इस बीच दिल्ली सरकार के शहरी विकास विभाग के अधिकारियों ने तीनों एमसीडी को अपने-अपने अस्पतालों को दिल्ली सरकार को सौंपने पर विचार करने के लिए लिखा है. शहरी विकास विभाग ने कहा कि अगर वे अपने कर्मचारियों को भुगतान करने में असमर्थ हैं. कर्मचारियों को पीड़ा को दूर करने के लिए अस्पतालों को दिल्ली सरकार को सौंप दे.

दिल्ली सरकार और नगर निगम के बीच पिछले कुछ महीनों से कर्मचारियों को वेतन का भुगतान न करने को लेकर मतभेद की खबरें आ रही हैं. इस बीच हिंदू राव अस्पताल के कर्मचारियों नेअपनी लंबित वेतन पाने के लिए विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया. एमसीडी का आरोप है कि दिल्ली सरकार बकाए का भुगतान नहीं कर रही है, जबकि सरकार इससे इनकार कर चुकी है.