राष्ट्रीय खेल पुरस्कारों की इनामी राशि बढ़ाने पर विचार कर रही है भारत श्री नरेंद्र मोदी जी सरकार और उनके मंत्री खेल मंत्री श्री किरण रिजिजू जी 29 अगस्त को औपचारिक घोषणा कर सकते हैं राष्ट्रीय खेल दिवस के दिन. राष्ट्रीय खेल पुरस्कार दिए जाते इसी दिन.

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

मुंबई // गुणवंत सिंह बघेल : 9967086023

 

 

राष्ट्रीय खेल पुरस्कारों की इनामी राशि बढ़ाने पर विचार कर रही है भारत श्री नरेंद्र मोदी जी सरकार और उनके मंत्री खेल मंत्री श्री किरण रिजिजू जी 29 अगस्त को औपचारिक घोषणा कर सकते हैं राष्ट्रीय खेल दिवस के दिन. राष्ट्रीय खेल पुरस्कार दिए जाते इसी दिन.

 

 

भारत सरकार के द्वारा इस साल खेल पुरुष्कारो की राशि में बढ़ोतरी कर सकती है जिसमे खेल रत्न २५ लाख जो वर्तमान में ७.५ लाख मिलता था खेल रत्न जितने वाले को सम्मान निधि दी जाती रही है। इसके साथ अर्जुन पुरुष्कार जितने वाले विजेताओं को ५ लाख की निधि दी जाती रही है, जो अब विजेता को १५ लाख मिल सकते है अर्जुन पुरुष्कार जितने वाले विजेता को। इसकी घोषणा खेल मंत्री श्री किरण रिजिजू जी २९ अगस्त २०२० को कर सकते है।

राष्ट्रीय खेल पुरुष्कारों को निधि बढ़ाने के लिए खेल मंत्रालय योजना बना रहा है जिससे राशि में बहुत ही बढ़ोतरी की संभावना है और प्रस्ताव मंजूर हो जाता है तो खेल रत्न के खिलाडी २५ लाख था अर्जुन पुरुष्कार १५ लाख मिलेंगे। २००९ में भी राष्ट्रीय खेल पुरुष्कारो में बढ़ोतरी हो चुकी है।

पुरुष्कार राशि बढ़ोतरी के बाद विजेता खिलाड़ी को बड़ी राशि निधि इसी साल से मिलेगी , वर्तमान में खेल रत्न विजेता खिलाडी को ७.५ लाख मिलता और अर्जुन पुरुष्कार विजेता को ५ लाख नकद निधि दी जाती है। जैसा की इसकी जानकारी जो पता चली है की की खेल मंत्रालय इस योजना के प्रस्ताव को अंतिम रूप देने में लगा हुआ है। और हो सकता है २९ अगस्त २०२० को खेल मंत्री श्री किरण रिजिजू जी औपचारिक घोषणा कर सकते है राष्ट्रीय खेल दिवस पर, साथ साथ राष्ट्रीय खेल पुरुष्कार इसी दिन हर साल दिए जाते है।

राष्ट्रिय खेल पुरुष्कारो की इनाम में जो निधि दी जाती है उसमे बढ़ोतरी की बहुत संभावना है प्रस्ताव भी तैयार हो चूका है जिससे राशि बढ़ना निश्चित है। खेल पुरुष्कारो की जो इनामी राशि है वो बहुत कम है इसकी शिकायत खिलाडियों ने खुद की थी जिसको देखते हुए खेल मंत्री ने स्वयं देखा और पूरी जानकारी ली साथ साथ पूरी दिलचस्पी दिखाते हुए गौर किया खिलाडियों की शिकायत को , ये सब की जानकारी खेल मंत्रालय के सूत्रों द्वारा पीटीआई से कहा है।

 

 

राष्ट्रीय खेल रत्न के लिए इस बार रोहित शर्मा, विनेश और रानी के साथ ही ५ खिलाडी है , और अर्जुन पुरुष्कार के लिए २९ खिलाडी है।

यदि ये प्रस्ताव जो विचार के लिए है उन्होंने कहा और सरकार प्राप्त प्रस्ताव को स्वीकार कर लेती है तो ख़ुशी की बात ये होगी की ये इनामी राशि इसी साल से दिया जायेगा। मगर जब खेल सचिव श्री रवि मित्तल जी से सम्पर्क करने पर उन्होंने कहा की इस प्रस्ताव में अवगत नहीं हूँ। साथ साथ श्री मित्तल जी ने कहा की मुझे कुछ नहीं पता और में इस बारे में कुछ भी नहीं जानता।

द्रोणाचार्य पुरस्कार की इनामी राशि 10 लाख रुपये कर सकते है, जीवन पर्यंत के समान ही ५ लाख रुपये हैं. साथ साथ ध्यानचंद और द्रोणाचार्य जीवन पर्यंत विजेता पुरस्कारों की इनामी राशि भी ५ लाख से 15 लाख रुपये करने का प्रस्ताव है

भारत सरकार द्वारा यदि ये प्रस्ताव स्वीकार कर लिया जाता है तो २९ अगस्त २०२० के पूर्व ही लागु हो सकता है। जिसमे सरकार को बहुत बड़ी इनामी राशि को खर्च करना होगा इसका कारण की खेल मंत्रालय की चयन समिति ने ६२ नामो को आगे बढ़ाया है।

जिसमे कुछ नाम इस प्रकार है :- महिला हॉकी खिलाड़ी रानी रामपाल, क्रिकेटर रोहित शर्मा, टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा, पहलवान विनेश फोगाट, रियो पैरालंपिक के स्वर्ण पदक विजेता ऊंची कूद के एथलीट मरियप्पन थंगवेलु का नाम खेल रत्न पुरस्कार के लिए चयनित आगे भेजा गया है , और अर्जुन पुरस्कार के लिए 29 खिलाड़ियों के नाम को आगे बढ़ाया गया है।

साथ साथ द्रोणाचार्य पुरस्कार के लिए 13 प्रशिक्षकों, और ध्यानचंद पुरस्कार के लिये 15 नाम को आगे बढ़ाया गया है। इन सभी नामो की सिफारिश की गई , खेल मंत्री की जब स्वीकृति मिल जाएगी उसके बाद ही फाइनल लिस्ट आएगी।

.


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!