टीएल बैठक में कलेक्टर ने दिये अधिकारियों को निर्देश

Spread the love

 ANI  NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 9893221036

 

आज 05 जनवरी 2021 को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में टीएल बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने शासकीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों के क्रियान्वयन के संबंध में अधिकारियों को दिशा निर्देश दिये। बैठक में जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती उमा महेश्वरी, अपर कलेक्टर श्री फ्रेंक नोबल ए, श्री शिवगोविंद मरकाम, सभी एसडीएम, जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, नगरीय निकायों के मुख्य नगर पालिका अधिकारी एवं अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

लोक सेवा गारंटी के प्रकरण समय सीमा में निराकृत करने के निर्देश

बैठक में कलेक्टर श्री आर्य ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि लोक सेवा गारंटी अधिनियम के प्रकरणों का समय सीमा में निराकरण करें। समय सीमा में निराकरण नहीं होने पर अब दोषी अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी नहीं किया जायेगा, बल्कि सीधे उन पर विलंब के लिए 250 रुपये प्रति दिन की दर से जुर्माना लगाया जायेगा। सभी अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि वे अपने कार्यालय के सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारियों के पेंशन प्रकरण तैयार कर सेवानिवृत्ति के तीन माह पूर्व जिला पेंशन कार्यालय में अनिवार्य रूप से प्रस्तुत करें। अन्यथा कार्यालय प्रमुख का वेतन रोकने की कार्यवाही की जायेगी। बैठक में इस बात पर भी नाराजगी जाहिर की गई कि पूर्व में सेवानिवृत्त हो चुके विभिन्न विभागों के 64 कर्मचारियों के पेंशन प्रकरण अभी तक लंबित है और उनके पीपीओ जारी नहीं हो सके है। ऐसे लंबित पेंशन प्रकरणों का त्वरित निराकरण कराने के निर्देश दिये गये।

संबल योजना के शेष हितग्राहियों का शीघ्र सत्यापन करने के निर्देश

बैठक में जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को निर्देशित किया गया वे संबल योजना के हितग्राहियों के सत्यापन का कार्य तेजी से पूर्ण करें। कुछ जनपद पंचायतों में बहुत अधिक संख्या में प्रकरण सत्यापन के लिए लंबित है। सत्यापन नहीं होने के कारण संबल कार्ड धारक योजना के लाभ से वंचित हो सकता है और इसकी जिम्मेदारी जनपद सीईओ की होगी। बैठक में सभी विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि जिन हितग्राहीमूलक योजनाओं में राशि सीधे हितग्राही के खाते में जमा कराई जाती है, उसमें से ट्रांसेक्सन असफल हो रहे है। ऐसे प्रकरणों की जांच कर हितग्राहियों के खाते में शीघ्र राशि जमा कराई जाये।

पीएम किसान सम्मान निधि के लिए छूटे किसानों का सत्यापन करने के निर्देश

बैठक में सभी एसडीएम को निर्देशित किया गया कि वे अपने क्षेत्र के मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना एवं प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के पात्र किसान जो योजना के लाभ से वंचित रहे गये हैं, उनका शीघ्र सत्यापन करायें। इस कार्य में किसी भी तरह की लापरवाही नहीं होना चाहिए। सभी एसडीएम को अपने क्षेत्र में स्थित वन विभाग एवं अन्य विभागों के गोदामों का धान के भंडारण के लिए अधिग्रहण करने के निर्देश दिये गये।

सभी पात्र लोगों के आयुष्मान कार्ड बनाने के निर्देश

बैठक में जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों एवं नगरीय निकायों के मुख्य नगर पालिका अधिकारियों को सभी लोगों के आयुष्मान कार्ड तेजी से बनाने के निर्देश दिये गये। बैठक में नाराजगी जाहिर की गई कि बालाघाट जिले की 17 लाख से अधिक आबादी होने के बाद भी अब तक बहुत कम संख्या में आयुष्मान कार्ड बनाये गये है। आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए ग्राम स्तर पर एवं नगरीय क्षेत्रों में वार्ड स्तर पर शिविर लगाने के निर्देश दिये गये। खाद्यान्न्‍ पर्ची धारक एवं संबल योजना के सभी हितग्राहियों के आयुष्मान कार्ड बनाने के निर्देश दिये गये। सभी एसडीएम को आयुष्मान कार्ड बनाने की प्रगति पर निगरानी रखने के निर्देश दिये गये।

खनिज के अवैध उत्खनन, भंडारण एवं परिवहन पर सख्त कार्यवाही के निर्देश

बैठक में राजस्व, पुलिस एवं खनिज विभाग के अधिकारियों को सख्त निर्देश दिये गये कि जिले में खनिज गिट्टी, रेत, मुरम, मिट्टी, मैंगनीज के अवैध उत्खनन, भंडारण एवं परिवहन पर कड़ी कार्यवाही की जाये। खनिज के अवैध परिवहन, भंडारण एवं परिवहन को रोकने के लिए हर माह 100 प्रकरण दर्ज होना चाहिए। वन क्षेत्रों से अवैध खनन पर कड़ी निगरानी रखने के निर्देश दिये गये। खनिज का परिवहन करने वाले वाहनों की जांच के लिए चेक पाईंट बनाने के निर्देश दिये और कहा गया कि वाहनों की जांच केवल चेक पाईंट पर ही करना है, किसी भी स्थान पर जांच नहीं करना है। इसी प्रकार क्षेत्र के गुंडे, बंदमाशों, भू-माफियाओं एवं शासकीय भूमि के अतिक्रमण कारियों पर सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये।

अन्न उत्सव के लिए तैयारी करने के निर्देश

बैठक में अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि हर माह की 07 तारीख को उचित मूल्य दुकान पर अन्न उत्सव का आयोजन करना है। अन्न उत्सव कार्यक्रम में स्थानीय जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित करना है और उनकी उपस्थिति में हितग्राहियों को राशन का वितरण करना है और दुकान के स्टाक का सत्यापन कराना है। जिले के नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक से अधिक पात्र लोगों के पथ विक्रेता योजना में ऋण प्रकरण तैयार कर उन्हें शीघ्र ऋण वितरण कराने के निर्देश दिये गये। 15 जनवरी को आयोजित होने वाले रोजगार मेले के लिए सभी आवश्यक तैयारी करने के निर्देश दिये गये।

मकान टैक्स की तेजी से वसूली के निर्देश


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!