खुले में शौचमुक्त हुआ जिले का प्रथम ग्रामपंचायत जुहली जिला प्रशासन ने की घोषणा

Spread the love

अनूपपुर से रिपोर्टर बृजेंद्र सोनवानी : 9584621252

अनूपपुर. जिले के पुष्पराजगढ़ जनपद स्थित ग्राम पंचायत जुहिली को आज ओडीएफ ग्राम पंचायत घोषित किया गया है। जुहिली में रंगारगं कार्यक्रम का आयोेजन कर धुमधाम से त्यौहारों की तरह मनाकर खुुले में शौच से मुक्ती की घोषणा जिला प्रषासन द्वारा की गई है कार्यक्रम के दौरान जागरूक ग्रामीण जनेां जागरूक महिलाओं को सम्मानित कर बच्चों का भी  सम्मान किया गया है। ये बच्चे सुबह से उठकर गाॅव के रहवासियों को जागरूक करते थे और खुले में शौच जाने से रोकते थे समिति के सभी सदस्यों को इनाम के रूप में प्रसस्ति पत्र मैडल के साथ नगद राषि प्रदान की गई है। 

उक्त कार्यक्रम में जिला कलेक्टर श्रीमती अनुग्रह पी. जिला पंचायत सीईओ डाॅ. सलोनी सिडाना जिला पंचायत अध्यक्षा रूपमती सिंह जनपद पंचायत सीईओ राजेन्द्र त्रिपाठी जनपद पंचायत अध्यक्ष हीरा सिंह श्याम की गरिमामय उपस्थिति ने चार चाॅद लगाया। इन्होंने ग्राम पंचायत जुहिली को ओडीएफ घोषित किये जाने पर ख्ुाषी जाहिर की और ग्रामीणों के प्रति शुभकामनाए व्यक्त की है। साथ ही स्वच्छता के प्रति जागरूक रहने का संदेष ग्राम वासियों को उदबोधन के दौरान दिया है इनके द्वारा कहा गया की स्वच्छ वातावरण को विकसित करना प्रषासन और जन सहयोग से ही सम्भव बनाया जा सकता है। जैसे पुष्परागढ़ जनपद का जुहिली ग्राम पंचायत आज जिले का पहला ओडीएफ ग्राम पंचायत घोषित हुआ है। वैसे ही जुहिली के ग्रामवासियों का सामूहिक प्रयास इस गाॅव को स्वच्छता में भी अवल बनाएगा और ग्राम पंचायत जुहिली अन्य ग्राम पंचायतों के लिऐ प्रेरणा श्रोत बनेगा।

ओडीएफ कि पूर्व संध्या कर मनाया गया था दीप उत्सव 

ओडीएफ घोषित किये जाने कि पूर्व संध्या  पर अनूपपुर जिले के पुष्पराजगढ़ जनपद में स्थित जिले का एक मात्र ग्राम पंचायत जुहिली में दीप उत्सव का कार्यक्रम आयोजित किया गया था। यह ग्राम पंचायत जिले के दूरअंचल पर स्थित हैं। पुष्पराजगढ़ जनपद में निवासरत लोग आदिवासी बाहुल्य होने के साथ अर्ध षिक्षित है ऐसे में जिले का प्रथम खुले में शौच मुक्त ग्राम पंचायत होने का गौरव हासिल करने वाले जुहिली पंचायत में कल से ही उत्सव का वातावरण बना हुआ था इसी तारतम्य में ग्राम पंचायत जुहिली पर पुष्पराजगढ़ जनपद के सीईओ आरपी त्रिपाठी की उपस्थिति में दीप उत्सव का कार्यक्रम आयोजित किया गया था जिसमें सैकड़ों ग्रामीणों के साथ सरपंच सचिव एंव रोजगार सहायक शामिल रहे।

ओडीएफ ग्राम जुहिली में रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन

आज ग्राम पंचायत जुहिली को ओडीएफ घोषित किये जाने पर जिला प्रषासन एंव ग्राम पंचायत द्वारा रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन किया गया सर्वप्रथम वृक्षारोपण कर उक्त कार्यक्रम की शुरूआत की गई तत पस्चात जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ के सीईओ ने माईक संचालन कर अतिथियों का स्वागत के लिऐ ग्रामीणों को आमंत्रित किया महिलाओं द्वारा स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया साथ ही अतिथियेंा से ग्रामीणों केा रूबरू कराकर उदबोधन के लिए आमंत्रित किया अतिथियों में जिला कलेक्टर अनुग्रह पी. अपने उदबोधन पर खुषी जाहिर करते हुए जिले के प्रथम ओडीएफ घोषित ग्राम पंचायत जुहिली के रहवासियों को बधाई दी और स्वच्छता के प्रति हमेषा जारूक रहने के लिऐ कहा उन्होंने ग्रामवासियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि ओडीएफ घोषित होना बड़ी बात हैं। किन्तु उससे भी बड़ी बात इसे ओडीएफ बनाए रखना है यह कार्य बिना जन जागरूकता के सम्भव नही है। जिला पंचायत सीइ्र्रओ डाॅ. सलोनी सिड़ाना ने भी खुषी जाहिर की उदबोधन के दौरान उन्होंने जिला पंचायत के द्वारा संचालित योजनाओं पर ओडीएफ घोषित ग्राम पंचायत जुहिली को प्राथमिकता देने का वादा किया जुहिली पंचायत के सरपंच आनन्द सिंह को जनहित के कार्यो की सूची बनाकर देने के लिये कहा ताकि प्राथमिकता के आधार पर शासन की योजना का लाभ दिया जा सके और एक निष्चित राषि पंचायत को प्रदान की जिससे उक्त ग्राम पंचायत जनहित का कोई्र भी कार्य बिना प्राषासन स्वीकृति के कर सकेंगे।

डाॅ. सिड़ाना ने कहा ‘‘ऐ बदबू तू पास मत आ‘‘ 

जिला पंचायत सीईओ ड़ाॅ. सलोनी सिड़ाना ने आज खुले में मुक्त हुए ग्राम पंचायत जुहिली पर अपने उदबोधन के दौरान ‘‘स्वच्छता की ओर एक कदम‘‘ से अवगत कराते हुऐ ग्रामीणों से कहा कि स्वच्छता बनाए रखना हमारे हाथ में है यदि घर के आस-पास गंदगी है तो बदबू आती हैं ऐसे में हम यह नही कह सकते कि ‘‘‘ऐ बदबू तू पास मत आ‘‘‘ इस बदबू भरे वातावरण से हम खुद निपट सकते है जब हम स्वच्छता के प्रति सजग रहेंगे साथ ही उन्होंने अपने अधिनस्थ कर्मचारियों को डांट लगाऐ जाने कि बात करते हुऐ कहा कि इतनी ड़ांट के बाद भी पुष्पराजगढ़ जिले का पहला ओडीएफ ग्राम पंचायत दे रहा है थोडी सी डंाट से काम अच्छा होता है तो डंाट सही है आप सभी बधाई के पात्र है उन्होंने जिला कलेक्टर अनुग्रह पी. का भी आभार प्रगट कर उक्त ग्राम पंचायत के ओडीएफ घोषित करने के लक्ष्य प्राप्ति के लिऐ उत्साह वर्धन और हौसला अफजाई करने पर धन्यवाद अर्पित किया। मीडिया द्वारा पूरे जिले को कब ओडीएफ घोषित किया जाएगा पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि 2 अक्टूबर राष्ट्र पिता महत्मा गाॅधी की जयन्ती तक ओडीएफ घोषित करने का हमने लक्ष्य निर्धारित किया है।

ओडीएफ घोषित कराने में निभाई मुख्य भूमिका  

जिले के प्रथम घोषित ओडीएफ ग्राम पंचायत जुहिली को खुले में शौच मुक्त कराने में अहम योगदान देने वाले जिला समन्वय अधिकारी एसबीएम डाॅ. रामनरेष र्वमा ब्लाक समन्वय अधिकारी अंकुर सिंह बीडिओ सुरेष इन्दौरकर फीड बैग से राजेष शर्मा और अस्वनी जी का एहम येागदान रहा। साथ ही ग्राम पंचायत जुहिली के सरपंच आनन्द सिंह सचिव मुकेष चन्द्रषी रोजगार सहायक विजय सिंह ने भी अपनी भागी दारी तनमयता से निभाकर उक्त ग्राम पंचायत को ओडीएफ घोषित कराया। ग्राम पंचायत में निगरानी समिति गठित कि गई थी, जिनके द्वारा जन जागरूकता के माध्यम से लक्ष्य प्राप्त किया जा सका है। इस कमेटी में महन्तु सिंह, लक्ष्मण सिंह, मुन्षी सिंह, गेंदलाल मार्को, पप्पु सिंह और जयपाल सिंह शामिल थे। महिला निगरानी समिति का गठन भी किया गया था उसमें सुमर्रतिन बाई, पार्वती बाई, सिया बाई, तुलसी बाई शामिल रहे। बच्चों ने भी इस अभियान में बड़ चड़कर हिस्सा लिया अध्यक्ष अनिल मिश्रा के निर्देषन पर रतन यादव, पुरन सिंह, छोटु सिंह, शोनु सिंह, ब्रजेष सिंह, रिंकु सिंह, आदि बच्चों ने ओडीएफ घोषित कराने के मकषद को सफल बनाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *