मामा के राज में खुलेआम घूम रहा भांजी से बलात्कार का आरोपी – आखिर किसके दबाव में आरोपी को बचा रही पुलिस ?

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

 

भोपाल। राजधानी में अपराध का ग्राफ लगातार बढ़ता ही जा रहा है। अपराधी बेख़ौफ़ होकर घटना को अंजाम दे रहे हैं। अपराधियों के हौसले के आगे पुलिस भी लाचार दिखाई दे रही है। दरअसल हम बात कर रहे हैं। राजधानी के उपनगर संत हिरदाराम की जहां पुलिस बलात्कार के आरोपी को बचाने में जुटी है। गांधीनगर क्षेत्र स्थित लक्ष्मी विक्योमल सराफ हायर सेकेंडरी स्कूल संचालक के नाबालिग बेटे पर 16 साल की नाबालिग छात्रा के साथ बलात्कार का आरोप है। घटना के बाद से पुलिस राजनीतिक दबाव में आरोपी को बचाने की कोशिश कर रही है। हालांकि इस मामले में पुलिस ने पीड़िता के शिकायत पर धारा 363,366,376,506 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। लेकिन आरोपी को जमानत मिल गई और खुलेआम घूम रहा है और पीड़िता और उसके परिजनों को धमका रहा है। पीड़िता के परिजनों ने पुलिस पर भी आरोपी पक्ष को संरक्षण देने का आरोप लगाया है।

लक्ष्मी विक्योमल सराफ हायर सेकेंडरी स्कूल के संचालक का बेटा है आरोपी

घटना 19 अगस्त की है। स्कूल संचालक का बेटा पीड़िता को किताब दिलाने का कहकर अपनी एक्टिवा गाड़ी पर बैठा कर सीहोर रोड स्थित मोमेंट्स कैफे एंड रेस्टोरेंट (हुक्का लाउंज) में ले गया था। जहां उसने कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ पिलाकर बेहोशी की हालत में उससे बलात्कार किया और उसके नग्न फोटो खींचे और अश्लील वीडियो बना लिए। उसके बाद से आरोपी पीड़िता को लगातार धमका रहा है। बलात्कार के आरोपी पीड़िता को उसके दोस्तों से भी सेक्स करवाने का दबाव बनाता रहा। जब पीड़िता नहीं मानी तो आरोपी ने 22 अगस्त को पीड़िता के नग्न फोटो सोशल साइट इंस्टाग्राम पर अपलोड कर दिए। जब पीड़िता के भाई ने इंस्टाग्राम पर बहन के अश्लील फोटो देखें तो उसने अपने माता पिता को बताया। डरी-सहमी युक्ति से जब उसकी मां ने पूरी बात पूछी तब कहीं पीड़िता ने आपबीती बताई । इसके बाद परिजन पीड़िता को लेकर 27 अगस्त को महिला थाना पहुंचे और उन्होंने आरोपी के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कराई। पीड़िता के परिजनों का कहना है कि पुलिस ने एफआईआर तो दर्ज कर ली लेकिन ब्लैक मेलिंग की धारा नहीं लगाई। परिजनों का यह भी आरोप है कि पुलिस ने पीड़िता के अश्लील फोटो भी डिलीट करवा दिए। पुलिस ने पीड़िता को एफ आई आर की कॉपी भी तब दी जब आरोपी की जमानत हो गई । बलात्कार के केस में जमानत मिलने के बाद अब आरोपी खुलेआम घूम रहा है और पीड़िता और पीड़िता के परिजनों को धमकी दे रहा है। इतना ही नहीं आरोपी पक्ष पीड़िता के पिता को झूठे केस में जेल कराने की धमकी भी दे रहा है। पीड़िता और उनके परिजनों ने इस मामले में मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा से भी न्याय की गुहार लगाई है। आरोपी पक्ष अपने रसूख और पैसे के दम पर खुलेआम पीड़िता को धमका रहा है।

सवालों के घेरे में पुलिस की जांच

सीहोर रोड स्थित मोमेंट्स कैफे एंड रेस्टोरेंट (हुक्का लाउंज) किसका है? पुलिस ने होटल मालिक से पूछताछ क्यों नहीं की? पुलिस ने होटल के सीसीटीवी फुटेज क्यों नहीं लिए? पुलिस ने ब्लैकमेलिंग की धारा क्यों नहीं लगाई? यह वो सवाल हैं जो पुलिस की जांच पर उठ रहे हैं। एफआइआर दर्ज होने के बाद भी पुलिस ने पीड़िता को तत्काल एफआईआर की कॉपी क्यों नहीं दी?

 


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!