विधायक मुनमुन ने की किसान परिवार से धोखाधड़ी : खुराना

Spread the love

ANI NEWS INDIA @  http://aninewsindia.com

सिवनी । मृत किसान के परिजनों को दस लाख रूपये की राशि दिलाये जाने की घोषणा के बाद भी किसान के परिजनों को अब तक राशि नहीं मिल पायी है। सिवनी विधायक दिनेश राय के द्वारा किसानों के साथ धोखाधड़ी की गयी है। उक्ताशय के आरोप जिला काँग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राज कुमार खुराना ने लगाये हैं।

जिला काँग्रेस कमेटी के प्रवक्ता जकी अनवर खान द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार सरकारी और प्रशासनिक लापरवाही के चलते आत्म हत्या करने वाले किसान स्वर्गीय संत कुमार सनोडिया के परिजनों को 10 लाख रूपये की सहायता राशि दिये जाने की घोषणा के बाद ग्रामीणों एवं किसानों का आंदोलन समाप्त करवा लेने के बादविधायक दिनेश राय के द्वारा मृतक के अंतिम संस्कार के समय ग्राम भण्डारपुर उपस्थित जन समुदाय के बीच यह घोषणा की गयी थी कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से उनकी बात हो चुकी है और 03 अक्टूबर को सहायता राशि 10 लाख का एक मुश्त चैक मृतक किसान के परिवार को दे दिया जायेगा।

विज्ञप्ति में जिला काँग्रेस अध्यक्ष राज कुमार खुराना ने आरोप लगाया है कि 05 अक्टूबर को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के सिवनी प्रवास के दौरान सहायता राशि के संबंध में कोई कार्यवाही नहीं की गयी और आज तक मृतक संत कुमार सनोडिया के परिजनों को सहायता राशि प्रदान नहीं की गयी है।

विज्ञप्ति के अनुसार प्रशासनिक सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार शासन से 05 लाख रूपये ही स्वीकृत किये गये हैं। उक्त घटना क्रम को अत्याधिक दुर्भाग्यपूर्ण एवं किसान विरोधी बताते हुए जिला काँग्रेस अध्यक्ष राज कुमार खुराना ने इसे विधायक दिनेश रायशासन – प्रशासन के द्वारा की गयी धोखाधड़ी निरूपित किया है।

बताया गया है कि स्व.संत कुमार सनोडिया की आत्म हत्या के बाद किसानों में भारी रोष व्याप्त थाजिसे लेकर किसानों ने बटवानी चौक पर लगभग पाँच घण्टो तक जिला काँग्रेस कमेटी के नेत्तृत्व में आंदोलन किया था। किसानों के रोष को देखते हुए विधायक दिनेश राय के द्वारा प्रदेश सरकार से तत्काल 05 लाख रूपये की आर्थिक सहायता और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के 05 अक्टूबर को सिवनी आगमन पर 05 लाख रूपयेइस प्रकार कुल 10 लाख रूपये की आर्थिक सहायता राशि की घोषणा की गयी थी।

विज्ञप्ति के अनुसार परन्तु मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के सामने इस संबंध में कार्यवाही करने के स्थान पर संत कुमार को आत्महत्या के लिये उकसाने की घटना की जाँच के नाम पर किसान तथा जनता को गुमराह करने का प्रयास किया जा रहा है। इस प्रकार स्वयं को किसान पुत्र ओैर अपने आपको किसानों का मसीहा बताने वाले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और क्षेत्रीय विधायक श्री राय ने जहाँ एक ओर आत्महत्या की घटना को साजिश बताकर जाँच कराने की बात कहकर उसके मुआवजे के अधिकार को कमजोर किया वहीं दूसरी ओर मृतक के परिवार वालों को सांत्वना के लिये दो शब्द कहना भी आवश्यक नहीं समझा।

विज्ञप्ति के अनुसार यह पूरा प्रकरण मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं विधायक दिनेश राय के किसान विरोधी आचरण को प्रमाणित करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *