आईसीयू वार्ड में चिकित्सक के अभाव में लगा ताला, आयुष मंत्री रामकिशोर कावरे ने किया था दो दिन पहले शुभारंभ भाजपा नगर अध्यक्ष ने उठाये सवाल

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

ब्यूरो चीफ बालाघाट // वीरेंद्र श्रीवास : 83196 08778

 

 बालाघाट में दो दिन पहले आयुष व जल संशाधन राज्यमंत्री रामकिशोर कावरे द्वारा जिला अस्पताल में शुभारंभ किये गये 17 बेड के आधुनिक आईसीयू वार्ड चिकित्सक के अभाव में वहां पर ताला लग गया और इसके चलते वहां पर एक मरीज को भर्ती नहीं किया जा सका। जिसके चलते उसकी मौत हो गई। इस मामले को लेकर भाजपा के नगरअध्यक्ष ने ही सवाल उठाते हुये अस्पताल प्रबधंन व जिला ्रप्रशासन की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाये हैं।

बता देवें कि आईसीयू वार्ड का निर्माण एक करोड़ 30 लाख रूपये की लागत से हुआ हैं। जिसमें 17 आईसीयू बेड हैं। इस आईसीयू केंद्र का निर्माण वर्तमान में कोविड-19 के गंभीर मरीजों के लिये ही किया गया हैं। आईसीयू वार्ड के अभाव में कोविड गंभीर मरीजों को ङ्क्षछदवाड़ा, नागपुर या जबलपुर रिफर किया जा रहा था। इसके बनने से कोविड मरीजों को रिफर नहीं होने की बात शुभारंभ अवसर पर आयुष मंत्री रामकिशोर कावरे ने किया था।

https://www.youtube.com/watch?v=p3ZEUEwOtuc

इस आईसीयू वार्ड ठीक दूसरे दिन शाम में तब सुर्खियों मे आ गया जब भाजपा नगर अध्यक्ष के चाचा को गंभीर अवस्था में इस नवनिर्मित्त आईसीयू वार्ड में लाया गया और वहां पर ताला लगा पाया गया। इसकी मुख्य वजह यह सामने आयी कि चिकित्सक नहीं होने से तालाबंदी हैं। फलस्वरूप मरीज को गोंदिया रिफर कर दिया गया और उसकी मौत हो गई।

इस मरीज के मौत होने के बाद भाजपा नगर अध्यक्ष सुरजीत सिंह ठाकुर ने गंभीर आरोप लगाते हुये आईसीयू वार्ड के शुभारंभ करने को लेकर सवाल उठाये और कहा कि जब चिकित्सक नहीं थे ऐसा करने की आवश्यकता नहीं थी। हमारे जनप्रतिनिधियों को प्रशासन ने गुमराह किया हैं जिसकी वह निंदा करते हैं। यह जिले के लोगों के लिये चिकित्सक नहीं होने से गलत संदेश जाने वाला आईसीयू वार्ड हैं।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!