नगर निगम के असिस्टेंट इंजीनियर चौरसिया ने सुपारी देकर पत्रकार जितेन्द्र शर्मा के घर के सामने रखे वाहनों में आग लगवाई, दो गिरफ्तार, चौरसिया फरार

Spread the love

 ANI  NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 9893221036

 

  • नागदा जिला उज्जैन के 03 आरोपियों को भोपाल नगर निगम में पदस्थ सहायक यंत्री
  • ओ0पी0० चौरसिया ने दी थी आगजनी की सुपारी
  • घटना दिनांक को आरोपी सहायक यंत्री कोलकाता (पश्चिम बंगाल) जाकर वहाँ से अन्य आरोपियों को कर रहा था निर्देशित
  • अपराध में प्रयुक्त कार एवं पेट्रोल की केन की बरामद

 

भोपाल मे जवाहर चौक इलाके में रहने वाले एक न्यूज़ चैनल के पत्रकार जितेन्द़ शर्मा के घर मे घुस कर उनकी तीन गाड़ियों कार, बाइक, एक्टिवा में आग लगा दी गईI टीटी नगर पुलिस ने पूरे प्रकरण में एफ आई आर दर्ज कर गंभीरता से जांच की जांच में चौंकाने वाला खुलासा हुआ हैI नगर निगम में पदस्थ सहायक यंत्री ओपी चौरसिया ने सुपारी देकर बदमाशों से यह आगजनी करवाई थी I  बदमाशों को ₹100000 की सुपारी दी गई थीI  जिनमें से ₹65000 का भुगतान भी एडवांस में कर चुके थेI  तीन बदमाशों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया हैI उन्होंने सारी बातें कुबूल की है बदमाश उज्जैन जिले के नागदा के बताए जा रहे हैंI सहायक यंत्री फरार हैI इस घटना से पत्रकारों की सुरक्षा पर भी सवाल खड़े होने लगे हैंI पत्रकारों की सुरक्षा को लेकर कानून बनाने की बात तो बहुत की जाती हैI परंतु आज तक पत्रकार सुरक्षा कानून नहीं बन पाया हैI

मामला सनसनीखेज होने से वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में ठीमे गठित कर मामले के आरोपियो की तलाश के लिए तकनीकी साक्ष्यों से एक चार पहिया वाहन घटना स्थल पर संदेहास्पद तरीके से घूमते दिखने पर चिन्हित किया गया, जिसका नंबर ट्रेस कर उक्त वाहन की पतासाजी कर टीम बनाकर नागदा जिला उज्जैन के लिये खाना की गई जिसमें एक आरोपी को तत्काल गिरफ्तार किया गया। जिसने प्रारंभिक जांच में गुमराह करते हुए एक्सिडेंट की कहानी बताई।

हिकमतअमली से पूछताछ कर करने पर अन्य के साथ मिलकर कार से भोपाल आकर घटना करना बताया, जिसके लिए नगर निगम भोपाल में पदस्थ ए0ई0 ओ.पी. चौरसिया के द्वारा आगजनी करने के लिये। लाख रूपये की सुपारी दी थी जिसमें से 65000/- रुपये 110५-१९ के माध्यम से एडवांस दिया गया था। गिरफ्तार आरोपियों के अनुसार आरोपी ए0ई0 ने फरियादी के परिवार से कहॉसुनी होने पर बदला लेने की नियत से षणयंत्र कर आगजनी की घटना को अंजाम दिलवाया।

गिरफ्तार आरोपीगणों के नाम :-

1. समीर वेग 2. संतोष 3. अल्फाज मेवाती


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!