जबलपुर : पत्नि एवं पत्नि के प्रेमी ने गला घोंट कर की थी हत्या, दोनो आरोपी गिरफ्तार

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

जिला ब्यूरो चीफ जबलपुर // प्रशांत वैश्य : 79990 57770

जबलपुर। थाना माढेताल मे दिनॉक 30-9-18 को आशीष चढार उम्र 18 वर्ष निवासी पडवार कला ने सूचना दी थी कि आज सुबह 4 बजे मॉ द्वारा पिता को आवाज लगाने पर उसके पिता रमाशंकर चढार उम्र 38 वर्ष नही उठे तो मॉ के द्वारा जानकारी देने पर अपने पिता को देखने पहुचा तो देखा कि कमरे मे पिता बिस्तर में पडे थे जिनकी मृत्यु हो चुकी थी। 

गले में खंरोच का निशान है, घुटने मे भी हल्का छिला हुआ है। सूचना पर पहुची पुलिस के द्वारा एफ.एस.एल. टीम की उपस्थिति में पंचनामा कार्यवाही कर  घटित हुंई घटना से वरिष्ठ अधिकारियें को अवगत कराते हुये शव को पीएम हेतु भिजवाते हुये मर्ग कायम कर जांच में लिया गया।

घटना स्थल के निरीक्षण पर मृतक की मृत्यु संदिग्ध परिस्थितियों में होना प्रतीत हो रही थी, पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री अमित सिंह (भा.पु.से.) के मार्ग दर्शन में  अति. पुलिस अधीक्षक शहर डॉ संजीव उइके, एवं न.पु.अ. कोतवाली श्री दीपक मिश्रा एवं नगर पुलिस अधीक्षक अधारताल श्री कौशल सिंह के मार्ग निर्देशन मे थाना प्रभारी माढेताल परिवीक्षाधीन उप पुलिस अधीक्षक श्री अखिलेश गौर के नेतृत्व में गठित टीम को पतासाजी हेतु लगाया गया,।  मेडिकल कालेज से पीएम रिपोर्ट प्राप्त की गयी जिसमें डाक्टर द्वारा मृतक रमाशंकर चढार की मृत्यु गला घोंटने से होना लेख किया गया जिस पर दिनॉक 1-10-18 को हत्या का प्रकरण कायम कर विवेचना मे लिया गया।

टीम के द्वारा मृतक की पत्नि अंजू उर्फ सुमन चढार से पूछताछ की गयी तो सुमन ने बताया कि  वह दोपहर 2 बजे गॉव में सुरेन्द्र तिवारी  के खेत में घास काटने गयी थी शाम 5 बजे घर वापस लौटी थी, रात 9 बजे पति रमाशंकर जो पान की दुकान चलाते है घर आये थे, एवं कुछ ही देर बाद गॉव से अभी आता हूॅ कहकर गॉव तरफ चले गये थे। वह थकी हुई थी दरवाजा उडकाकर सो गयी थी रात 11 बजे करीब पति रमाशंकर के  घर  आने की आहट मिली थी, जो आने के बाद सो गये थे।  सुबह 4 बजे बाहर जाने के लिये उसने पति रमाशंकर को उठाया जो नहीं उठे तो  बाजू वाले कमरे में सो रहे बेटे को जानकारी दी।

सूचनाकर्ता बेटे आशीष चढार से पूछताछ की गयी तो आशीष चढार ने बताया कि वह गॉव मे ही रिलायंस स्टोर मे ट्रक में लोडिंग/अनलोडिंग का काम करता है, हमेशा देर रात वापस लौटता है, दिनॉक 30-9-18 को रात 2 बजे घर वापस लौटा था हमेशा की तरह बाहर रखी चाबी से बाजू वाले कमरे का ताला खोलकर सोने की तैयारी कर रहा था तभी देखा कि गॉव का सुरेन्द्र तिवारी उसकी मॉ के कमरे से निकलकर बाहर चला गया। उसकी मॉ अंजू उर्फ सुमन चढार सुरेन्द्र तिवारी के घर पर घरेलू काम करती है, उसकी मॉ एवं सुरेन्द्र तिवारी के बीच मधुर सम्बंध थे।

यह जानकारी लगते ही सुरेन्द्र तिवारी को अभिरक्षा मे लेते हुये सघन पूछताछ की गयी तो सुरेन्द्र तिवारी ने बताया कि गॉव की अंजू उर्फ सुमन चढार  उसके घर पर काम करने आती थी, जिसने बताया कि पति रमाशंकर चढार  उस पर शंका करता है कि मेरे तुमसे नाजायज सम्बंध है, आये दिन परेशान करता है। उसने सुमन चढार के साथ मिलकर रमाशंकर चढार को मारने की योजना बनाई, योजना के मुताबिक रात लगभग 12 बजे पहुचा तो रमाशंकर चढार जाग गया जो उससे विवाद करने लगा, उसी समय सुमन चढार ने अपने पति को पीछे से पकड लिया, तो उसने गला दबाकर हत्या दी, और वहॉ से चला गया।

उल्लेखनीय है कि सुरेन्द्र तिवारी उम्र 36 वर्ष निवासी पडवारकला ने अभी शादी नही की है, पिछले लगभग 10 वर्षो से अंजू उर्फ सुमन चढार सुरेन्द्र तिवारी के घर पर काम करने जा रही थी, सुरेन्द्र तिवारी एवं अंजू उर्फ सुमन चढार के नाजायज सम्बंध थे, पति रमाशंकर चढार शराब पीने का आदि था, आये दिन नाजायज सम्बंध की बात को लेकर पत्नि को परेशान एवं मारता पीटता था।

अधे कत्ल का खुलासा एंव आरोपी की गिरफ्तारी में थाना प्रभारी माढेताल उप पुलिस अधीक्षक परिवीक्षाधीन श्री अखिलेश गौर, उनि रविकरण सिंह, सरिता पटेल, सउनि मनोज चौधरी, महिला प्रधान आरक्षक सरोज सेन, प्रधान आरक्षक पंचम लाल आरक्षक जितेन्द्र यादव, महेश पाण्डे, एवं न.पु.अ. कोतवाली के सम्पत्ति स्क्वाड के सउनि संतराम बागरी, आरक्षक रामलाल कुशवाहा, पंकज सनोडिया, शुभम पटेल की उल्लेखनीय भूमिका रही। पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री अमित सिंह (भा.पु.से.) ने टीम को नगद पुरूस्कार से पुरूस्कृत करने की घोषणा की है।

 पंजीबद्ध अपराध –  थाना माढोताल अपराध क्रमांक  372 /18 धारा 302, 450, 34 भा.द.वि. 3(2)(5) एस.सी./एस.टी एक्ट

नाम मृतक –

रमाशंकर चढार पिता स्व. दशरथ चढार उम्र 38 वर्ष निवासी पडवारकला

(मृतक गॉव के पास ही रोड पर चाय पान का ठेला लगाता था)

गिरफ्तार आरोपी –

1   सुरेन्द्र तिवारी पिता जागेश्वर तिवारी उम्र 36 वर्ष निवासी पडवारकला

(गॉव में ही डेरी का धंधा एंव खेती किसानी करता है। )

2- श्रीमति अंजू उर्फ सुमन पति स्व. रमाशंकर चढार उम्र 30 वर्ष निवासी पडवारकला

(मृतक की पत्नि है, आरोपी सुरेन्द्र तिवारी के घर पर काम करने जाती थी। )


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *