृढ़ इच्छाशक्ति से किसी काम में जुट जाए तो क्या नहीं किया जा सकता। ऐसे ही इच्छाशक्ति से आदिवासी बाहुल्य परसवाड़ा जनपद के ग्राम भीड़ी के शिक्षकों ने ऐसी पहल की जिससे एक सरकारी स्कूल की तस्वीर ही निखर गई ।

 #ANI_NEWS_INDIA   जिला ब्यूरो चीफ बालाघाट // वीरेंद्र श्रीवास : 83196 08778

ग्राम भीड़ी के हायर सेकेंडरी स्कूल को प्राइवेट स्कूल की तर्ज पर ऐसा सँवारा गया जो प्रेरणादायी और मिसाल बनकर हम सबके सामने है । स्कूल प्राचार्य और प्रबंधन ने मिलकर कोरोना काल में बच्चों के लिए दो स्मार्ट क्लास बनाई जिसकी संख्या भविष्य में पांच होने वाली है । इसके अलावा स्कूल परिसर में बोरवेल लगाकर पानी की समुचित व्यवस्था, साफ पीने के पानी के लिए दो आरओ प्यूरीफायर वाटर सिस्टम, कक्षों में बिजली की व्यवस्था हमेशा बनाये रखने इन्वर्टर सिस्टम, नए फर्नीचर के साथ ही हर क्लास में ट्यूबलाइट, सीलिंग और वाल फेन के इंतजाम किए गए । पूरे स्कूल परिसर को सीसीटीवी से लेस करते हुए साउंड सिस्टम भी लगाया गया है ताकि एक बार में ही सभी को कोई सूचना दी जा सके । जिन दो स्मार्ट क्लासेस की व्यवस्था की गई है उनमें एलईडी टीवी और प्रोजेक्टर के माध्यम से आधुनिक शिक्षा के प्रबंध किए गए हैं । ये सब व्यवस्थाएं स्कूल को मिलने वाले फंड से ही की गई हैं । स्कूल प्राचार्य आलोक चौरे ने बताया कि गत वर्ष उन्हें डीईओ कार्यालय की तरफ से प्राइवेट स्कूलों के विजिट की जिम्मेदारी मिली थी । तब से उनके मन में अपने स्कूल को नया रंग-रूप देने और आधुनिक शिक्षा के साधन जुटाने की इच्छा हुई । श्री चौरे ने उपरोक्त सारी जानकारी देते हुए बताया कि अभी स्कूल में दो स्मार्ट क्लास बनी है भविष्य में तीन और क्लासेस बनाने की योजना है । उनके स्कूल की एक छात्रा रवीना परते ने 10 वीं बोर्ड परीक्षा में 97.5% मार्क लेकर जिले में प्रथम स्थान बनाया था जिसके आगामी कक्षाओं की पढ़ाई के लिए जो भी सहायता होगी वे करेंगे ।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!