छात्राएं परिवार, समाज और देश का नाम रोशन करें : मंत्री श्रीमती माया सिंह

Spread the love

ani news india @ www.aninewsindia.com

ग्वालियर | हमें हमेशा सीखते रहना चाहिए। जो लक्ष्य बनाया है, उसको पाने का प्रयास करना चाहिए। बच्चों में सीखने की ललक होना चाहिए। तभी वे आगे बढ़ सकते हैं। यह बात नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने छात्राओं से कही। श्रीमती माया सिंह रविवार की शाम विजयाराजे शासकीय कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय में छात्राओं को संबोधित कर रही थीं। महाविद्यालय में वार्षिकोत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता महापौर श्री विवेक नारायण शेजवलकर ने की। 

कार्यक्रम की मुख्य अतिथि श्रीमती माया सिंह ने कहा जीवन में कठिनाईयों का सामना करना चाहिए। यदि हम कठिनाईयों का सामना करते हैं, तभी अपने अंदर छिपे साहस को पहचान पाते हैं। उन्होंने कहा छात्राएं मेहनत व लगन से पढ़ाई करें और जीवन में आगे बढ़ें। छात्राओं की रूचि जिस क्षेत्र में है, उसी में कैरियर बनायें। शिक्षा को बोझ न समझें बल्कि ज्ञान अर्जित करने का प्रयास करें।

मंत्री श्रीमती माया सिंह ने कहा छात्राएं परिवार, समाज और देश का नाम रोशन करें। उन्होंने कहा छात्र जीवन में समय प्रबंधन बहुत आवश्यक है। यदि हम समय प्रबंधन का पालन करते हैं तो अवश्य सफल होते हैं। इसलिए छात्राएं समय प्रबंधन का ध्यान रखें। उन्होंने कहा छात्राएं खूब पढ़ें। अपना लक्ष्य तय करें और आगे बढ़ें। कभी भी निराश न हों, मेहनत करते रहें।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए महापौर श्री विवेक नारायण शेजवलकर ने कहा आज वह समय बीत गया है जब महिलाओं को चारदीवारी में कैद रखा जाता था। आज महिलायें प्रत्येक क्षेत्र में आगे बढ़ रही हैं। उन्होंने देश की रक्षा मंत्री, विदेश मंत्री तथा खेल जगत में देश का नाम रोशन करने वाली महिलाओं का उदाहरण दिया।

महापौर श्री शेजवलकर ने महाविद्यालय की छात्राओं से कहा कि छात्राओं को शिक्षा प्राप्त करने का अवसर मिला है। छात्रायें ग्वालियर के प्रतिष्ठित महाविद्यालय में शिक्षा ग्रहण कर रही हैं, इसका सदुपयोग करें। वर्तमान में महिलाओं के लिये अच्छे अवसर हैं। इसलिये अपनी प्रतिभा को पहचानें और आगे बढें। उन्होंने कहा छात्राएं सभी क्षेत्रों में बढ़-चढ़कर भाग लें।

विजयाराजे शासकीय कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय में वार्षिकोत्सव का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में अकादमिक सत्र एवं वर्ष भर विभिन्न क्षेत्रों में अच्छा प्रदर्शन करने वाली छात्राओं को पुरस्कार वितरित किए गए। वार्षिकोत्सव कार्यक्रम में महाविद्यालय की छात्राओं ने सरस्वती वंदना कर अतिथियों का स्वागत किया। इसके साथ ही अनेक सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति महाविद्यालय की छात्राओं ने दी।

इस अवसर पर राज्य महिला आयोग की सदस्य श्रीमती प्रमिला वाजपेयी, जनभागीदारी अध्यक्ष श्री रामकुमार दीक्षित, एमआईसी सदस्य श्री धर्मेन्द्र राणा, जनभागीदरी के सदस्यगण, छात्र संघ पदाधिकारी, महाविद्यालय के प्राध्यापकगण एवं बड़ी संख्या में छात्राएं एवं उनके परिजन उपस्थित थे। महाविद्यालय की प्राचार्य श्रीमती सुशीला माहौर ने वार्षिक प्रगति प्रतिवेदन प्रस्तुत किया।

प्राचार्य श्रीमती सुशीला माहौर ने कहा वर्ष 1963 में स्थापित महाविद्यालय छात्राओं को शिक्षा प्रदान करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। महाविद्यालय शिक्षा के क्षेत्र में निरंतर आगे बढ़ रहा है और महाविद्यालय में शिक्षा ग्रहण करने वाली छात्राएं विभिन्न क्षेत्रों में अच्छा प्रदर्शन करके महाविद्यालय का नाम रोशन कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *