केंद्रीय मंत्री उमा भारती पर लटकी हाईकोर्ट की तलवार: मानहानि मामला पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय की याचिका पर नोटिस

Spread the love

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की याचिका पर हाईकोर्ट ने केंद्रीय मंत्री उमा भारती काे नोटिस जारी किया है। हाईकोर्ट जबलपुर ने तीन हफ्तों में इसका जवाब मांगा है। जस्टिस एसके पालो की बेंच ने यह नोटिस मानहानि के एक मामले में बचाव पक्ष के गवाह का पुन: परीक्षण कराए जाने की मांग को लेकर दायर याचिका पर दिया है।

याचिका की अगली सुनवाई 6 अगस्त को नियत की गई हैl दरअसल, मामला 14  साल पुराना है। जब 2003 के विधानसभा चुनाव के दौरान उमा भारती ने दिग्विजय पर 1500 करोड़ के घोटाले का आरोप लगाया था। दिग्विजय ने उमा भारती पर भोपाल अदालत में मानहानि का मुकदमा दायर किया था।लेकिन भोपाल जिला न्यायालय द्वारा प्रतिपरीक्षण का आवेदन खारिज कर दिया गया था।

इसके बाद सिंह ने हाईकोर्ट जबलपुर में मामले को चुनौती दी।मामले में दिग्विजय सिंह की तरफ से गवाही पूरी हो चुकी है। उमा भारती की तरफ से बचाव में गवाही चल रही है।याचिका में अधिवक्ता अजय गुप्ता और राजीव मिश्रा पैरवी कर रहे है।  इसकी सुनवाई बुधवार को  न्यायाधीश एसके पालो की एकलपीठ ने की। उन्होंने उमा को नोटिस जारी कर तीन हफ्तों में जवाब मांगा है।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *