आरएसएस (RSS) के सरसंघचालक श्री मोहन भागवत जी का पश्चिम बंगाल में चौथा दौरा जमीनी स्तर पर आरएसएस के बढ़ते कदम

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

मुंबई // गुणवंत सिंह बघेल : 9967086023

 

आरएसएस (RSS) के सरसंघचालक श्री मोहन भागवत जी का पश्चिम बंगाल में चौथा दौरा जमीनी स्तर पर आरएसएस के बढ़ते कदम

पश्चिम बंगाल (वेस्ट बंगाल) में भी जल्द चुनाव होने वाले है २०२१ में , जिसको देखते हुए आरएसएस ने अपने कदम बड़ा दिए , क्यूंकि जमीनी स्तर पर आरएसएस का ज्यादा असर नहीं दीखता मगर थोड़ा थोड़ा दिखाई देने लगा है. इसलिए आरएसएस ने अपनी मुहीम को तेज करते हुए , वेस्ट बंगाल में अपने को मजबूत करने के लिए पश्चिम बंगाल (वेस्ट बंगाल) में आरएसएस के प्रमुख सरसंघचालक श्री मोहन भागवत जी का एक साल के अंदर उनका ये ४ (चौथा दौरा ) है।

पश्चिम बंगाल में अभी कोई चुनाव नहीं होना है , उसके बाबजूद चुनाव होने में बहुत समय है। लेकिन आरएसएस ( राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ) का अपनापन वेस्ट बंगाल की और बढ़ता जा रहा है। और जल्द आने वाले समय हो सकता है की , की आरएसएस का जबरदस्त वेस्ट बंगाल में वर्चव देखने को मिले। उसका कारण देखने को ये है की, आरएसएस के प्रमुख सरसंघचालक श्री मोहन भागवत जी का चौथा (४) दौरा है पश्चिम बंगाल (वेस्ट बंगाल) का एक साल के अंदर।

 

जल्द ही आरएसएस के प्रमुख सरसंघचालक श्री मोहन भागवत जी कलकत्ता से उड़ीसा जायेंगे न्यूज एजेंसी आईएएनएस की खबर के मुताबिक। इसके पहले श्आरएसएस के प्रमुख सरसंघचालक श्री मोहन भागवत जी २२ सितंबर को कलकत्ता पहुंचे थे .

संघ सूत्रों के मुताबिक बुधवार को आरएसएस के प्रमुख सरसंघचालक श्री मोहन भागवत जी ने कुछ संघ प्रचारकों से मुलाक़ात कर राज्य की जानकारी का जायजा लिए, उसके बाद २४ सितंबर को आरएसएस के प्रमुख सरसंघचालक श्री मोहन भागवत जी संघ और सहयोगी संगठनों के लोगों से मुलाक़ात की। और २५ सितंबर को आरएसएस के प्रमुख सरसंघचालक श्री मोहन भागवत जी सुबह कलकत्ता से रवाना होंगे।

संग के सूत्रों में मुताबिक यदि हम माने तो आरएसएस के प्रमुख सरसंघचालक श्री मोहन भागवत जी का पश्चिम बंगाल का ये चौथा दौरा है , इससे आरएसएस की कुछ खास ही रणनीति के संकेत मिलते है। क्यूंकि आनेवाले २०२१ में पश्चिम बंगाल में विधानसभा के चुनाव होने वाले है , जिसको देखते हुए संघ के शीर्ष बड़े अधिकारीयों का पश्चिम बंगाल में लगातार ध्यान विशेष रूप से रखा जा रहा है। और आरएसएस खासतौर पे ग्रामीण क्षेत्रों में स्वयं सेवको को तैयार करने में लगातार जुटी हुई है।

आरएसएस (संग) के प्रमुख सरसंघचालक श्री मोहन भागवत जी पिछले एक साल में ३१ अगस्त को कलकत्ता आये थे , उसके बाद १९ सितंबर २०१९ को भी पश्चिम बंगाल का दौरा कर चुके है। और इस दौरे में उन्होंने बहुत बैठके की और और बहुत आवश्यक दिशा निर्देश दिए थे , सितमबर २०२० को आरएसएस के प्रमुख सरसंघचालक श्री मोहन भागवत जी का ये चौथा दौरा है।

इसके पहले आरएसएस के प्रमुख सरसंघचालक श्री मोहन भागवत जी अयोध्या का भी दौरा कर चुके है श्री राम मंदिर नव निर्माण के शिलान्यास में अपना योगदान देने पहुंचे थे।

 


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!