तुर्की की मुद्रा लीरा में दिख रहा सुधार, अमेरिका के मंसूबे हो सकते है नाकाम

Spread the love

 

तुर्की और अमेरिका मे छिड़ा ट्रेड वार बढ़ता ही जा रहा है। अमेरिकी उत्पादो के बहिष्कार के ऐलान के साथ तुर्की ने अमेरिकी उत्पादों पर सीमा शुल्क को दोगुना कर दिया है। तुर्की व्यापार मंत्री रुहसर पेकनन का कहना है कि अमेरिकी उत्पादों पर सीमा शुल्क की दोगुना राशि अब 533 मिलियन डॉलर होगी।

इसी बीच तुर्की की मुद्रा लीरा में सुधार आने से दुनियाभर के शेयर बाजारों ने राहत की सांस ली है। यूरोपीय बाजारों में मामूली बदलाव दिखा जबकि वॉल स्ट्रीट में तेजी का रुख रहा। यूरोपीय बाजारों में लीरा सुधरकर डालर के समक्ष 6.40 लीरा और यूरो के मुकाबले 7.26 इकाई रहा।

विदेशी मुद्रा बाजार के विशेषज्ञ फावद रजाकजादा ने कहा, ‘‘दो दिन की लगातार गिरावट और दुनियाभर के बाजारों में घबराहट पैदा करने के बाद आखिर में तुर्की लीरा को कुछ समर्थन मिला है। उन्होंने कहा कि लीरा ने अपनी पिछले दिन की ज्यादातर गिरावट को वापस हासिल कर लिया है।’’

रजाकजादा ने कहा कि लीरा को हालांकि अपनी खोई हुई पूरी जमीन को वापस पाने में काफी मशक्कत करनी होगी। शुक्रवार को इसमें 13 प्रतिशत से अधिक की गिरावट आई थी। इससे पहले भी यह गिरावट में था। इस दौरान तुर्की के केन्द्रीय बैंक ने बाजार में नकदी बढ़ाने पर जोर दिया।

विश्लेषकों का मानना है कि दूसरे उभरते बाजारों पर असर डालने वाले तुर्की के संकट को लेकर निवेशकों में ज्यादा चिंता में नहीं है। तुर्की की मुद्रा की विनिमय दर में सुधार से अन्य उभरती अर्थव्यवस्थाओं की मुद्रा को लेकर जो डर था वह कम करने में मदद मिली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *