भोपाल में नौकरी से बाहर निकालने के खिलाफ आंदोलनरत स्वास्थ्य कर्मियों पर शिवराज की पुलिस ने लाठी चार्ज किया है।

Spread the love

 ANI  NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 9893221036

 

दुनिया कोरोना योद्धाओं को सलाम कर रही है, शिवराज जी की सरकार इन बच्चियों पर लाठी बरसा रहे हो।

नीलम पार्क में प्रदर्शन पर बैठे 500 से अधिक कोविड-19 स्वास्थ्य कर्मचारियों को पुलिस ने लाठियां मारीं। प्रदर्शनकारी अनूपपुर निवासी चंदा राठौर ने बताया कि उन्हें स्टाफ नर्स के लिए तीन महीने के लिए रखा गया था। मध्यप्रदेश शासन ने कुल 6213 कर्मचारियों को कोरोना के दौरान रखा था। इनमें स्टाफ नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ, लैब टेक्नीशियन, फार्मासिस्ट समेत अन्य स्टाफ शामिल था। पुलिस उन्हें काफी देर से हटने के लिए कह रही थी, लेकिन नहीं मानने पर पुलिसकर्मियों ने उन्हें जबरन उठाने का प्रयास किया।

असल में उन्हें सिर्फ एक दिन की अनुमति थी, जबकि आज गैस पीड़ित संगठनों को प्रदर्शन के लिए जगह दी गई थी। ऐसे में पुलिस के जबरन हटाने के कारण प्रदर्शनकारी पुलिस से भिड़ गए। इसके बाद पुलिस ने उन पर जमकर लाठियां भांजी। पुलिस ने महिलाओं तक को नहीं छोड़ा। प्रदर्शन में महिलाओं समेत 15 से अधिक लोगों को चोटें आई हैं, जबकि करीब 15 प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!