पीएम मोदी का महागठबंधन पर बड़ा हमला, नीति अस्पष्ट व नीयत भ्रष्ट नेतृत्व का पता नहीं

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com/

पीएम नरेंद्र मोदी ने कार्यकारिणी के सीनियर नेताओं में भरा उत्साह, कहा- जब काम की बात आएगी तो 48 साल एक परिवार के व 48 माह हमारी सरकार के शासनकाल के कार्यों की चर्चा होगी, इसीलिए विपक्ष लगातार बोल रहा झूठ.

भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीनियर नेताओं का उत्साह बढ़ाया। पीएम मोदी ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव को लेकर हमें कोई चुनौती नजर नहीं आती। हमलोगों को केवल विपक्ष की ओर से फैलाए जा रहे झूठ का पर्दाफाश करना होगा। पीएम मोदी ने साफ कहा कि जब काम गिनाने की बात आएगी तो विपक्ष कहीं नहीं टिकेगा। इसलिए झूठे मुद्दों को उछाला जा रहा है। हम लोगों के बीच तथ्यों के साथ जाएं। लोगों को सही चीज की जानकारी दें। लोगों का भरोसा हम पर है। उसे हमें टूटने नहीं देना है। पीएम मोदी ने बैठक में अजेय भारत-अटल भाजपा का नारा दिया।

कांग्रेसी शासनकाल की चर्चा करते हुए कहा कि एक पार्टी के 48 साल के शासनकाल में देश में क्या काम हुआ और हमारे 48 माह के शासनकाल में क्या काम हुआ है, जनता के बीच हमें उसी को लेकर जाना है। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि विपक्ष पहले एक झूठ बोलता है। फिर उसको साबित करने के लिए झूठ पर झूठ बोलता चला जाता है। हमें उस झूठ के पीछे का सच जनता के सामने लाना होगा। इसके लिए हम सबको मिलकर काम करना होगा। विकास को आधार बनाकर हम आगे बढ़ रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि हम सत्ता को कुर्सी के रूप में नहीं देखते बल्कि सत्ता को जनता के बीच में काम करने का उपकरण समझते हैं।

महागठबंधन पर हमला बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जो लोग एक दूसरे के साथ रह नहीं सकते। एक दूसरे के साथ चल नहीं सकते। वे केवल हमारे विरोध के लिए एकजुट हो गए हैं। जो लोग एक दूसरे को देख नहीं सकते, एक साथ चल नहीं सकते आज वो लगे लगने को मजबूर हैं। ऐसे लोगों से अधिक घबराने की जरूरत नहीं है। महागठबंधन के बारे में पीएम मोदी ने तीन बड़ी बातें कहीं। महागठबंधन में नेतृत्व का पता नहीं है। उनकी नीति अस्पष्ट है और नीयत भ्रष्ट है। भाजपा की नीति सबका साथ सबका विकास है। हम आयुष्मान भारत जैसी योजना लेकर आते हैं, जो सबको स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने का प्रयास करेगी।

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में मौजूद नेतागण. (फोटो : ट्विटर)

कांग्रेस के बारे में कहा कि छोटे-छोटे राजनीतिक दल ही कांग्रेस की ताकत हैं, लेकिन इस पार्टी के नेता उन्हें बोझ मानते हैं। छोटे दलों के नेतृत्व को कांग्रेस पार्टी तबज्जो नहीं देती। वहीं राहुल गांधी का नेतृत्व ये दल स्वीकार करने को तैयार नहीं हैं। हम 125 करोड़ लोगों की ताकत को साथ लेकर चल पड़े हैं। हम एक-एक पोलिंग बूथ पर जीतने की रणनीति तैयार करेंगे। हमारे कार्यकर्ताओं को बूथ स्तर से ऊपर की बात नहीं सोचनी चाहिए। जिनको जिस चीज की जिम्मेदारी है, उसे ही पूरा कराना है। महागठबंधन में न कोई विचारधारा है, न समन्वय है और न लोगों का विश्वास है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित करते हुए अपने भाषण में अटल जी को भावभीनी श्रद्धांजलि दी। पीएम मोदी ने कहा है कि अटल जी ने भाजपा के विचार, संस्कार व भाजपा के नेतृत्व को एक नई ऊंचाई दी। उन्होंने कहा कि आज हमारा सूरज तो चला गया, लेकिन हम जो सितारें है वो इतना चमके की विचारधारा के प्रकाश को आगे बढ़ाएं। हमारे साथ नौ करोड़ कार्यकर्ताओं का समूह है। हमने 2014 के बाद से कोई विश्राम नहीं किया है। हमारे सभी कार्यकर्ता जब निकलेंगे तो हर घर तक उनकी पहुंच होगी। हमें अपना काम ही गिनाना है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने पीएम नरेंद्र मोदी के राष्ट्रीय कार्यकारिणी में संबोधन की जानकारी दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *