श्रीदेवी की मौत मामले में जांच की याचिका खारिज, सुप्रीम कोर्ट दखल नहीं देगा

Spread the love

सुप्रीम कोर्ट ने अभिनेत्री श्रीदेवी की मौत की स्वतंत्र जांच कराने की मांग करने वाली याचिका को आज खरिज कर दिया। कोर्ट ने कहा कि अब अभिनेत्री की मौत की फिर से जांच नहीं होगी क्योंकि उनके पोस्टमार्टम रिपोर्ट में उनकी मौत का कारण स्पष्ट लिखा हुआ है। श्रीदेवी की फॉरेंसिक रिपोर्ट में बताया गया था कि उन्होंने शराब पी रखी थी जिस वजह से वे बाथटब में गिर गई और उनकी मौत हो गई। 

सुप्रीम कोर्ट ने अभिनेत्री श्रीदेवी की मौत की स्वतंत्र जांच कराने की मांग करने वाली याचिका को आज खरिज कर दिया। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वह इस मामले में दखल नहीं देगा। याचिका में कहा गया था कि जिन संदिग्ध हालात में दुबई में श्रीदेवी की मौत हुई, उसकी जांच बेहद जरूरी है। अब भी श्रीदेवी की मौत से जुड़े कई सवालों का जवाब नहीं मिल पाया है। जिस पर कोर्ट के दखल की ज़रूरत है।

याचिकाकर्ता सुनील सिंह ने अपनी याचिका में कहा है कि श्रीदेवी की मौत के दौरान वो दुबई में ही थे और दोस्तों से सूचना मिलते ही पहले वो श्रीदेवी के होटल और फ़िर उस हॉस्पिटल भी गए जहां श्रीदेवी को ले जाया गया। होटल के लोगों से बातचीत में उन्हें पता चला कि श्रीदेवी को जब अस्पताल ले जाया जा रहा था तो उस वह वक़्त वो बेहोश थीं लेकिन तब भी उनके पति बोनी कपूर उन्हें हॉस्पिटल लेकर नहीं गए।

कोर्ट ने कहा कि अब अभिनेत्री की मौत की फिर से जांच नहीं होगी क्योंकि उनके पोस्टमार्टम रिपोर्ट में उनकी मौत का कारण स्पष्ट लिखा हुआ है। बता दें कि श्रीदेवी का इसी साल 24 फरवरी को दुबई में निधन हो गया था। दुबई के होटल जुमैरा अमीरात टॉवर्स में श्रीदेवी अपने रूम के बाथरूम के बाथटब में डूबी हुई मिली थी, तब पति बोनी कपूर उनके साथ थे।

श्रीदेवी की फॉरेंसिक रिपोर्ट में बताया गया था कि उन्होंने शराब पी रखी थी जिस वजह से वे बाथटब में गिर गई और उनकी मौत हो गई। उल्लेखनीय है कि याचिकाकर्त्ता फिल्म निर्माता सुनील सिंह की ओर से सीनियर एडवोकेट विकास सिंह ने यह दलील पेश की थी। उन्होंने अपनी दलील में कहा कि श्रीदेवी के नाम ओमान में 240 करोड़ का बीमा था और शर्त ये थी कि अगर उनकी मौत यूएई में होगी तो ही ये रकम परिवार को मिलेगी। ये मौत जज लोया के मामले से बिल्कुल अगल है वो प्राकृतिक मौत थी।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *