एम.सी.एम.सी. कमेटी ने किया 109 विज्ञापनों का सर्टिफिकेशन, 22 शिकायतों का भी किया निराकरण 

Spread the love

ANI NEWS INDIA http://aninewsindia.com

जिला ब्यूरो चीफ जबलपुर // प्रशांत वैश्य : 79990 57770

जबलपुर, विधानसभा चुनाव के दौरान पेड न्यूज के प्रकाशन एवं प्रसारण पर नजर रखने तथा कलेक्ट्रॉनिक एवं प्रिट मीडिया में प्रसारित एवं प्रकाशित किये जाने वाले विज्ञापनों के प्रमाणन के लिए गठित जिला स्तरीय मीडिया प्रमाणन एवं मीडिया अनुवीक्षण समिति (एमसीएमसी) ने मतदान के दिन तक कुल 109 विज्ञापनों का सर्टिफिकेशन किया । इसके अलावा इस समिति ने सोशल मीडिया पर आदर्श आचार संहिता और निर्वाचन नियमों के उल्लंघन की मिली 22 शिकायतों का निराकरण भी किया ।

एमसीएमसी समिति के सदस्य सचिव एवं नगर निगम के अपर आयुक्त जनसंपर्क रोहित कौशल के मुताबिक जिला स्तरीय एमसीएमसी प्रकोष्ठ में विभिन्न विभागों के सभी श्रेणी के करीब 60 अधिकारियों-कर्मचारियों की टीम ने विधानसभा चुनाव की घोषणा होने के साथ ही कार्य करना शुरू कर दिया था । श्री कौशल ने बताया कि एमसीएमसी प्रकोष्ठ ने कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती छवि भारद्वाज की अध्यक्षता में गठित एमसीएमसी समिति के मार्गदर्शन में मतदान के दिन तक करीब पौने दो माह की अवधि में 24 घंटे इलेक्ट्रॉनिक एवं सोशल मीडिया पर प्रसारित खबरों एवं विज्ञापनों पर नजर रखी ।

सोशल मीडिया पर नजर रखने के लिए प्रकोष्ठ में आई.टी. एक्सपर्ट को शामिल किया गया था । विधानसभा चुनाव के दौरान एफ.एम. रेडियो एवं मोबाईल सेवा प्रदाताओं के माध्यम से उम्मीदवारों द्वारा जारी राजनैतिक विज्ञापन, संदेश, जिंगल्स पर भी नजर रखने अलग- अलग सदस्यों को तैनात किया गया था ।

एमसीएमसी प्रकोष्ठ के प्रभारी अधिकारी एवं संभागीय बाल भवन के संचालक गिरीश बिल्लौरे ने बताया कि जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती छवि भारद्वाज एवं एमसीएमसी समिति के नोडल अधिकारी अपर कलेक्टर व्ही.पी. द्विवेदी के कुशल मार्गदर्शन में अधिकारियों-कर्मचारियों द्वारा लगन और निष्ठा से किये गये कार्यों का ही परिणाम था कि निर्वाचन आयोग के प्रेक्षकों ने भी एमसीएमसी प्रकोष्ठ के कामकाज को काफी सराहा तथा न्यूज चैनलों, केबल नेटवर्क, एफ.एम. रेडियो, सोशल मीडिया तथा पिं्रट मीडिया पर निगरानी तथा रिकार्ड कीपिंग की व्यवस्था की तारीफ की । क्रमांक-2586/दिसंबर-29/जैन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *