बैकों की गलती से 21 किसानों को नहीं मिला फसल बीमा योजना का लाभ, अब सात दिनों के भीतर बैकों को देना होगा किसानों को फसल बीमा की दावा राशि

Spread the love

 ANI  NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

ब्यूरो चीफ बालाघाट // वीरेंद्र श्रीवास 83196 08778

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 9893221036

 

कलेक्टर श्री दीपक आर्य की अध्यक्षता में आज जिला स्तरीय शिकायत निवारण संवैधानिक समिति की बैठक का आयोजन किया गया था। इस बैठक में वर्ष 2017-18 में फसल बीमा कराने वाले जिले के 21 किसानों की पोर्टल पर एंट्री नहीं करने वाले बैंकों की गलती के कारण किसानों को फसल बीमा की दावा राशि का भुगतान नहीं हो सका है,

चर्चा कर लिया गया निर्णय 

(1) #ANI_NEWS_INDIA बैकों की गलती से 21 किसानों को नहीं मिला फसल बीमा योजना का लाभ – YouTube

बैठक में तय किया गया कि बैंक की गलती का खामियाजा किसानों को नहीं भुगतना पड़ेगा और संबंधित बैंक को पीड़ित किसान को फसल बीमा की दावा राशि का भुगतान करना होगा। समिति द्वारा संबंधित बैंक शाखाओं को सात दिनों के भीतर किसानों को फसल बीमा दावा राशि का भुगतान करने कहा गया है।

बैठक में बताया गया कि वर्ष 2017 में फसल बीमा कराने वाले जिन 21 किसानों को फसल बीमा दावा राशि नहीं मिली हे, उनमें बीमा राशि जमा कराने वाले किसान चम्हारिया बोहने, मेहतलाल, नत्थुलाल, यशवंत राय शेख जी, जयराम नगपुरे, देवेन्द्र-जानकी प्रसाद नगपुरे, साहिबलाल, मुनेन्द्र, दयाराम बिरनवार, जितेन्द्र कातुरे, सावित्री नगपुरे, जगोता बाई चौधरी, देवेन्द्र नगपुरे, फुलचंद, हिसवलाल, सुखसागर लिल्हारे, देवनलाल पटले, गौरीशंकर, पुनवलाल लिल्हारे, विक्रम सिंह, लालचंद नगपुरे शामिल है।

वर्ष 2017 में सेंट्रल बैंक आफ इंडिया की मोहगांव-धपेरा शाखा में 11 किसानों ने, भारतीय स्टेट बैंक की वारासिवनी शाखा में एक किसान ने, लांजी शाखा में एक किसान ने, कटंगी शाखा में एक किसान ने, पंजाब नेशनल बैंक की वारासिवनी शाखा में 02 किसानों एवं जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक बालाघाट में 03 किसानों ने फसल बीमा योजना में अपनी फसल का बीमा कराया था। लेकिन बैंक शाखा की गलती के कारण बीमा की प्रीमियम राशि किसान से वसूल किये जाने के बाद उसकी पोर्टल पर एंट्री नहीं की गई थी। जिसके कारण इन किसानों को फसल बीमा की दावा राशि प्राप्त नहीं हुई है। इन किसानों द्वारा फसल बीमा की दावा राशि नहीं मिलने की शिकायत की गई थी। किसानों की शिकायत के निराकरण के लिए आज जिला स्तरीय शिकायत निवारण संवैधानिक समिति की बैठक का आयोजन किया गया था।

जिला स्तरीय शिकायत निवारण संवैधानिक समिति की बैठक में आज तय किया गया कि बैंक की गलती की सजा किसान को नहीं भुगतना पड़ेगी। फसल बीमा का प्रीमियम जमा कराने के साथ ही बैंक शाखा की जिम्मेदारी थी कि वह पोर्टल पर इसकी एंट्री कराये। समिति ने बैठक में तय किया है कि संबंधित बैंक शाखा द्वारा किसान को फसल बीमा की दावा राशि का भुगतान किया जायेगा। फसल बीमा के कार्य में लापरवाही बरतने वाली बैंक शाखाओं को सात दिनों के भीतर किसानों को वर्ष 2017 की फसल बीमा दावा राशि का भुगतान करने के आदेश दिये गये है। इसके साथ ही जिले के ऐसे किसान जिन्हें बैंक की गलती के कारण फसल बीमा की दावा राशि नहीं मिली है, उनसे अपील की गई है कि दस्तावेजों के साथ अपनी शिकायत उप संचालक किसान कल्याण एवं कृषि विकास कार्यालय बालाघाट में जमा करायें।

बैठक में जिला स्तरीय शिकायत निवारण संवैधानिक समिति के सचिव एवं उप संचालक कृषि श्री सी आर गौर, समिति के सदस्य अग्रणी बैंक प्रबंधक श्री दिगम्बर भोयर, उप संचालक मत्योर द्योग श्रीमती शशि प्रभा धुर्वे, जिला सहकारी केन्री ्य बैंक के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एस के शुक्ला, सहायक संचालक उद्यान श्री सी बी देशमुख, कृषि विज्ञान केन्द्र बड़गांव के प्रमुख वैज्ञानिक डॉ आर एल राउत, डॉ उत्तम बिसेन एवं अन्य सदस्य उपस्थित थे।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!