नरसिंहपुर : भाजापा सरकार के गले की फांस बनी कलेक्टर अभय वर्मा की कार्यप्रणाली, जन आंदोलन शुरू

Spread the love

ANI NEWS INDIAhttp://aninewsindia.com

ब्यूरो चीफ गाडरवारा // अरुण श्रीवास्तव : 91316 56179
  • बुजुर्गों को जेल भेजे जाने का मामला जन आंदोलन की ओर
  • कमलनाथ अजय सिंह एवं पचौरी ने भी उठाए सवाल
नरसिंहपुर गाडरवारा बीते दिनों कलेक्टर अभय वर्मा द्वारा सड़क की मांग को लेकर जनसुनवाई में आए एक ग्रामीण को जेल भेजे जाने का मुद्दा अब जन आंदोलन की ओर बढ़ता जा रहा है इतना ही नहीं राजनीतिक दिग्गजों ने भी इस मामले में भाजपा शासन को आड़े हाथों लेते हुए सवाल खड़े किए हैं बता दें कि नरसिंहपुर में अपने प्रारंभिक समय से ही कलेक्टर अभय वर्मा की छवि विवादित रही है
ड्यूटी ज्वाइन करने के पहले ही दिन इन्होंने एक दिव्यांग खिलाड़ी के साथ भी बेहद अमानवीय व्यवहार करते हुए उसे कलेक्ट्रेट परिसर से भगाया था उसके बाद फिर कलेक्ट्रेट परिसर में आंदोलनरत किसानों के बुजुर्ग बच्चों एवं महिलाओं पर आधी रात को लाठी चार्ज किए जाने के मुद्दे को लेकर अभय वर्मा विवादों में रहे यहीं नहीं रुके किसान आंदोलन एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं सहायिकाओं के आंदोलन की कवरेज करने वाले पत्रकारों को भी इन्होंने आड़े हाथों लिया और दो पत्रकारों पर जबरन झूठे प्रकरण दर्ज करवा कर उनके जिला बदल की फाइल तैयार कर ली इस मामले में हाई कोर्ट ने भी कलेक्टर की मंशा पर सवाल खड़े किए थे और जब एक बुजुर्ग फरियादी को जेल भेजे जाने का मामला कलेक्टर के साथ साथ तत्कालीन भाजापा सरकार के लिए भी गले की फांस बनता जा रहा है

जिस देश में अघोषित आपातकाल का नजारा कमलनाथ

नरसिंहपुर में खस्ताहाल सड़क को अमेरिका जैसी बनाने की मांग को लेकर एक बुजुर्ग व्यक्ति द्वारा जनसुनवाई में की गई मांग पर बदले में उन्हें मिली जेल किसान गरीब युवा बेरोजगार हो या आम आदमी शिवराज सरकार में अपनी आवाज उठाने का हक़ किसी को नहीं यह बात सांसद पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने ट्वीट कर कहीं स्क्रीन पर आ गए हजारों कमैंट्स में आम जनों की प्रतिक्रियाओं से साफ नजर आ रहा है कि ऐसे अधिकारियों की अफसरशाही कहीं ना कहीं भाजापा सरकार के लिए भी मुसीबतों का कारण बनती जा रही है

पचौरीने पूछा क्या कार्यवाही करेगी सरकार

इस मामले में कमलनाथ के बाद कांग्रेस के दिग्गज नेता पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी ने भी सरकार पर निशाना साधते हुए पूछा है कि इस मामले में सरकार क्या कार्रवाई करेगी उन्होंने कहा कि नरसिंहपुर में बुजुर्ग PK पुरोहित को जनसुनवाई में सड़क की मांग करने पर 4 दिन के लिए जेल भेज दिया गया इस मामले में सरकार क्या कार्रवाई करेगी पचौरी ने कहा क्या तथाकथित संवेदनशील सरकार इस मामले में जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कदम उठाएगी

सीसीटीवी फुटेज होंगे जप्त कलेक्टर के होंगे बयान

इस मामले की मीडिया में आते ही प्रशासन द्वारा कार्यवाही की संभावना बन रही हैं पीड़ित PK पुरोहित की शिकायत पर पुलिस अधीक्षक डीके भदोरिया ने इस मामले की जांच एसडीओपी को सौंपी है जल्दी ही इस मामले में कलेक्टर अभय वर्मा के बयान दर्ज कराए जाएंगे और साथ ही पीड़ित बुजुर्ग PK पुरोहित ने जन सुनवाई के दौरान घटित हुई वाक्य के CCTV फुटेज की जांच की मांग भी की थी जिससे सच्चाई सामने आ सके तो इस मामले में जब कलेक्ट्रेट परिसर के सीसीटीवी फुटेज भी खा ले जाएंगे अब तक कलेक्टर के द्वारा मीडिया में यही प्रतिक्रिया दी गई है कि बुजुर्ग नशे में था इसलिए कार्यवाही की गई लेकिन अब कलेक्टर अपने इस बयान में भी फंसते नजर आ रहे हैं क्योंकि PK पुरोहित को जेल भेजने से पहले पुलिस द्वारा उनकी एमएलसी नहीं कराई गई थी पीड़ित का दावा है कि उनके पूरे परिवार में आज तक किसी ने शराब नहीं पी कलेक्टर द्वारा लगाए गए आरोप निराधार है जिसकी सच्चाई सीसीटीवी फुटेज में कैद है

आम जनों ने सौंपा ज्ञापन समाज में भी आक्रोश

इस मामले में बुजुर्ग फरियादी PK पुरोहित के आंसुओं ने सोशल मीडिया पर भावनाओं की बाढ़ ला दी है कलेक्टर के व्यवहार की चारों ओर निंदा हो रही है सोमवार को ही सैकड़ों आम जनों ने SP ऑफिस पहुंचकर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपकर कलेक्टर अभय वर्मा को 1 सप्ताह के अंदर निलंबित करने की मांग की एवं आंदोलन की चेतावनी भी दी वहीं दूसरी और ब्राह्मण समाज में भी इस घटना से भारी आक्रोश सर्व ब्राह्मण सभा द्वारा इस घटना की घोर निंदा करते हुए ऐसे अधिकारी को निलंबित करने की मांग मध्य प्रदेश सरकार से की गई है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *