पितृपक्ष में जीवित बुजुर्गों की सेवा करने की दी प्रेरणा मां की स्मृति में वृद्धाश्रम में भोजन करा के कंबल किए वितरित

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

ब्यूरो चीफ मुलताई, जिला बैतूल // राकेश अग्रवाल : 7509020406

 

मुलताई। समाज में श्राद्धपक्ष के दौरान अपने पितृ के लिए लोग विभिन्न आयोजन करते हैं।

कहीं कौवों को भोजन कराया जाता है तो कहीं दान किया जाता है ताकि अपने पितृ की आत्मा को शांति मिल सके। इनसे अलग हटकर पूर्व सरपंच उदेलाल वरवड़े द्वारा श्राद्ध पक्ष के दौरान अपनी माताजी की स्मृति में नगर के अमरावती मार्ग पर स्थित वृद्धाश्रम पहुंचकर बेसहारा बुजुर्गों को भोजन कराने के बाद उन्हे कंबल वितरित किए गए।

इस संबन्ध में उदेलाल वरवड़े की पत्नी ममता वरवड़े ने बताया कि पितृपक्ष में जहां मृत परिजनों के लिए बहोत से आयोजन किए जाते हैं वहीं जीवित बुजुर्गों की उपेक्षा की जाती है जबकि जीवित वृद्धों की सेवा करना सबसे बड़ा पुण्य माना गया है इसलिए जो जीवित हैं पहले हमें उनका ध्यान रखना है।

उन्होने बताया कि हमारे घर सहित आसपास एैसे बड़ी संख्या में बुजुर्ग हैं जिन्हे सेवा की आवश्यकता है इसलिए हमारा यह धर्म और कत्र्तव्य है कि हम उनकी सेवा करें ताकि जीवित लोगों का आशिर्वाद हमें मिल सके। वरवड़े दंपत्ति द्वारा पितृपक्ष में जीवित बुजुर्गों की सेवा अन्य लोगों के लिए भी प्रेरणास्पद है।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!