राम मंदिर निर्माण का वादा पूरा करने में विफल रहने पर स्वामी परमहंस ने आत्मदाह की धमकी दी

Spread the love

अयोध्या में तपस्वी छावनी मंदिर के महंत स्वामी परमहंस दास ने चेतावनी दी है कि अगर अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की आधिकारिक घोषणा नहीं होती है तो वह छह दिसम्बर को आत्मदाह करेंगे।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पांच दिसम्बर तक इसकी घोषणा करें।

परमहंस अयोध्या में मोदी सरकार द्वारा राम मंदिर निर्माण के लिए कानून बनाने की मांग करते हुए छह अक्टूबर से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठे थे। एक हफ्ते की भूख हड़ताल के बाद परमहंस को पुलिस ने हिरासत में ले लिया और उनकी मुलाकात लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से कराई गई जिन्होंने उन्हें भूख हड़ताल छोड़ने के लिए मनाया। यह दावा संत ने किया।

परमहंस ने कहा, ‘‘जब सरकार ने मुझ पर अनशन खत्म करने के लिए दबाव बनाया तो मुख्यमंत्री ने वादा किया था कि वह जल्द ही राम मंदिर निर्माण की तारीख घोषित करेंगे। उन्होंने मेरी बात प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से कराने का वादा किया जहां मैं निजी तौर पर अपनी मांगें रख सकता हूं लेकिन कुछ नहीं किया गया।’’

महंत ने कहा, ‘‘मैं मोदी सरकार को अयोध्या में राम जन्मभूमि मंदिर बनाने पर कदम उठाने के लिए एक महीने का वक्त देता हूं। इस बार पार्षद से लेकर भारत के राष्ट्रपति तक भारतीय जनता पार्टी से हैं लेकिन वे राम मंदिर के लिए कुछ नहीं कर रहे हैं।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *