सऊदी में एेतिहासिक बदलावः पहली बार महिलाओ के लिए निकली ये नौकरियां

Spread the love

दुबईः प्रिंस सलमान अपने विजन 2030 के तहत के तहत सऊदी अरब में जहा तेल-गैस और हज यात्रा से होने वाली आमदनी पर निर्भरता कम करना चाहते हैं वहीं वे अर्थव्यवस्था को विविधता देने के लिए मैन्युफैक्चरिंग और सर्विस सेक्टर्स को बढ़ावा भी देना चाहते हैं। विजन 2030 के तहत ही सऊदी अरब में एेतिहासिक बदलाव की बयार चल रही है और पहली बार महिलाओं के लिए पायलट और फ्लाइट अटेंडेंट जैसी नौकरियों की भर्ती निकली हैं।

रियाद की फ्लाइनास एयरलाइन ने एविएशन के क्षेत्र में भी महिलाओं की पहुंच बढ़ाने के मकसद से यह कदम उठाया। बुधवार को भर्ती का नोटिफिकेशन जारी होने के 24 घंटे के अंदर ही देशभर की एक हजार से भी ज्यादा महिलाओं ने पदों के लिए आवेदन भेज दिए।फ्लाइनास के प्रवक्ता ने कहा कि उनकी कंपनी सऊदी में चल रहे बदलावों में महिलाओं को भी अहम हिस्सेदार बनाना चाहती हैं। एयरलाइंस की सफलता में महिलाओं का अहम किरदार होता है।
विजन 2030 का असर: प्रिंस सलमान अपने विजन 2030 के तहत के तहत सऊदी अरब तेल-गैस और हज यात्रा से होने वाली आमदनी पर निर्भरता कम करना चाहते हैं। साथ ही वे अर्थव्यवस्था को विविधता देने के लिए मैन्युफैक्चरिंग और सर्विस सेक्टर्स को बढ़ावा भी देना चाहते हैं। माना जा रहा है कि प्रिंस ज्यादा से ज्यादा लोगों को अर्थव्यवस्था का हिस्सा बनाना चाहते हैं। इससे देश की उत्पादकता में भी बढ़ोतरी होगी। हालांकि, देश के कई कट्टरपंथी संगठनों ने प्रिंस के इन प्रयासों की आलोचना भी की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *