समाज के वरिष्ठजन का सम्मान कर, समाज बन्धुओ ने की नई पहल, यही है संस्कृति व संस्कार – विधायक चावला

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

ब्यूरो चीफ मनासा, जिला नीमच // मिश्रीलाल पाटीदार : 96306 24851 

नीमच – आज के इस आधुनिक युग की चकाचोंध में मानवमात्र अपने स्वयं के स्वार्थ को सिद्ध करने में लगा हुआ है। पर परोकार व समाजहित को दृष्टिगत रखते हुए। समाज के प्रबुद्धजन को मंच के माध्यम से सम्मानित कर एक अनुकरणीय पहल प्रारम्भ कर एक नई परिपाठी की शुरुआत कर एक अनूठी मिशाल कायम की है। उक्त विचार विधायक कैलाश चावला ने दशनाम गोस्वामी समाज चेतना मंच द्वारा आयोजित प्रतिभा सम्मान समारोह में मंच के माध्यम से रखी।
सनातन संस्कृति के प्रचार प्रसार व सांस्कृतिक मूल्यों को सम्पूर्ण विश्व मे स्थापित करने मे संलग्न दशनाम गोस्वामी चेतना मंच मालवा मेवाड़ का चतुर्थ प्रतिभा सम्मान समारोह द्वारिकापुरी धर्मशाला मनासा मे आठ जिलों से उपस्थित हजारों समाज बंधुओं की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ। दो दिवसीय आयोजन में दिनांक 01.09.18 शनिवार को सांयकाल से भगवान दत्तात्रेय जी की पूजा अर्चना महंतों द्वारा की गई। पश्चात महंतों द्वारा अपने आशिर्वचन मे गोस्वामी चेतना मंच की स्थापना एवं मंच द्वारा किए जा रहे कार्यों की प्रशंसा की गई।
समाज के नन्हे मुन्ने बालक बालिकाओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। रात्रिकालीन कार्यक्रम में सैकड़ों समाज बंधु माता बहिनो ने भी भाग लिया। रात्रि में समाज के प्रबुद्ध जनो की बैठक कुकडेश्वर मंडल व भानपुरा, पिपलौदा के महंत विष्णु गिरि,जीवन पुरी व शिव पुरी की अध्यक्षता में रखी गई। बैठक में सौ से अधिक समाज बंधु उपस्थित थे। चेतना मंच की स्थापना 2011 से दिसंबर 2017 तक के आय व्यय का वाचन रमेश भारती मोरवन द्वारा किया गया। भादवामाता मे धर्मशाला हेतु जमीन क्रय व धर्मशाला निर्माण समिति की गठन महंतों की अनुशंसा से की गई। जिसमें अध्यक्ष जगदीश वन ऊंचेड, चारो मंडलो से चार उपाध्यक्ष कोषाध्यक्ष गोविंद गिरि अल्हेड व बीस स्वजाति बंधुओ को कार्यकारिणी में लिया गया।
शेष घोषणा आगामी बैठक में किए जाने का प्रस्ताव लिया गया। जिला युवा अध्यक्ष नीमच समरथ गिरि कडीखुर्द द्वारा महंतों की अनुंशसा से अपनी कार्यकारिणी में साठ युवा बंधुओं के नाम का अनुमोदन करवाया। दायित्व की घोषणा व इच्छुक युवाओं को अगली बैठक में संयोजित करने पर चर्चा की गई। अगले दिवस दिनांक 02.09.18 रविवार को प्रातः स्वल्पाहार के पश्चात वाहन रैली का आयोजन किया गया जिसमें दो सौ से अधिक बाइक, बतीस चार पहिया वाहन व खुली जिप्सी  मे भगवान दत्तात्रेय व आध्य गुरु शंकराचार्य के पावन चित्र की आकर्षक झांकी सजाई गई। रैली मनासा नगर के सभी मार्गों से निकली। नगरवासियों द्वारा जगह जगह पुष्प वर्षा कर स्वागत किया गया।
ऐतिहासिक रैली में एक हजार से अधिक माता बहिने युवा स्वजातीय बंधु व बच्चों ने भाग लिया। आठ जिलों से आये समाज बंधुओं की क्षैत्र मे प्रथम वाहन रैली थी। पश्चात प्रतिभा सम्मान समारोह क्षेत्रीय विधायक कैलाश चावला , जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती अंवतिका जाट नीमच, श्रीमती प्रियंका गोस्वामी मंदसौर, पूर्व विधायक विजेन्द्रसिंह मालाहेडा,जिला उपाध्यक्ष कांग्रेस- मंगेश संघई, नगर पंचायत अध्यक्ष यशवन्त सोनी, सात मंडलो से पधारे महंत , छब्बीस मंडलो के प्रतिनिधियों, भीलवाड़ा महिला अध्यक्ष मंजु गोस्वामी, मासिक पत्रिका गोस्वामी आभा के संपादक प्रहलाद वन गोस्वामी कोटा के मुख्य आतिथ्य मे कार्यक्रम का शुभारंभ भगवान भोलेनाथ की पूजा व सामूहिक आरती वंदना व अतिथियों का स्वागत चेतना मंच के कैलैंडर भग्वा अंगवस्त्र भेंटकर, बच्चों के सांस्कृतिक कार्यक्रमों से प्रारंभ किया गया।
आयोजन समिति के सचिव समरथ गिरि द्वारा कक्षा 10 व 12 एवं ग्रेजुएट पोस्ट ग्रेजुएट सौ से अधिक बालक बालिकाओं को मंच पर आंमत्रित किया। अतिथियों व समिति के पदाधिकारियों द्वारा प्रशस्ति पत्र व मेडल से बच्चों को सम्मानित किया गया। पश्चात कोषाध्यक्ष गोविंद गिरि अल्हेड द्वारा तीन सौ पन्द्रह समाज की विभिन्न प्रतिभाओ जिसमे पुजारी, कथावाचक, भजन गायक, शासकीय अशासकीय सेवानिवृत्त कर्मचारी, सांस्कृतिक सामाजिक व राजनैतिक क्षैत्र मे सेवा देनेवाले व जनप्रतिनिधियों व गोस्वामी समाज की समस्त माता बहिने व बहुओ जिन्होंने हायर सेकेंडरी व उच्च शिक्षा ग्रहण कर महिला शिक्षा के लिए प्रेरणा देने के लिए मंच पर आंमत्रित किया। अतिथियों द्वारा सभी का अभिनंदन पत्र व भग्वा दुपट्टा पहनाकर सम्मानित किया ।
पश्चात रमेश भारती मोरवन द्वारा सतर वर्ष से अधिक आयु वाले समाज के पितामह व माताओं को मंच पर आंमत्रित किया। अतिथियों ने उनका भी सम्मान किया। भादवामाता मे धर्मशाला हेतु समाज बंधुओ ने दान की घोषणा की जिसमें मुख्य रूप से आयोजन के संयोजक व जिलाध्यक्ष  नवल गिरि कुचडौद व गोविंद गिरि अल्हेड की माताजी श्रीमती सोहन बाई द्वारा 51-51 रू की घोषणा की गई। इस अवसर पर गोस्वामी आभा के संपादक प्रहलाद वन कोटा द्वारा समाज में श्रेष्ठ सेवा के लिए रमेश भारती मोरवन व गोविंद गिरि अल्हेड का आध्य गुरु शंकराचार्य जी की तस्वीर व भग्वा अंग वस्त्र भेंट कर सम्मानित किया।
आयोजन समिति में मुख्य रूप से आयोजन समिति के अध्यक्ष रमेश गिरि पूर्व पार्षद जावद , महेश (बबलू) गोस्वामी मनासा, कैलाश गिरि हितेश गिरि छोटीसादड़ी, मंगल गिरि बावडा, रमेश गिरि अचलपुरा, पुष्प गिरि निम्बाहेड़ा, रतन गिरि रावतभाटा, अशोक गिरि तुलसी गिरि व दिनेश गिरि सुवाखेडा, अनिल गोस्वामी, पुष्कर गिरी, रमेशगिरी भण्डारिया, दूर्गेश गिरि प्रतापगढ़, लालगिरि मांगलदा, रामचंद्र गिरि भानपुरा, मदन गिरि मोरवन, रमेश वन बरलाई, जगदीश वन ऊंचेड, संतोष पुरी बरढिया, किशोर गिरि पिपलोन, भेरूगिरि खोर,कन्हैया गिरि अठाना, राजूगिरि, विनोद गिरि कुकडेश्वर, मुकेश गिरि पडदा, विनोद गिरि दारू, पवन गिरि बोरखेड़ी, महंत दयाल गिरि, हरिश गिरि मंदसौर, संजय गिरि बांगरोद, संजय गिरि सानडा, शिव गिरि चितौड़गढ़, जगदीश गिरि मांगरोल, शंभुगिरि फलवा, हरिश गिरि जावद, प्रकाश गिरि कडीखुर्द, रमेश गिरि कंजार्डा, नरेश भारती मल्हारगढ़, राहुल भारती जमलावदा, अनिल गिरि मनासा, सुरेश गिरि कंजार्डा संजय पुरी सांसद प्रतिनिधि पिपलौदा का महत्वपूर्ण योगदान रहा। कार्यक्रम का संचालन रमेश भारती मोरवन, समरथ गिरी गोस्वामी कड़ी खुर्द व आभार आयोजन समिति अध्यक्ष रमेश गिरि जावद द्वारा प्रकट किया गया । आयोजन में आठ जिलों रतलाम, मंदसौर, चितौड़गढ़, प्रतापगढ़, झालावाड़, भीलवाड़ा, उदयपुर, नीमच व इंदौर के एक हजार चार सौ स्वजातीय बंधुओ ने भाग लिया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *