कांग्रेस सरकार के समय सर्वे के नाम पर संबल योजना में विधानसभा क्षेत्र के 17 हजार परिवारों को अपात्र किया, इसका जिम्मेदार कौन ?  – शेखावत

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

जिला ब्यूरो चीफ उज्जैन, नागदा // विष्णु शर्मा : 8305895567

संबल योजना में 85 मृतको के आश्रितो को होगा 190 लाख रू. का भुगतान

नागदा -पूर्व विधायक दिलीपसिंह शेखावत ने बताया कि माननीय मुख्यमंत्री जी की महत्वाकांक्षी योजना संबल योजना में 85 हितग्राहियों को रूकी हुई अनुग्रह राशि 190 लाख रू. का भुगतान भोपाल से सीधे हितग्राहियों के खाते में आनलाईन किया जा रहा है। जिसमें मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत खाचरौद द्वारा ऑनलाइन  की सारी प्रकिया पूर्ण कर ली गई हैं जिससे अब इन हितग्राहियों के खाते में सीधे राशि जमा होगी।

पिछले सोलह माह में इस योजना को ग्रहण सा लग गया था। फण्ड की कमी के नाम पर हितग्राहियों को समय पर सहायता राशि का भुगतान नहीं किया जा रहा था। किन्तु भाजपा सरकार ने माननीय मुख्यमंत्री ने इसे गंभीरता से लेते हुए राशि जारी करने के लिये संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया । जिसका परिणाम है कि जनपद पंचायत खाचरौद क्षेत्र में दस व्यक्तियों की दुर्घटना में मृत्यु होने पर उनके आश्रितो को 4-4 लाख रूपये एवं 75 व्यक्तियों की सामान्य मृत्यु होने पर उनके आश्रितो को दो-दो लाख रू. की सहायता राशि स्वीकृत की गई है। जिसमें सुरेश, सुगनबाई ग्राम लुसडावन, शांतिबाई ग्राम टुटियाखेडी, दशरथ ग्राम भुवासा, भारत ग्राम पचलासी, रामकन्या, रामचन्द्र ग्राम बुरानाबाद, भेरूलाल ग्राम सेदरी, रामाजी, कैलाश ग्राम नरसिंहगढ, शंभुसिंह ग्राम लसुडियाखेमा, श्यामलाल, मनोहर, मोहनकुंवर ग्राम मोकडी, मांगुसिंह, बालु ग्राम झिरमिरा, भेरूजी ग्राम बिरियाखेडी, जीवन ग्राम भीलसुडा, इंद्रकुंवर ग्राम बंजारी, शांतिबाई ग्राम सुरेल, गिरधारी ग्राम कमठाना, रामकन्या ग्राम परमारखेडी, राजाराम ग्राम पानवासा,  रामचन्द्र, प्रहलाद ग्राम अर्जला, रामचन्द्र ग्राम चापानेर, राधेश्याम, हिन्दूजी ग्राम भाटखेडी, राजेश ग्राम उमरना, कमल ग्राम बेहलोला, राकेश ग्राम नायन, इन्द्रा ग्राम खेडावदा, मुलीबाई ग्राम भीकमपुर, दिनेश, गोपाल ग्राम भैसोला, बद्रीलाल ग्राम फरनाखेडी, दशरथ ग्राम मडावदा, मुकेश ग्राम दिवेल, सीताबाई ग्राम झिरमिरा, परमानन्द ग्राम सेदरी, शान्तिबाई ग्राम कंचनखेडी, मांगीलाल ग्राम टुटियाखेडी एवं मदनलाल ग्राम कुम्हारवाडी आदि हितग्राहियों को संबल योजना में लाभ मिलेगा।

श्री शेखावत ने बताया कि पिछली कांग्रेस सरकार के शासनकाल में गरीब परिवारों को फायदा पहुंचाना तो दूर की बात थी किन्तू शिवराज सरकार की महत्वपूर्ण संबल योजना में सर्वे के नाम पर भेदभाव पूर्ण तरीके से 88476 परिवारों में करीब 17000 परिवारों को अपात्र कर दिया था जिससे अब इन परिवारों को मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा और यह सब कार्य वर्तमान विधायक श्री दिलीपसिंह गुर्जर जी की आंखों के सामने हुआ किन्तु उन्होंने इन परिवारों के लिये कुछ नहीं किया। अब यह 17 हजार परिवार शासन से मिलने वाली सहायता एक रूपये किलो गेहूँ/चांवल से वंचित होंगे। साथ ही 200 रूपये महिने सबसिडी बिल योजना से भी बाहर हो जायेंगे और इन गरीबों को पुरा बिजली बिल  भुगतना पड़ेगा। साथ ही इनके परिवार में होने वाली दुर्घटना मृत्यु पर 4 लाख रूपये सामान्य मृत्यु पर 2 लाख रूपये एवं अंत्येष्टि सहायता पर मिलने वाली 5000 रूपयें की राशि से भी वंचित होना पड़ेगा और आगे आने वाली ईलाज से संबंधित योजनाएं, स्वास्थ्य योजनाएं और अन्य विभागों की योजनाओं से भी वंचित हो जायेंगे।

शेखावत ने बताया कि इस योजना में ऐसे गरीब परिवार जो मजदूरी, पेंन्टिंग कार्य, नाई कार्य, बढ़ाई कार्य, ठेकेदारी कार्य हम्माली, ईंट भट्टा मजदूर जैसे छोटे-छोटे कार्य करने वाले परिवारों को लाभ पहुंचाने की दृष्टि से माननीय शिवराजसिंह जी ने महत्वाकांक्षी संबल योजना बनाई थी। जिसमें नागदा-खाचरोद विधानसभा में नगर पालिका नागदा में 19689 परिवार, नगर पालिका खाचरौद में 8787 परिवार और जनपद पंचायत खाचरौद के मेरी विधानसभा के 60 हजार परिवार इस योजना में पात्रता रखते थे किन्तु तत्कालीन कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने सर्वे के नाम पर विधानसभा के करीब 17 हजार परिवारों को अपात्र कर दिया । इन गरीब परिवारों का इतना कसुर था कि यह सर्वे के समय घर पर नहीं मिल सके। या प्रधानमंत्री आवास में इनके पक्के मकान बन गये या इन्हें सर्वे का मालुम ही नहीं चल सका। यह सब खेल क्षेत्र के जिम्मेदार विधायक श्री गुर्जर जी की आंखों के सामने होता रहा पर उन्होंने इसकी सुध तक नहीं ली जिससे आज इन 17 हजार परिवारों को मिलने वाली योजनाओं के लाभ से वंचित हो गये है जो कभी विधायक जी को माफ नहीं करेंगे।

शेखावत ने बताया कि जनप्रतिनिधि का कार्य जनता को लाभ पहुंचाने का होता है ना कि नुकसान पहुंचाने का, पर उन्होंने इसके लिये एक बार भी आवाज नहीं उठाई।

शेखावत ने बताया कि मेरे द्वारा माननीय मुख्यमंत्री जी को पत्र लिखकर संबल योजना से वंचित इन 17 हजार परिवारों को फिर से योजना का लाभ दिये जाने की मांग की है और आगे भी इन परिवारों की लड़ाई लड़ता रहूंगा।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!