प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमी के साथ मिलकर उतारा पति क़ो मौत के घाट……

Spread the love

http://aninewsindia.com

ANI News india: जिला ब्यूरो चीफ उज्जैन // विष्णु शर्मा : 8305895567

ग्राम अंतरालीया के अंधे कत्ल का एसपी ने किया खुलासा…

नागदा थाना क्षेत्र के अन्तर्गत आने वाले ग्राम अंतरालिया में हुए अंधे कत्ल का खुलासा आज पुलिस अधीक्षक महोदय उज्जैन सुश्री सविता सुहाने द्वारा नागदा थाना परिसर में प्रेस वार्ता के माध्यम से किया गया।

*क्या है पूरी घटना -*
नागदा थाना क्षेत्र के ग्राम अंतरालिया में 7 सितम्बर 2020 की सुबह 5:00 बजे मृतक के भाई की पत्नी पंखा भाई ने कमल सिंह पिता अमर सिंह बंजारा को अपने घर के सामने सड़क पर घायल अवस्था में बेहोशी की हालत में गिरा हुआ मिलने पर परिजनों को बताया तब परिजनों द्वारा 108 नंबर पर फोन लगाकर मृतक के भाई वकील, राधेश्याम बंजारा, मामा राम सिंह बंजारा, जीजा भुवन सिंह घायल कमल सिंह बंजारा को 108 से नागदा के शासकीय अस्पताल तत्काल लेकर आए जहां से घायल को जनसेवा अस्पताल रेफर कर दिया गया जनसेवा अस्पताल में डॉक्टरों द्वारा प्राथमिक उपचार करने के बाद घायल कमल सिंह की स्थिति को देखते हुवे 15 मिनिट में ही उज्जैन अपोलो अस्पताल भेज दिया गया । घायल कमल सिंह को अपोलो अस्पताल में कोमा की हालत में भर्ती किया गया जिसकी इलाज के दौरान 8 सितम्बर 2020 को सुबह 10.30 बजे के करीब मृत्यु हो जाने पर शासकीय अस्पताल उज्जैन लाया गया।

*पुलिस के द्वारा को गई कार्यवाही*
7 सितंबर 2020 को जनसेवा अस्पताल द्वारा नागदा पुलिस को फोन पर सूचना दी गई की कमल सिंह बंजारा घायल अवस्था में इलाज के लिए लाया गया है। सूचना मिलते ही तत्काल नागदा पुलिस जनसेवा अस्पताल पहुंची। किन्तु तब तक घायल कमल को उज्जैन के लिए भेजा जा चुका था। जिसके बाद दिनांक 7 सितम्बर 2020 को उज्जैन जा कर घायल से पुलिस द्वारा पूछताछ नहीं हो सकी कारण था घायल कमल बेहोशी की हालत में था। डॉक्टरों द्वारा घायल को कोमा में होना बताया गया था। परिजनों से पूछताछ की गई तो कोई भी संतोष जनक जानकारी नहीं मिली। 08 सितम्बर 2020 को नागदा पुलिस को घायल कमल की मृत्यु की सूचना मिली। नागदा पुलिस उज्जैन पहुंच कर पीम करवाया एवं मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया।

