बुखार को टायफायड बताकर गलत उपचार करने का आरोप, एसडीएम को ज्ञापन सौंप की कार्रवाई की मांग, डाक्टर शुक्ला की जांच के आदेश जारी

Spread the love

 ANI  NEWS INDIA  @ http://aninewsindia.com

ब्यूरो चीफ मुलताई, जिला बैतूल // राकेश अग्रवाल 7509020406 

महिला कांग्रेस की प्रदेश सचिव की शिकायत पर डाक्टर शुक्ला की जांच के आदेश जारी

मुलताई। नगर के अनमोल प्राइयवेट अस्पताल में गलत इंजेक्शन लगाने से महिला की कमर में इंफेक्शन फैलने का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि मंगलवार को एक और महिला ने डाक्टर प्रवीण शुक्ला पर गलत उपचार कर उसकी जान से खेलने का आरोप लगाया है।

महिला के पति ने एसडीएम को ज्ञापन सौंपते हुए बताया कि डाक्टर द्वारा उसकी पत्नी को टायफायड बताकर उपचार किया जा रहा था, लेकिन बैतूल में जांच के बाद पता कि उसको टायफायड नहीं है, गलत उपचार के कारण उसकी जान पर बन आई थी। वहीं महिला कांग्रेस की प्रदेश सचिव राजरानी परिहार ने भी इस मामले में एसडीएम को ज्ञापन सौंप कार्रवाई की मांग की। जिसके बाद एसडीएम ने मुलताई बीएमओ को इस पूरे मामले की जांच करने के आदेश दिए हैं और जांच के रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए कहा है।

नगर के पारेगांव रोड पर स्थित अनमोल प्रायवेट अस्पताल पर रोजाना नए आरोप लग रहे हैं। मुलताई निवासी उमेश प्रजापति ने मंगलवार को एसडीएम सीएच चनाप को ज्ञापन सौंपकर बताया कि उसकी पत्नी लक्ष्मी प्रजापति का स्वास्थ्य 15 अगस्त को खराब हो गया था। जिसके चलते उसे डाक्टर प्रवीण शुक्ला के दवाखाने लेजाकर उपचार करवाया गया। डाक्टर शुक्ला ने उसे बताया कि लक्ष्मी को टायफायड रोग है और उसका उपचार शुरू कर दिया। उपचार के दौरान लगभग 10 हजार रुपए का खर्च भी आ गया, लेकिन जब उसकी पत्नी को आराम नहीं लगा तो वह उसे उपचार कराने के लिए बैतूल लेकर गया।

जहां डाक्टरों ने उसे बताया कि महिला को टायफायड नहीं है, अभी तक महिला का गलत उपचार किया जा रहा था। यदि उसे बैतूल लाने में और देरी की जाती तो उसकी जान भी जा सकती थी। उमेश ने इस मामले में एसडीएम से उचित कार्रवाई की मांग की है। उमेश के साथ कांग्रेसी नेता सुमित शिवहरे भी शिकायत करने के लिए एसडीएम चनाप के पास पहुंचे थे। एसडीएम ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

इधर प्रदेश कांग्रेस की सचिव राजरानी परिहार ने भी मंगलवार को एक शिकायती आवेदन एसडीएम चनाप को सौंपा। जिसमें उन्होंने डाक्टर प्रवीण शुक्ला द्वारा ताप्ती वार्ड की महिला गायत्री उर्फ नान्हीं पति हरीसिंग पंवार का गलत उपचार करने आरोप लगाया हैै। डॉ प्रवीण शुक्ला के हॉस्पिटल में महिला के गलत उपचार करने से उसकी कमर में इंफेक्शन से घाव बन गया जिसके बाद उसका बेतुल में ऑपरेशन हुआ। राजरानी परिवार द्वारा इस मामले में उचित कार्रवाई की मांग की गई।

एसडीएम ने दिए जांच के आदेश

इस पूरे मामले में मंगलवार को एसडीएम सीएल चनाप द्वारा जांच के आदेश जारी किए गए है। जारी आदेश में उन्होंने मुलताई बीएमओ पल्लव अमृतफले को निर्देशित किया है कि उक्त मामले की जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत की जाए। इस जांच आदेश में उन्होंने कांग्रेसी नेत्री राजरानी परिहार के शिकायती आवेदन का जिक्र भी किया है, जिसमें उन्होंने बीएमओ को पूरे मामले से अवगत करवाया और जल्द से जल्द जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए आदेशित किया गया है। यहां उल्लेखनीय है कि डाक्टर शुक्ला के खिलाफ रोजाना शिकायती आवेदन आने से अब उक्त मामले तूल पकड़ रहे हैं, लोगों द्वारा उचित कार्रवाई की मांग की जा रही है।

मरीज के परिजनों और डाक्टर की बातचीत के आडियों हुए वायरल

इस पूरे मामले में सोशल मीडिया पर डाक्टर प्रवीण शुक्ला और मरीज के परिजनों की फोन पर हुई बात के चार आडियो वायरल हुए है। जिसमें दावा किया जा रहा है कि प्रवीण शुक्ला द्वारा बैतूल के डाक्टर से उक्त महिला के उपचार के बदले पैसे महिला के परिजनों से नहीं लेनी की बात कह रहे है और बोल रहे है कि वह स्वंय इसका बिल पेड करेंगे। इसके अलावा मरीज के परिजनों से भी उनकी बात हो रही है, जिसमें वह परिजनों को दिलासा दे रहे हैं कि जो घाव बना है, वह जल्द ही ठीक हो जाएगा। उक्त आडियों के सही होने की पुष्ठी हमारे द्वारा नहीं की जा सकती है, लेकिन सोशल मीडिया पर उक्त आडियों जमकर वायरल है।

इनका कहना

इस मामले में मंगलवार को भी शिकायते प्राप्त हुई है, जिसके बाद मुलताई बीएमओ को इस मामले में जांच के लिए आदेशित किया गया है।   सीएल चनाप एसडीएम मुलताई।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!