फर्जी प्रमाण पत्रो से 40 वर्षों से नौकरी कर रहे सहायक उपनिरीक्षक माधव प्रसाद तिवारी के विरुद्ध कार्यवाही

Spread the love

 ANI  NEWS INDIA  @ http://aninewsindia.com

जिला ब्यूरो चीफ रायगढ़  // उत्सव वैश्य : 9827482822 

कोरबा पुलिस अधीक्षक ने लिखा उप पुलिस महानिरीक्षक को खत

कोरबा के पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक मीणा ने आज कोरबा जिला के रामपुर चौकी में पदस्थ सहायक उप निरीक्षक माधव प्रसाद तिवारी पर कार्यवाही करने हेतु पुलिस उप महानिरीक्षक प्रशासन से अभिमत मांगा है.

रामपुर चौकी में पदस्थ सहायक उप निरीक्षक माधव प्रसाद तिवारी के खिलाफ छः साल पहले शिकायत किया गया था कि उन्होने फर्जी दस्तावेजो के सहारे नौकरी हासिल की है, जिले में कितने पुलिस अधीक्षक आये और चले गए पर किसी ने भी सहायक पुलिस उपनिरीक्षक के खिलाफ कोई कार्यवाही नही की । जैसे ही इस बात की जानकारी कोरबा पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा को मिली उन्होंने तत्काल प्रभाव से कार्यवाही हेतु पुलिस महानिरीक्षक को पत्र लिखकर अभिमत की मांग की ।

RAIGAD CRIME ANI NEWS INDIA 01
फर्जी प्रमाण पत्रो से 40 वर्षों से नौकरी कर रहे सहायक उपनिरीक्षक माधव प्रसाद तिवारी के विरुद्ध कार्यवाही

जिला पुलिस विभाग के चौकी रामपुर में एएसआई माधव प्रसाद तिवारी पदस्थ हैं। उनके खिलाफ शिकायत हुई थी कि उन्होंने फर्जी अंकसूची व दस्तावेज के सहारे भर्ती के समय नाबालिग होते हुए भी नौकरी हासिल कर ली थी। मामले में आवेदक के द्वारा जिला न्यायालय में परिवाद प्रस्तुत किया जिसमें न्यायालय ने धारा 415, 420 के तहत कार्रवाई भी की गई है। मामला कोर्ट में विचाराधीन है। जिले के एसपी ने 26 जून को एक पत्र पुलिस उप महानिरीक्षक (प्रशाासन) को लिखा है।

जिसमें उक्त प्रकरण में जवाबदेही निर्धारित करते हुए आगामी कार्रवाई के लिए स्पष्ट मार्गदर्शन मांगा है। पूर्व में 3 जून 2014 को पुलिस उप महानिरीक्षक प्रशासन की ओर से तत्कालीन एसपी को लिखे पत्र मेें कहा गया था कि शिकायत में उल्लेखित तथ्य सही पाए जाने पर यह स्पष्ट है कि एएसआई तिवारी की ओर से पुलिस विभाग को गुमराह किया गया था।

फर्जी प्रमाण पत्रो से 40 वर्षों से नौकरी कर रहे सहायक उपनिरीक्षक माधव प्रसाद तिवारी के विरुद्ध कार्यवाही
फर्जी प्रमाण पत्रो से 40 वर्षों से नौकरी कर रहे सहायक उपनिरीक्षक माधव प्रसाद तिवारी के विरुद्ध कार्यवाही

लेकिन 6 साल बाद भी पुलिस विभाग की ओर से एएसआई माधव प्रसाद तिवारी के विरूद्ध कोई कार्रवाई नहीं हुई। ऐसे में यह कहना गलत नहीं होगा कि कार्रवाई के बजाय फाइल को ही दबा दी गई थी। वर्तमान एसपी अभिषेक मीणा को इसकी जानकारी होने पर एएसआई के विरूद्ध कार्रवाई के लिए मार्गदर्शन मांगा है।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!