उज्जैन पुलिस अधीक्षक सुश्री सविता सुहाने द्वारा घटना की सूचना प्राप्त होने पर तत्काल गंभीरता पूर्वक घटना को संज्ञान में लेकर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण आकाश भूरिया व नगर पुलिस अधीक्षक नागदा मनोज रत्नाकर को आवश्यक निर्देश देकर बारीकी से हर पहलू पर मर्ग की जांच करने के लिए थाना प्रभारी श्याम चंद्र शर्मा को आदेश दिए। वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन पर दिनांक 09 सितंबर 2020 को थाना नागदा द्वारा घटनास्थल ग्राम अंतरालिया पहुंचकर मृतक के अंतिम संस्कार के बाद घटना स्थल का बारीकी से निरीक्षण किया गया वहीं परिजनों से पूछताछ की गई जिस पर किसी के भी द्वारा कोई स्पष्ट जानकारी नहीं मिली। नागदा पुलिस द्वारा लगातार ग्राम अंतरालिया में रहकर ग्रामीणों से भी पूछताछ की गई किंतु कोई स्पष्ट खुलकर बोलने को तैयार नहीं हुआ। मृतक के पारिवारिक स्थिति के संबंध में ग्रामीणों से जानकारी ली गई जिसमें मृतक की पत्नी के चरित्र के संबंध में शंकप्रद होना सामने आया। 13 सितंबर 2020 को पीएम रिपोर्ट प्राप्त होने पर मृतक के सिर में किसी ठोस हथियार से चोट आना पाया गया। पुनः मृतक के बच्चों व परिजनों से अलग-अलग बारीकी से पूछताछ करने पर जानकारी लगी कि मृतक की पत्नी प्रेम बाई वह राधेश्याम बंजारा निवासी रठडा के बीच अवैध प्रेम संबंध थे, 06 सितंबर 2020 की शाम करीबन 4:00 बजे राधेश्याम बंजारा ग्राम अंतरालिया मृतक कमल सिंह के घर पर आया था जिसके बाद मृतक कमल सिंह बंजारा व राधेश्याम बंजारा उन्हेल जाकर मटन लेकर घर अंतरालिया आए थे , शाम 6:00 बजे के तकरीबन राधेश्याम ग्राम अंतरालिया से चला गया था रात के 12:00 बजे राधेश्याम बंजारा दोबारा अंतरालिया आया जिसने मृतक की पत्नी प्रेम बाई के साथ मिलकर कमल सिंह बंजारा को सिर पर लाठी से वार कर दोनों ने खून से लथपथ घायल अवस्था में कमल सिंह को घर के बाहर फेंक दिया था। मृतक की पत्नी प्रेम बाई को तलब करने पर सामने नहीं आई जिसके बाद थाना वापसी पर संपूर्ण मर्ग जांच से 14 सितंबर 2020 को आरोपी राधेश्याम पिता बिहारी लाल बंजारा निवासी ग्राम रठड़ा जलोदिया व प्रेम बाई पति कमल सिंह बंजारा निवासी ग्राम अंतरालिया के विरुद्ध अपराध क्रमांक 478 /2020 धारा 302, 201, 34 भादवी का पंजीबद्ध किया और विवेचना में लिया गया।
जिसके बाद कायमी कर तत्काल वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में नागदा पुलिस द्वारा आरोपी प्रेम बाई पति कमल सिंह बंजारा को उसके घर ग्राम अंतरा लिया से गिरफ्तार कर पूछताछ में स्वीकार किया जिसके बाद आरोपी राधेश्याम पिता बिहारी लाल बंजारा निवासियों को उसके ससुराल जलोदिया से हिरासत में लेकर थाना नागदा लाकर दोनों आरोपियों से अलग-अलग बारीकी से पूछताछ करने पर घटना की संपूर्ण जानकारी ली। खून से सने कपड़े ,हत्या में इस्तमाल लट्ठ तथा मोटर साइकिल जप्त कर आरोपियों को न्यायालय में पेश किया गया।

*पूछताछ पर घटना का विवरण वह कारण*
आरोपी प्रेम बाई पति कमल सिंह बंजारा उम्र 38 साल निवासी ग्राम अंतरालिया ने घटना स्वीकार करते हुए बताया कि ग्राम रठडा के राधेश्याम पिता बिहारीलाल का करीबन 1 वर्ष से प्रेम प्रसंग चल रहा था राधेश्याम से 06 सितंबर 2020 को तकरीबन रात 9:00 बजे फोन से मेरी बात हुई तो मैंने उसे घर पर बुलाया था। वह अपनी मोटर सायकल से मेरे गांव आया था जब तक मेरा पूरा परिवार सो गया था । रात में राधेश्याम ने घर पर ही शराब पी उसके बाद हम दोनों ने शारीरिक संबंध बनाए और राधेश्याम जाने लगा तो मैंने उससे कहा कि मैं अपने पति कमल सिंह से बहुत परेशान हो गई हूं वह मुझे रोज शराब पीकर गाली गलौज करता है यदि तुम इसे नहीं मारोगे तो मैं तुम्हारे नाम से जहर खा कर मर जाऊंगी तो इतने में कमल सिंह की नींद खुल गई तो वह हमें साथ देख कर चिल्ला चोट करने लगा तो मैंने मेरे पति कमल सिंह का मुंह दबा दिया और राधेश्याम ने मेरे घर में पड़ा लट्ठ पलंग के नीचे से उठाकर मेरे पति कमल सिंह के सिर में मार दिया है जिससे उसे खून निकलने लगा और कमल सिंह बेहोश हो गए फिर मैंने और राधेश्याम ने मिलकर कमल सिंह को पलंग से उठाकर उसका चेहरा व खून साफ करके उसे मेरी देवरानी कृष्णा भाई के घर के बाहर दीवाल के पास पटक दिया था इसी प्रकार आरोपी राधेश्याम ने पूरी घटनाक्रम बताई।

सराहनीय कार्य – ए एस पी आकाश भूरिया,सी एस पी मनोज रत्नाकर, थाना प्रभारी श्याम चंद्र शर्मा, उप निरीक्षक हरिज्ञान सिंह, प्रशांत गुंजाल, प्रीति कनेश, सह उप निरीक्षक आर एस पवार, सुनील परमार, प्रधान आरक्षक भेरू सिंह, आरक्षक गोविंद, ईश्वर सिंह, दिनेश गुर्जर, सुखदेव, महिला आरक्षक भूली धनगर, श्रद्धा सिंह, सैनिक हरिराम, आरक्षक संजीव जाट का आरोपियों से पूछताछ वह गिरफ्तारी के साथ माल जब्ती में सराहनीय योगदान रहा।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!