भारतीय जनता पार्टी की ऐसी विजय होनी चाहिए जो पूरे हिन्दुस्तान में पार्टी का झंडा शान से बुलंद करने की नींव बने: अमित शाह

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज बी.टी.आई. ग्राउंड, रीवा रोड, सतना में कमल शक्ति अभियान के अंतर्गत महिला सम्मेलन और एस.ए.एफ. ग्राउंड, गुढ़ रोड, रीवा में शहडोल एवं रीवा संभाग के 7 जिलों के बूथ स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित किया। 

श्री शाह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की ऐतिहासिक जीत के मूल में कार्यकर्ताओं के परिश्रम की पराकाष्ठा निहित है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी नेताओं के आधार पर नहीं, कार्यकर्ताओं के आधार पर चुनाव जीतती है। उन्होंने कहा कि भाजपा विश्व की अकेली ऐसी पार्टी है जहां बूथ स्तर पर काम करने वाला व्यक्ति पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बन सकता है और एक अत्यंत गरीब परिवार में जन्म लेने वाला देश का प्रधानमंत्री।

उन्होंने कहा कि हमारे मनीषी तपस्वियों ने विचारधारा और सिद्धांत से समझौता न करते हुए देश के मंगल भविष्य के लिए पांच पीढ़ियों तक निरंतर संघर्ष किया और इसी का परिणाम है कि 10 सदस्यों के साथ शुरू होने वाली पार्टी आज 11 करोड़ से अधिक सदस्यों के साथ विश्व की सबसे बड़ी राजनीतिक दल बन गई है। उन्होंने कहा कि आज देश के 19 राज्यों में हमारी सरकारें हैं, लगभग 1700 से अधिक विधायक हैं, लगभग 330 सांसद हैं और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र में भारतीय जनता पार्टी की पूर्ण बहुमत की सरकार है।

उन्होंने कहा कि हमें इस विजय यात्रा को इसी तरह अनवरत जारी रखते हुए मध्य प्रदेश में हर बूथ में कमल खिलाने के लिए तत्पर हो जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस बार मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की ऐसी विजय होनी चाहिए जो पूरे हिन्दुस्तान में भारतीय जनता पार्टी का झंडा शान से बुलंद करने की नींव बने ताकि अगले 50 सालों तक पंचायत से लेकर पार्लियामेंट तक कोई भी भाजपा को पराजित न कर पाए। “अबकी बार, 200 पार।”

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी जब-जब, जिस-जिस प्रदेश में सत्ता में आई, हमने वहां की बुनियादी सुविधाओं को बेहतर करने पर ध्यान दिया, क़ानून-व्यवस्था सुदृढ़ की और विकास की नई योजनाओं की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में भी विगत 15 सालों से भारतीय जनता पार्टी सरकार जनता की सेवा में लगी हुई है। उन्होंने प्रदेश की जनता को कांग्रेस की श्रीमान बंटाधार सरकार के समय राज्य की स्थिति को याद कराते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी की शिवराज सिंह सरकार ने प्रदेश की स्थिति में आमूल-चूल बदलाव लाया है और यह परिवर्तन हर शहर, हर गाँव, हर घर में दिख रहा है।

उन्होंने कहा कि जब मध्य प्रदेश में जनता ने कांग्रेस की श्रीमान बंटाधार सरकार की विदाई की तब राज्य की केवल 7.5 लाख हेक्टेयर भूमि ही सिंचित थी लेकिन भारतीय जनता  पार्टी के 15 वर्षों के शासनकाल में सिंचित भूमि का रकबा बढ़ कर 40 लाख हेक्टेयर तक पहुँच गई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार किसानों को खेती के लिए महज 3-4 घंटे बिजली देती थी जबकि शिवराज सिंह जी की सरकार ने किसानों को खेती के लिए 10 घंटे बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित की है, इतना ही नहीं, अब गाँवों में 24 घंटे बिजली पहुंचाई जा रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार के समय मध्य प्रदेश का बजट मात्र 20 हजार करोड़ रुपये का होता था, आज यह बजट बढ़ कर दो लाख करोड़ रुपये तक पहुँच गया है।

 प्रदेश का सकल घरेलू उत्पाद (जीएसडीपी) कांग्रेस के समय एक लाख करोड़ रुपये होती थी जो सात गुना बढ़ कर भाजपा सरकार के 15 वर्षों में सात लाख करोड़ रुपये हो गई है। प्रति व्यक्ति आय में भी पांच गुने से अधिक की वृद्धि हुई है, सड़कें 44 हजार किमी से बढ़ कर लगभग डेढ़ लाख किलोमीटर हो गई है और खाद्यान्न उत्पादन में भी कांग्रेस सरकार की तुलना में काफी बढ़ोत्तरी हुई है। उन्होंने कहा कि विकास के सभी मापदंडों पर और हर क्षेत्र में भारतीय जनता पार्टी की शिवराज सिंह सरकार ने कांग्रेस सरकार की तुलना में कई गुना बेहतर कार्य किया है। श्री शाह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के शासनकाल में राज्य के हर गाँव में 24 घंटे बिजली, हर घर में गैस, हर घर में शौचालय, हर गाँव तक सड़क और पीने का पानी पहुंचा है।

उन्होंने कहा कि किसानों की आय को दुगुना करने के लक्ष्य की दिशा में मजबूती से कदम उठाते हुए मोदी सरकार ने फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य को लागत मूल्य का डेढ़ गुना करने का निर्णय लिया है। साथ ही गरीबों के स्वास्थ्य की चिंता करते हुए आयुष्मान भारत योजना भी लागू की गई है ताकि गरीबों को प्रतिवर्ष पांच लाख रुपये तक की स्वास्थ्य सुविधाएं मुफ्त मिल सके। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान सरकार गेहूं पर न्यूनतम समर्थन मूल्य देने के साथ-साथ प्रति क्विंटल 200 रुपये बोनस के तौर पर अलग से दे रही है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस की यूपीए सरकार के दौरान 13वें वित्त आयोग में मध्य प्रदेश को विकास के लिए जहां केवल 1,34,190 करोड़ रुपये की राशि दी थी जबकि मोदी सरकार ने 14वें वित्त आयोग में प्रदेश के लिए लगभग 3,44,126 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की है। इसके अतिरिक्त केन्द्रीय योजनाओं में मोदी सरकार ने अलग से मध्य प्रदेश को लगभग 57,000 करोड़ रुपये दिए हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने मध्य प्रदेश की जनता को ससम्मान उनका अधिकार देने का कार्य किया है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने पिछले साढ़े चार साल में औसतन हर 15 दिन में एक नई योजना की शुरुआत की है और खुद मॉनिटरिंग कर इसका सुचारू रूप से क्रियान्वयन सुनिश्चित किया है। श्री शाह ने कहा कि देश की मातृशक्ति ने दुनिया में भारतवर्ष के मान-सम्मान को बढ़ाने

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *