ग्वालियर: दुष्कर्म के आरोपी ने पीड़िता और उसके पति पर पेट्रोल डालकर लगा दी आग, 7 साल की बेटी भी झुलसी

Spread the love

 ANI  NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 9893221036

 

  • थाटीपुर के सुरेश नगर की घटना
  • अस्पताल में भर्ती, आरोपी फरार

एक युवक ने 10 दिन पहले अपने दाेस्त की पत्नी से घर में घुसकर दुष्कर्म किया। महिला ने पति को घटना बताई और जब उसके पति ने आरोपी से फोन पर बात की तो वह जिंदा जलाने की धमकी देने लगा। इस कारण महिला और उसके पति ने डर की वजह से शिकायत नहीं की। नतीजा- यह हुआ कि आराेपी फिर से महिला को मिलने के लिए बुलाने लगा, लेकिन उसने ऐसा करने से इनकार कर दिया।

सोमवार सुबह किसी तरह पीड़िता का पति हिम्मत जुटाकर थाटीपुर थाने पहुंचा, लेकिन उसकी सुनवाई नहीं हुई। इसके करीब पांच घंटे बाद शाम को दुष्कर्मी पेट्रोल लेकर उसके घर में घुस गया। उसने युवक पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी। उसे बचाने आई महिला और उसकी 7 वर्षीय मासूम बेटी भी जल गई। आरोपी पर भी पेट्रोल गिर गया, जिससे आग की लपटें उस तक भी पहुंच गई।

घटना थाटीपुर क्षेत्र के सुरेश नगर की है। पीड़िता और उसके पति व बच्ची को जेएएच की बर्न यूनिट में भर्ती किया गया है। तीनों की हालत गंभीर है। एएसपी सुमन गुर्जर और महिला तहसीलदार पीड़िता के बयान लिए। पुलिस ने बताया कि घटना में आरोपी विनोद कटारे निवासी भीमनगर थाटीपुर भी जल गया है। उसके परिचितों का कहना है कि वह निजी अस्पताल में भर्ती है। पुलिस की दो टीमें शहर के सभी हॉस्पिटल में आरोपी की तलाश कर रही हैं। आरोपी पर दुष्कर्म और हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया गया है।

पीड़िता बोली- आरोपी ने दुष्कर्म के बाद धमकाया, डरते-डरते थाने गए तो सुनवाई नहीं हुई, शाम को वह पेट्रोल लेकर हमें जलाने घर में घुस आया

इसी जगह दंपति को जलाया गया।

31 अक्टूबर को मेरे पति दुकान पर गए थे और बच्चे ट्यूशन गए थे। शाम 4.30 बजे मैं घर में अकेली थी। इसी दौरान पति का दोस्त विनोद कटारे घुस आया। उसने मेरे साथ ज्यादती की। इसके बाद बोला कि अगर किसी से कुछ भी कहा तो जान से मार देगा। मेरे बच्चे कुछ देर बाद घर आ गए। रात में जब पति आए तो मैंने उन्हें घटना बताई। पति ने विनोद को फोन लगाया तो वह जिंदा जलाने की धमकी देने लगा। इससे मैं और मेरे पति डर गए। इसके बाद वह फिर कॉल करने लगा और मुझे मिलने के लिए बुलाने लगा। मैंने फोन उठाना बंद कर दिया तो पति को धमकाने लगा। रविवार को रातभर फोन करता रहा।

जब हम परेशान हो गए तो सोमवार को पति शिकायत करने थाटीपुर थाने गए लेकिन सुनवाई नहीं हुई। उन्हें एक घंटे बाद आने की कहकर पुलिसकर्मियों ने टरका दिया। शाम करीब 5 बजे विनोद घर में पेट्रोल लेकर घुस आया। उसने मेरे पति के ऊपर पेट्रोल डाल दिया। मैं और बेटी पति को बचाने दौड़े तो उसने हम पर भी पेट्रोल डाल दिया और फिर आग लगा दी। इस दौरान पेट्रोल उस पर भी गिर पड़ा तो उसमें भी आग लग गई। वह जलता हुआ बाहर की तरफ भागा। आसपास के लोगों ने हमारे ऊपर पानी डालकर आग बुझाई और फिर अस्पताल लाए। अगर पुलिस सुबह हमारी सुनवाई कर लेती और आरोपी को पकड़ लिया जाता और यह घटना नहीं होती।
-जैसा पीड़िता ने पुलिस को बताया

पुलिस की लापरवाही

पुलिस की लापरवाही जानलेवा बन गई। पीड़िता के पति की शिकायत को अगर पुलिस गंभीरता से लेती तो शायद आरोपी पहले ही पकड़ लिया जाता और वह इतनी बड़ी घटना को अंजाम नहीं दे पाता।

पति-पत्नी की हालत गंभीर

पीड़िता और उसके पति की हालत गंभीर है। दाेनों को बोलने में भी परेशानी हो रही है। आरोपी के बारे में पता लगा है कि वह भी काफी जल गया है। पीड़िता की बेटी के दोनों हाथ जल गए हैं। आरोपी विनोद कटारे पर दुष्कर्म और हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया गया है।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!