बिहार के जिला मुंगेर में पकडी गयी एके 47 राईफल का था जबलपुर से कनेक्शन

Spread the love

थाना गोरखपुर अपराध क्रमांक 588/18 धारा 25(1)(क),25(1)(1-क),25(1),25(1)क (क),  25(1 ख) (क) आर्म्स एक्ट एवं 34 आबकारी एक्ट

जबलपुर। थाना जमालपुर जिला मुंगेर बिहार में दिनांक 29.08.2018 को तीन एके 47 राइ्रफल के साथ एक आरोपी इमरान नाम का पकडा गया था और जानकारी प्राप्त हुयी थी कि पकडे गये आरोपी इमरान को किसी जबलपुर के व्यक्ति ने जमालपुर आकर तीन एके 47 राईफल व उसके कलपुर्जै उपलब्ध कराये थे। उक्त सूचना के आधार पर पुलिस महानिरीक्षक जबलपुर जोन, जबलपुर श्री अनंत कुमार सिंह (भा.पु.से.), पुलिस उप महानिरीक्षक जबलपुर रेंज श्री भगवत सिंह चौहान (भा.पु.से.), पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री  अमित सिंह (भा.पु.से.), के मार्गदर्शन में क्राईम ब्रान्च व थाना गोरखपुर की सयुक्त टीम को इस विषय पर जानकारी एकत्रित करने हेतु लगाया गया, साथ ही का्रईम ब्रांच की टीम जिला मुंगेर, कटनी, रीवा, भेजी गयी व सायबर सेल की मदद ली गयी  ।

दिनांक 05.09.2018 को विश्वसनीय मुखबिर की सूचना पर क्राईम ब्रान्च एवं गोरखपुर पुंलिस की टीम ने पंचशील नगर में दबिश दी जहॉ पर पुरूषोत्तम रजक व उसका बेटा शीलेन्द्र मिले, घर की तलाशी ली गयी जहॉ प्रतिबंधित बोर के तीन जिन्दा कारतूस ,राईफल स्प्रिंग ,राईफल के बट प्लेट, टिगर स्प्रिंग, टिगर क्लिप व राईफल सुधारने के अन्य औजार एवं 1 तलवार तथा 14 बाटल कीमती अग्रेजी शराब एवं 8 बॉटल बीयर की मिली।

आरोपी पुरूषोत्तम से लायसेन्स के संबंध में पूछताछ की ते कोई भी जानकारी नही होना बताया। जिस पर उपरोक्त प्रकरण पंजीबद्व कर राईफल के बारे में जानकारी पूछी गयी तो पुरूषोत्तम रजक ने बताया कि वह सेना में आर्मोर के पद से रिटायर हुआ है। 2012 से सीओडी गोदाम का कर्मचारी सुरेश ठाकुर उसे राईफल लाकर देता और वह उन्हे सुधार कर बिहार में बेचकर आता था। 2012 से अगस्त 2018 तक करीबन 70 एके 47 राईफल इस प्रकार बेचना स्वीकार किया है।

जिसमें दिनांक 29.08.2018 को कटनी से पत्नि के साथ ट्रेन में बैठकर जमालपुर बिहार गया था वहा से लौटते समय एके 47 पकडे जाने की खबर मिली जिस पर वह फोन लगाकर लडके शीलेन्द्र से घर पर रखे हुये पैसे और अन्य साक्ष्य मिटाने हेतु कहा। दिनांक 01.09.2018 को रात में अपनी पत्नि व शीलेन्द्र के साथ मण्डला रोड में गौर नदी के पुल के उपर से एके 47 राईफल के कलपुर्जे नदी में फैकना बताया है। पुरूषोत्तम के बताये अनुसार सुरेश ठाकुर के घर की तलाशी ली गयी जहॉ प्रतिवंधित बोर के दो कारतूस ब्रिकी की रकम व अन्य साक्ष्य मिलें है। सुरेश ठाकुर को गिरफ्तार कर विवेचना की जा रही है।

अभी तक जॉच में पाया गया कि पुरूषोत्तम रजक आरमोरर था जिसको राईफल बनाने व रखरखाव का ज्ञान था। सुरेश ठाकुर सीओडी गोदाम से खराब एके 47 राईफल एवं पुरूषोत्तम की मांग के अनुसार कलुपुर्जे उपलब्ध कराता था व खराब कलपुर्जे सीओडी गोदाम में वापिस रख देता था। इस कार्य में पुरूषोत्तम की पत्नि व बेटे उसका सहयोग करते थे। बिहार पुलिस की टीम भी जबलपुर आयी हुयी है और सयुक्त रूप से विवेचना में सहयोग कर रही है। पुरूषोत्तम ने अर्जित की गयी राशि, से इनोवा कार, कृष्णा हाईट्स मे फलैट व अन्य संपत्ति खरीदी है। इसी प्रकार सुरेश ठाकुर द्वारा भी कई्र संपत्ति आर्जित की है। खरीदी गयी उपरोक्त सम्पत्ति को भी  राजसात कराया जायेगा, साथ ही इनकमटैक्स विभाग को भी सूचना दी गयी है। उपरोक्त तीनों गिरफ्तार आरोपियो को मान्नीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जाकर पुलिस रिमाण्ड पर लिया गया है। फरार, पुरूषोत्तम की पत्नि चंद्रवती रजक की तलाश पतासाजी हेतु टीमें रवना की गयी है।

आरोपियों की गिरफ्तारी एवं पूछताछ कर बरामदगी में अति. पुलिस अधीक्षक अपराध   श्री शिवेश सिंह बघेल, क्राइ्रम ब्रान्च से डीसीपी राजीव चतुर्वेदी, स.उ.नि. रामस्नेही शर्मा, अमरीश पाण्डे, प्रधान आरक्षक धनंजय सिंह, विजय शुक्ला, सुशील, आरक्षक राजेष पाण्डेय की टीमो, सायबर सेल से उपेन्द्र ,बंदित, आदित्य व थाना प्रभारी गोरखपुर श्री संदीप आयची, उप निरीक्षक हेंमत यादव, संतोष पाण्डेय,  अनिल, आरक्षक सुनील, सतीष आदि की सहारहीन भूमिका रही है। पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री अमित सिंह (भा.द.वि.) ने टीम को पुरूस्कृत करने की घोषणा की है।

गिरफ्तार आरोपी –

  • 1-पुरुषोत्तम रजक पिता रामदुलारे रजक उम्र 51 निवासी पंचशील नगर थाना गोरखपुर 
  • 2-शीलेन्द्र पिता पुरूषोत्तमलाल रजक उम्र 24 वर्ष निवासी पंचशील नगर थाना गोरखपुर 
  • 3-सुरेश ठाकुर पिता बालकिशन ठाकुर उम्र 55 वर्ष निवासी जय प्रकाश नगर अधारताल

 फरार आरोपी – चंद्रवती रजक पति पुरूषोत्तम रजक

जप्ती :-  05 नग प्रतिबंधित बोर के कारतूस, राइफल सुधारने के उपकरण, राइफल सुधारने की डायरी, इनोवा कार ,इंडिका कार, आई 10 कार, स्कूटी, मेगजीन व स्प्रिंग, बट, ट्रिगर ग्रिप, 14 नग कीमती शराब की बॉटल एवं 8 बॉटल बीयर, पुरूषोत्तम से 05 लाख, शीलेन्द्र से 78 हजार, सुरेश ठाकुर से 06 लाख रूपये आदि जप्त ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *