शराब दुकान के विरोध में महिलाओं ने दुकान में घुस फेंकी शराब की पेटियां

Spread the love

ANI NEWS INDIA

संवाददाता पुष्पराजगढ़ // बृजेन्द्र सोनवानी : 9584621252

दुकान संचालन के लिए ठेकेदार को भाजपा नेता ने अपना मकान दिया किराए से

भाजपा नेता प्रमोद सिंह मराबी जिसने
अपने मकान में खुलवाया शराब दुकान

राजेन्द्र ग्राम/ राजेन्द्रग्राम मुख्यालय में संचालित अंग्रेजी शराब को टैक्सी स्टैण्ड के लिए आवंटित भूमि से हटाने के लिए एसडीएम ने शराब ठेकेदार को दिया था। जहां १३ जुलाई को ठेकेदार द्वारा टैक्सी स्टैण्ड से दुकान को हटाते हुए वार्ड क्रमांक १५ में संचालित किया गया, जहां वार्ड की महिलाओं ने १४ जुलाई को वार्ड से शराब दुकान हटाए जाने की मांग को लेकर दुकान में रखे शराब की पेटियों को फेंकते हुए विरोध प्रदर्शन किया।

यह है मामला

जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ के ग्राम पंचायत किरगी में संचालित अंगेजी व देशी शराब की दुकान का संचालन बस स्टैण्ड राजेन्द्रग्राम के पीछे व कन्या छत्रवास के बगल में किया गया था, जहां कन्या छात्रावास के बगल में संचालित शराब दुकान को हटाए जाने की ग्रामीणो ने लगातार मांग की गई। जिसके बाद पुष्पराजगढ़ एसडीएम बाला गुरू के द्वारा शराब ठेकेदार को नोटिस देते हुए दुकान हटाए जाने के लिए एक सप्ताह का अल्टीमेंटम दिया था। जहां १३ जुलाई को ठेकेदार द्वारा बस स्टैण्ड से दुकान हटा वार्ड क्रमांक १५ में स्थानांतरित किया गया, जहां वार्ड की महिलाओं ने अपने वार्ड से दुकान हटाए जाने को लेकर विरोध प्रदर्शन की।

भाजपा नेता ने अपना मकान दिया किराए से

एक तरफ प्रदेश शासन द्वारा नशा मुक्ति का पाठ पढ़ा लोगो को नशा मुक्त बनाने के लिए प्रयासरत है, वहीं दूसरी ओर राजेन्द्रग्राम मुख्यालय के वार्ड क्रमांक 15 लोक सेवा केन्द्र के पीछे भाजपा अनुसूजित जनजाति मोर्चा राजेन्द्रग्राम के मंडल अध्यक्ष प्रमोद सिंह मरावी ने अपने ही मकान को शराब दुकान के संचालन के लिए ठेकेदार को किराए से दे दी। वहीं वार्ड में दुकान खुलने से नाराज महिलाओं ने दुकान का विरोध किया।

महिलाओ ने शराब दुकान का किया विरोध

पुष्पराजगढ़ एसडीएम के नोटिस का बाद शराब ठेकेदार ने बस स्टैण्ड के पीछे कन्या छात्रावास से दुकान हटा वार्ड क्रमांक 15 में ले जाया गया, जहां महिलाओ ने अपने घरों के आसपास शराब की दुकान खोले जाने की विरोध किया गया तथा भाजपा नेता व शराब ठेकेदार द्वारा नही मानने पर महिलाओं ने शराब की पेटियों को दुकान से बाहर फेंक दिया। वहीं महिलाओं के विरोध की सूचना राजेन्द्रग्राम पुलिस को दी गई, जहां मौके पर पहुंची पुलिस ने शांति व्यवस्था बनाए रखने का आग्रह किया।

शराब ठेकेदार असमंजस्य में

वर्ष २०१७-१८ में तत्कालीक एसडीएम मिलिन्द्र नागदेवे ने शराब ठेकेदार को बस स्टैण्ड के पीछे टैक्सी स्टैण्ड के लिए आवंटित खाली पड़ी भूमि पर दुकान संचालन किए जाने की बात कही जिस पर ग्राम पंचायत किरगी के सरपंच एवं सचिव सहित सभी सदस्यो ने अपनी सहमति जताते हुए प्रस्ताव पारित कर शराब दुकान संचालन कराने की अनुमति दी, जहां शराब ठेकेदार ने खाली पडी भूमि पर अपनी लागत से दुकान निर्माण कर दुकान का संचालन किया तथा प्रत्येक माह ग्राम पंचायत को किराए की राशि भी अदा की, जिसके बाद वर्ष २०१८-१९ में पुन: इसी ठेकेदार को दुकान आवंटित हुई जिस पर ग्राम पंचायत से दुकान संचालन कर पुन: ठेकेदार ने अनुमति ली। जिसके बाद पुष्पराजगढ़ एसडीएम ने ठेकेदार को दुकान हटाने का नोटिस दे ७ दिवस का अल्टीमेंटम दिया। जिसके बाद ठेकेदार ने अन्यंत्र दुकान का स्थानांतरण वार्ड क्रमांक १५ में किया जहां महिलाओं ने जमकर विरोध किया, जिस पर अब ठेकेदार दुकान संचालन के लिए असमंजस्य में है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *