आचार संहिता के उल्लंघन के 175 प्रकरणों में एफआईआर दर्ज 23 हजार 800 बैनर-पोस्टर और दीवार पर लिखे नारे हटाए गए

Spread the love

ANI NEWS INDIAhttp://aninewsindia.com

जिला ब्यूरो चीफ जबलपुर // प्रशांत वैश्य : 79990 57770

जबलपुर 18 अक्टूबर, 2018. जैसे-जैसे विधानसभा चुनाव की तारीख नजदीक आ रही है जिले में आदर्श आचार संहिता और सम्पत्ति विरूपण अधिनियम का उल्लंघन रोकने गठित किए गए एमसीसी, एफएसटी, एसएसटी और व्हीएसटी  दलों की निर्वाचन नियमों का पालन कराने की जा रही कार्यवाही में भी तेजी आने लगी है।  

जिला निर्वाचन कार्यालय के अनुसार विधानसभा चुनाव की घोषणा होने के बाद से जिले में सम्पत्ति विरूपण अधिनियम का पालन कराने की गई कार्यवाही के तहत अभी तक सार्वजनिक एवं निजी सम्पत्तियों से 23 हजार 874 स्थानों से बैनर, पोस्टर और दीवार पर लिखे गए नारों को हटाया गया है। इस कार्यवाही में बारह मामलों में सम्पत्ति विरूपण अधिनियम के तहत प्रकरण भी दर्ज किए गए। इसके पांच प्रकरण निजी सम्पत्तियों के विरूपण से सम्बन्धित हैं।

उप जिला निर्वाचन अधिकारी नम: शिवाय अरजरिया के मुताबिक जिला प्रशासन द्वारा गठित एमसीसी, एफएसटी, एसएसटी और व्हीएसटी दलों द्वारा आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के अभी तक 482 प्रकरण दर्ज किए गए हैं तथा 175 प्रकरणों में एफआईआर कराई गई है।  उन्होंने बताया कि  आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के दर्ज मामलों में 308 मामले वाहनों से काली फिल्म, स्टीकर, डिजाइनर नम्बर प्लेट, हूटर आदि हटाने से सम्बन्धित थे। इसमें से एक प्रकरण में एफआईआर भी दर्ज कराई गई है। कोलाहल नियंत्रण अधिनियम का उल्लंघन करने के दो तथा मतदाताओं को प्रलोभन देने का एक प्रकरण भी उन मामलों में शामिल हैं जिनमें एफआईआर दर्ज कराई गई है ।

उप जिला निर्वाचन अधिकारी के मुताबिक शासकीय, सार्वजनिक अथवा निजी सम्पत्ति के विरूपण को हटाने की अभी तक की गई कार्यवाही के तहत सर्वाधिक 6 हजार 16 बैनर-पोस्टर एवं दीवार पर लिखे नारे विधानसभा क्षेत्र जबलपुर पूर्व से हटाए गए हैं। जबकि आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के सर्वाधिक 120 प्रकरण सिहोरा विधानसभा क्षेत्र में दर्ज किये गये हैं और इसी विधानसभा क्षेत्र में सबसे ज्यादा 26 प्रकरणों में एफआईआर कराई गई है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *